एलन मस्क की छंटनी का कहर, Twitter के भारतीय ऑफिस में बचे हैं केवल एक दर्जन इंप्लॉई!

मस्क ने ट्विटर को खरीदने की 44 अरब डॉलर की डील पिछले महीने के अंत में पूरी की थी.

एलन मस्क की छंटनी का कहर, Twitter के भारतीय ऑफिस में बचे हैं केवल एक दर्जन इंप्लॉई!

Tuesday November 08, 2022,

3 min Read

पिछले सप्ताह Twitterने भारत में अपने 90% से अधिक कर्मचारियों को निकाल दिया. दुनिया के सबसे अमीर इंसान एलन मस्क (Elon Musk) द्वारा ट्विटर को खरीद लिए जाने के तुरंत बाद यह छंटनी हुई. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट में मामले की खबर रखने वालों के हवाले से कहा गया है कि अब ट्विटर के भारतीय कार्यालय में लगभग एक दर्जन कर्मचारी ही बचे हैं. पहले कंपनी के भारत में 200 से अधिक कर्मचारी थे.

भारत वैश्विक इंटरनेट कंपनियों जैसे ट्विटर, मेटा प्लेटफॉर्म्स और अल्फाबेट की Google के लिए एक प्रमुख ग्रोथ इंजन है, जो नए ऑनलाइन यूजर्स के अपने बड़े संभावित पूल पर भरोसा कर रहे हैं. ऐसा नहीं है कि ट्विटर में छंटनी केवल भारत में ही हुई है. छंटनी वैश्विक स्तर पर की गई है. ट्विटर ने गत शुक्रवार यानी 4 नवंबर को करीब 3,700 लोगों को नौकरी से निकाल दिया. छंटनी से पहले कंपनी में करीब 7,500 कर्मचारी काम कर रहे थे.

कुछ कर्मचारियों को बुलाया जा रहा वापस

लेकिन ऐसी भी खबर है कि अब ट्विटर निकाले गए कई कर्मचारियों को वापस बुला रही है. इसकी वजह है कि कंपनी ने कुछ कर्मचारियों को गलती से निकाल दिया गया था. ब्लूमबर्ग की एक अन्य रिपोर्ट में यह दावा किया गया. रिपोर्ट में कहा गया कि कंपनी मैनेजमेंट ने कुछ लोगों को जल्दबाजी में निकाल दिया था. अब कंपनी को अहसास हो रहा है कि मस्क के विजन को आगे बढ़ाने के लिए इन कर्मचारियों की जरूरत है. यही वजह है कि उनको वापस बुलाया जा रहा है.

दूसरे फुल वर्कवीक की ओर कंपनी

अब एलन मस्क की अगुवाई में ट्विटर अपने आधे कर्मचारियों, बढ़ते घाटे और अपनी योजनाओं में कुछ अप्रत्याशित उलटफेर के साथ दूसरे फुल वर्कवीक की ओर बढ़ रही है. मस्क ने बचे कर्मचारियों को दिन-रात काम करने को कहा है. हालत यह है कि कुछ कर्मचारी ऑफिस में ही रात गुजार रहे हैं.

मस्क ने ट्विटर को खरीदने की 44 अरब डॉलर की डील पिछले महीने के अंत में पूरी की थी. पहले उन्होंने कंपनी के भारतीय मूल के सीईओ पराग अग्रवाल (Parag Agrawal) समेत चार टॉप अधिकारियों को बाहर किया. उसके बाद कंपनी के बोर्ड को खत्म करके कमान पूरी तरह अपने हाथ में ले ली.

नया ब्लू सब्सक्रिप्शन प्लान

ट्विटर ने पिछले हफ्ते नया ब्लू सब्सक्रिप्शन प्लान निकाला था. इसके मुताबिक ब्लू टिक पाने के लिए यूजर्स को हर महीने 8 डॉलर देने होंगे. इस बीच न्यूयॉर्क टाइम्स ने रविवार को कहा कि ट्विटर ने अमेरिका में मिड टर्म इलेक्शन तक इस योजना को टाल दिया है. अमेरिका में आठ नवंबर को मिड टर्म इलेक्शन होना है. यूजर्स और कर्मचारियों ने आशंका जताई थी कि इन चुनावों में ट्विटर की योजना का दुरुपयोग हो सकता है.