Twitter गोल्ड वेरिफाइड टिक के लिए कंपनियों से हर महीने वसुलेगी 82,000 रुपये

ट्विटर ने अपना नया वेरिफाइड ऑर्गेनाइजेशंस प्रोग्राम शुरू किया है जहां कंपनियां गोल्ड वेरिफिकेशन टिक हासिल करने के लिए वेटिंग लिस्ट में शामिल हो सकती हैं.

Twitter गोल्ड वेरिफाइड टिक के लिए कंपनियों से हर महीने वसुलेगी 82,000 रुपये

Saturday March 25, 2023,

3 min Read

रेवेन्यू बढ़ाने के लिए, एलन मस्क के स्वामित्व वाली कंपनी Twitter कंपनियों से गोल्ड वेरिफाइड टिक के लिए हर महीने 1,000 डॉलर (करीब 82,000 रुपये) वसुलेगी. इतना ही नहीं, यह कंपनी के अकाउंट से जुड़े दूसरे अकाउंट से हर महीने अतिरिक्त 50 डॉलर (करीब 4,000 रुपये) चार्ज करेगी. वेरिफिकेशन प्रोग्राम की घोषणा शुक्रवार को की गई. ट्विटर ने यह भी कहा कि वह 1 अप्रैल से अपने लिगेसी वेरिफिकेशन प्रोग्राम को "समाप्त" करना शुरू कर देगी.

ट्विटर के सीईओ एलन मस्क ने शुक्रवार को पुष्टि की थी कि वेरिफाइड ऑर्गेनाइजेशन से जुड़े किसी व्यक्तिगत अकाउंट के वेरिफिकेशन टिक की सुविधा जारी रहेगी.

ट्विटर ने अपना नया वेरिफाइड ऑर्गेनाइजेशंस प्रोग्राम शुरू किया है जहां कंपनियां गोल्ड वेरिफिकेशन टिक हासिल करने के लिए वेटिंग लिस्ट में शामिल हो सकती हैं.

ट्विटर बिजनेस ने जनवरी में कंपनियों के वेरिफिकेशन प्रोग्राम की घोषणा की थी. ट्विटर बिजनेस ने माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म पर जानकारी साझा करते हुए लिखा, "हम जल्द ही कंपनियों के लिए वेरिफिकेशन शुरू करेंगे, जिसे पहले ब्लू फॉर बिजनेस के नाम से जाना जाता था."

"एक ग्राहक के रूप में, आप और आपके बिजनेस को हमारे सेल्फ-सर्व एडमिनिस्ट्रेटिव पोर्टल के माध्यम से बिजनेस अकाउंट और एफिलिएटेड बैज प्राप्त होंगे." कंपनी ने एक अन्य ट्वीट में बताया था.

पिछले महीने, सोशल मीडिया एडवाइजर मैट नवारा ने एक ट्वीट में बताया कि ट्विटर 1000 डॉलर/माह से शुरू होने वाली कीमतों के साथ एक वेरिफाइड ऑर्गेनाइजेशन प्रोग्राम शुरू करने पर विचार कर रही है. हालांकि, ट्विटर ने उस वक्त इस खबर की आधिकारिक पुष्टि नहीं की थी. अब, बिजनेस इनसाइडर की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ट्विटर ने अपने वेरिफाइड ऑर्गेनाइजेशन प्रोग्राम के लिए नई कीमत की पुष्टि की है.

बता दें कि अरबपति एलन मस्क ने 44 अरब डॉलर में ट्विटर को खरीद लिया था. मस्क के शुरुआती फैसलों में से एक पेड वेरिफिकेशन प्रोग्राम शुरू करना था, जिसने सभी उपयोगकर्ताओं को प्रतिष्ठित ब्लू चेकमार्क तक एक्सेस दी जो पहले चुनिंदा "मशहूर" व्यक्तियों के लिए रिजर्व्ड था.

हालांकि, ट्विटर को पेड वेरिफिकेशन प्रोग्राम को अस्थायी रूप से बंद करने के लिए मजबूर होना पड़ा, जब तक कि इसे पिछले साल दिसंबर में फिर से लॉन्च नहीं किया गया. वेरिफाइड चेकमार्क के साथ, ट्विटर ब्लू सब्सक्राइबर लंबे ट्वीट लिखने, अपने ट्वीट एडिट करने, 1080p रिज़ॉल्यूशन में वीडियो अपलोड करने, ट्वीट को रीडर मोड में देखने समेत आदि कई फीचर्स का लाभ उठा सकते हैं.

कथित तौर पर, ट्विटर अब एक ऐसे फीचर्स को टेस्ट कर रही है जो ट्विटर ब्लू यूजर्स को अपने वेरिफाइड चेकमार्क को छिपाने की अनुमति देगा. हालांकि, अभी यह साफ नहीं है कि यह अपडेट ट्विटर ऐप के स्टेबल वर्जन में आएगा या नहीं.

यह भी पढ़ें
Meta की पूर्व कर्मचारी का दावा - 'बिना कुछ किए कमाए 1.5 करोड़ रुपये'

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors