आखिरकार हो गया फाइनल डिसीजन, विस्तारा का एयर इंडिया में होगा विलय, जानिए क्या है पूरी डील

सिंगापुर एयरलाइंस ने कहा है कि विस्तारा एयरलाइंस का एयर इंडिया में विलय होगा. डील के तहत सिंगापुर एयरलाइंस की एयर इंडिया में 25.1 फीसदी की हिस्सेदारी होगी. इससे इंडिगो को तगड़ी टक्कर मिलेगी.

आखिरकार हो गया फाइनल डिसीजन, विस्तारा का एयर इंडिया में होगा विलय, जानिए क्या है पूरी डील

Wednesday November 30, 2022,

3 min Read

काफी दिनों से इस बात को लेकर चर्चा हो रही थी कि विस्तारा एयरलाइंस का एयर इंडिया में विलय होगा. अब सिंगापुर एयरलाइंस ने इस पर मुहर लगा दी है. कंपनी ने कहा है कि विस्तारा एयरलाइंस का टाटा संस की एयर इंडिया में विलय किया जाएगा. बता दें कि अभी विस्तारा एयरलाइंस में टाटा संस की 51 फीसदी हिस्सेदारी है, जबकि सिंगापुर एयरलाइंस की 49 फीसदी हिस्सेदारी है.

नए समझौते के तहत एयर इंडिया में सिंगापुर एयरलाइंस की 25.1 फीसदी हिस्सेदारी होगी. सिंगापुर एयरलाइंस के मुताबिक कंपनी एयर इंडिया में 250 मिलियन डॉलर (करीब 2058 करोड़ रुपये) का निवेश करेगी. मार्च 2024 तक इस सौदे के पूरे होने की उम्मीद है. यह भी माना जा रहा है कि इस डील के बाद कंपनी को एयरलाइन सेक्टर में दबदबा रखने वाली इंडिगो से तगड़ी टक्कर लेने में मदद मिलेगी.

रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक एयर इंडिया एक्सप्रेस का भी एयर एशिया इंडिया में विलय होने जा रहा है. वहीं एयर एशिया से टाटा ने एयर एशिया इंडिया को पहले ही खरीद लिया है. नई डील के तहत अगले दो साल तक अगर एयर इंडिया को फंड की जरूरत पड़ती है तो कंपनी की तरफ से और पूंजी लगाई जाएगी. 25.1 फीसदी हिस्सेदारी के लिए सिंगापुर एयरलाइंस को करीब 615 मिलियन डॉलर तक खर्च करने पड़ सकते हैं.

पिछले साल टाटा ने खरीदी थी एयर इंडिया

टाटा समूह ने पिछले साल अक्टूबर में कर्ज में डूबी सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडियो को खरीदने का फैसला किया था. ये डील 18 हजार करोड़ रुपये में फाइनल हुई थी. एयर इंडिया को खरीदने के लिए 7 कंपनियों ने दिलचस्पी दिखाई थी, लेकिन टाटा संस इस रेस में सबसे आगे रहा. डील के तहत तय हुआ था कि टाटा संस एयर इंडिया के 15,300 करोड़ रुपये के कर्ज को चुकाएगा और बाकी की रकम का भुगतान नकद में करेगा.

कर्ज में दबी कंपनी के लिए इतने दावेदार क्यों?

एयर इंडिया भारी कर्ज तले दबी कंपनी है, फिर भी इसके लिए बहुत सारे दावेदार थे. सवाल ये है कि आखिर एयर इंडिया इतनी आकर्षक क्यों है? दरअसल, एयर इंडिया के बाद काफी परिसंपत्तियां हैं. लंदन के हीथ्रो एयरपोर्ट पर कंपनी का अपना स्लॉट है. उसके बाद लगभग 130 विमानों का बेड़ा है. साथ ही हजारों ट्रेंड पायलट और क्रू है, जिसकी वजह से हर कोई इसे खरीदना चाहता था. इतना ही नहीं, एयर इंडिया के पास करोड़ों का रीयल एस्टेट भी है, जिसका मूल्यांकन मार्च 2020 तक करीब 6 अरब डॉलर आंका गया था.

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors