अनिल अग्रवाल की वेदांता 5वीं बार दे रही 2050% का डिविडेंड, जानिए आप कैसे कमा सकते हैं मुनाफा

वेदांता ने 28 मार्च को घोषणा की कि वह इस वित्त वर्ष के लिए 5वां अंतरिम डिविडेंड देगी. कंपनी प्रति शेयर 20.50 रुपये का डिविडेंड दे रही है. डिविडेंड देने में कंपनी को करीब 7621 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे. इससे पहले वेदांता इस साल 4 बार डिविडेंट दे चुकी है.

अनिल अग्रवाल की वेदांता 5वीं बार दे रही 2050% का डिविडेंड, जानिए आप कैसे कमा सकते हैं मुनाफा

Wednesday March 29, 2023,

3 min Read

हाइलाइट्स

वेदांता ने 28 मार्च को घोषणा की कि वह इस वित्त वर्ष के लिए 5वां अंतरिम डिविडेंड देगी.

कंपनी प्रति शेयर 20.50 रुपये का डिविडेंड दे रही है.

डिविडेंड देने में कंपनी को करीब 7621 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे.

इससे पहले वेदांता इस साल 4 बार डिविडेंट दे चुकी है.

कुछ दिन पहले तक वेदांता (Vedanta) के प्रमुख अनिल अग्रवाल (Anil Agrawal) काफी चर्चा में थे. इसकी वजह थी उन पर भारी कर्ज का बोझ. इसके चलते उनकी तुलना गौतम अडानी (Gautam Adani) से होने लगी थी कि क्या उनकी कंपनी के शेयर भी बुरी तरह टूटेंगे? खैर, अनिल अग्रवाल की कंपनी वेदांता की हालत सुधरने लगी और उनकी चर्चा भी कम होने लगी. इसी बीच अब एक बार फिर अनिल अग्रवाल की कंपनी वेदांता की बात हो रही है. हालांकि, इस बार चर्चा इसलिए है, क्योंकि उनकी कंपनी शानदार डिविडेंड दे रही है. सवाल ये है कि ये डिविडेंड (Dividend) किसे-किसे मिलेगा और क्या वह शख्स भी इसका फायदा ले सकता है, जिसके पास अभी वेदांता का शेयर नहीं है?

2050 फीसदी का डिविडेंड दे रही कंपनी

वेदांता ने 28 मार्च को घोषणा की कि वह इस वित्त वर्ष के लिए 5वां अंतरिम डिविडेंड देगी. कंपनी प्रति शेयर 20.50 रुपये का डिविडेंड दे रही है. इस घोषणा के चलते मंगलवार को कंपनी के शेयर करीब 1 फीसदी चढ़कर बंद हुए. अगर शेयर की 1 रुपये की फेस वैल्यू के हिसाब से देखा जाए तो यह डिविडेंड करीब 2050 फीसदी का है. डिविडेंड देने में कंपनी को करीब 7621 करोड़ रुपये खर्च करने होंगे. इससे पहले वेदांता इस साल 4 बार डिविडेंट दे चुकी है, जिसके तहत 12.50 रुपये, 17.50 रुपये, 19.50 रुपये और 31.50 रुपये का डिविडेंड दिया जा चुका है.

किसे मिलेगा ये डिविडेंड?

वेदांता का ये डिविडेंड उन सभी लोगों को मिलेगा, जिनके पास कंपनी के शेयर हैं. यानी अगर आप वेदांता के शेयर धारक हैं तो आपको भी प्रति शेयर 20.50 रुपये का शेयर मिलेगा. इसकी रेकॉर्ड डेट 7 अप्रैल 2023 तय की गई है. यानी 7 अप्रैल को आपके डीमैट खाते में वेदांता के शेयर होने जरूरी हैं.

क्या आपको-हमको भी मिल सकता है इसका फायदा?

जिसके पास कंपनी के शेयर हैं, उसे तो फायदा होगा ही. वहीं अगर आपके पास कंपनी के शेयर नहीं भी हैं, तो भी आप इसका फायदा उठाने के लिए शेयर खरीद सकते हैं. ये डिविडेंड हासिल करने के लिए आपको 5 अप्रैल तक वेदांता के शेयर खरीद लेने होंगे. भले ही आप उसे 7 अप्रैल के बाद फिर से बेच दें. यही वजह है कि रेकॉर्ड डेट के बाद अक्सर शेयरों की कीमत गिरने लगती है, क्योंकि लोग उन्हें बेचने लगते हैं.

साल भर में 30% लुढ़के वेदांता के शेयर

वेदांता के शेयर पिछले 1 साल में करीब 30 फीसदी लुढ़के हैं. 29 मार्च 2022 को कंपनी का शेयर लगभग 410 रुपये का था, जो 28 मार्च 2023 तक 275 रुपये के करीब बंद हुआ. वेदांता के शेयर का 52 हफ्तों का उच्चतम लेवल 440.75 रुपये है, जबकि न्यूनतम लेवल 206.10 रुपये है.

यह भी पढ़ें
गौतम अडानी ही नहीं मुकेश अंबानी भी दबे हैं कर्ज के बोझ तले, जानिए तमाम अरबपतियों ने लिया है कितना लोन