सरकार का दशहरा-दिवाली गिफ्ट, KVP, MIS, SCSS जैसी स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स पर ब्याज दरें बढ़ाईं

5 स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स, जिन पर मिलने वाली आय कर योग्य होती है, पर ब्याज दरों में 0.3 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है.

सरकार का दशहरा-दिवाली गिफ्ट, KVP, MIS, SCSS जैसी स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स पर ब्याज दरें बढ़ाईं

Friday September 30, 2022,

3 min Read

सरकार ने कुछ स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स (Small Savings Scheme) पर अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के लिए ब्याज दरों में 0.3 प्रतिशत तक की वृद्धि की है. अर्थव्यवस्था में इस समय ब्याज दरें मजबूत हो रही हैं, जिसके मद्देनजर सरकार ने यह कदम उठाया है. हालांकि नौकरीपेशा लोगों के बीच लोकप्रिय बचत योजना, पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) पर ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं हुआ है. इस पर ब्याज दर को 7.1 प्रतिशत सालाना पर बरकरार रखा गया है. इसके अलावा राष्ट्रीय बचत पत्र (NSC), सुकन्या समृद्धि स्कीम (SSY) और डाकघर रिकरिंग डिपॉजिट (RD) पर भी ब्याज दर में कोई बदलाव नहीं किया गया है. NSC पर ब्याज 6.8 प्रतिशत सालाना, सुकन्या समृद्धि पर 7.6 प्रतिशत सालाना और 5 साल वाली डाकघर RD पर 5.8 प्रतिशत सालाना पर ही कायम रखा गया है.

वहीं पांच अन्य स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स, जिन पर मिलने वाली आय कर योग्य होती है, पर ब्याज दरों में 0.3 प्रतिशत तक की वृद्धि की गई है. देश में स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स में नेशनल सेविंग्स रिकरिंग डिपॉजिट अकाउंट यानी पोस्ट ऑफिस RD, नेशनल सेविंग्स टाइम डिपॉजिट अकाउंट यानी पोस्ट ऑफिस FD/TD, नेशनल इनकम मंथली इनकम अकाउंट (MIS), सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम (SCSS), पब्लिक प्रोविडेंट फंड, नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC), किसान विकास पत्र (KVP), सुकन्या समृद्धि अकाउंट (SSY) शामिल हैं. स्मॉल सेविंग्स स्कीम्स के लिए ब्याज दर को हर तिमाही पर संशोधित किया जाता है.

डाकघर टाइम डिपॉजिट या FD

संशोधन के बाद डाकघर में अक्टूबर-दिसंबर तिमाही के लिए 2 साल वाले टाइम डिपॉजिट पर ब्याज को बढ़ाकर 5.7 प्रतिशत सालाना, 3 साल वाले टाइम डिपॉजिट पर ब्याज बढ़ाकर 5.8 प्रतिशत सालाना किया गया है. अभी तक डाकघर में 1 साल, 2 साल और 3 साल वाले टाइम डिपॉजिट पर दर 5.5 प्रतिशत सालाना थी. वहीं 5 साल वाले टाइम डिपॉजिट के लिए ब्याज दर 6.7 प्रतिशत सालाना है.

सीनियर सिटीजन सेविंग्स स्कीम

वित्त मंत्रालय की ओर से गुरुवार को जारी अधिसूचना में कहा गया है कि अक्टूबर-दिसंबर की तिमाही के लिए वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर अब 7.6 प्रतिशत सालाना का ब्याज मिलेगा. अभी तक इस योजना पर 7.4 प्रतिशत सालाना का ब्याज मिल रहा है.

KVP और MIS

किसान विकास पत्र (KVP) की बात करें तो इसे लेकर सरकार ने इसकी अवधि और ब्याज दर दोनों में संशोधन किया है. इसके तहत किसान विकास पत्र पर ब्याज अब 7.0 प्रतिशत सालाना होगा, जो पहले 6.9 प्रतिशत सालाना था. अब यह 124 महीने के बजाय 123 महीने में ही मैच्यो​र हो जाएगा. वहीं मंथली इनकम स्कीम (MIS) पर अब 6.6 प्रतिशत के बजाय 6.7 प्रतिशत सालाना का ब्याज दिया जाएगा.