अपने कर्मचारियों को 10 दिन की दिवाली की छुट्टी दे रही है ये कंपनी

By रविकांत पारीक
October 18, 2022, Updated on : Wed Oct 19 2022 05:26:54 GMT+0000
अपने कर्मचारियों को 10 दिन की दिवाली की छुट्टी दे रही है ये कंपनी
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ग्लोबल को-वर्किंग स्पेस प्रोवाइडर WeWork ने दिवाली के त्योहार पर भारत में अपने सभी कर्मचारियों को 10 दिनों की छुट्टी देने की घोषणा की है. कंपनी ने इस छुट्टी को 'Relax And Re-Energise' कहा है.


कंपनी ने जोर देकर कहा कि त्योहार के मौके पर यह छुट्टी कर्मचारियों को काम से ब्रेक लेने और परिवार के साथ गुणवत्तापूर्ण समय बिताने में मदद करेगी.


बिजनेस टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, WeWork India की चीफ़ पीपल एण्ड कल्चर ऑफिसर प्रीति शेट्टी के अनुसार, इस कदम का उद्देश्य कर्मचारियों को आराम करने और फिर से एक्टिव होने के लिए समय देना है.


उन्होंने कहा कि कंपनी ने इंटरनल बेंचमार्क को पार कर लिया है, और 10 दिन की छुट्टी "हर WeWork कर्मचारी की उद्यमशीलता की भावना के प्रति आभार व्यक्त करती है". उन्होंने कहा कि उन्होंने छुट्टी को "सालाना प्रथा" बनाने का फैसला किया है.


न्यूयॉर्क हेडक्वार्टर वाली कंपनी ने पिछले साल के त्योहारी सीजन में भी 10 दिनों का ब्रेक दिया था. इसने कहा था कि ब्रेक कर्मचारियों को कुछ डाउनटाइम देने और उन्हें अपने परिवारों के साथ दिवाली मनाने में मदद करने के लिए था.


पिछले महीने, ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म मीशो (Meesho) ने मानसिक स्वास्थ्य के महत्व पर प्रकाश डालते हुए अपने कर्मचारियों के लिए 11 दिन के "रीसेट एण्ड रिचार्ज ब्रेक" की घोषणा करके कुछ इसी तरह का कदम उठाया था.


मीशो के फाउंडर और सीटीओ संजीव बरनवाल ने एक ट्वीट में लिखा कि कंपनी अपने कर्मचारियों को वर्क-लाइफ बैलेंस बनाए रखने और त्योहारी सीजन का आनंद लेने में मदद करने के लिए लगातार दूसरे साल ब्रेक दे रही है.


उन्होंने लिखा, "मीशोइट्स 22 अक्टूबर से नवंबर तक रीसेट और रिचार्ज करने के लिए कुछ जरूरी समय निकालेंगे."


Deloitte द्वारा किए गए एक मेंटल हेल्थ सर्वे से पता चला है कि कर्मचारियों के खराब मानसिक स्वास्थ्य के चलते कम प्रोडक्टिविटी और नौकरी छोड़ने के कारण भारतीय कंपनियों को सालाना लगभग 14 अरब डॉलर का खर्च आता है.


"वर्कप्लेस पर मेंटल हेल्थ और वेल-बीइंग" (Mental health and well-being in the workplace) शीर्षक वाले सर्वे में, Deloitte Touche Tohmatsu India LLP (DTTILLP) ने भारतीय कर्मचारियों के बीच मानसिक कल्याण की वर्तमान स्थिति का विश्लेषण किया.


इसमें पाया गया कि सर्वे में शामिल 47 प्रतिशत लोगों का मानना ​​था कि वर्कप्लेस से संबंधित तनाव उनके मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करने वाला सबसे बड़ा कारक है.


आपको बता दें कि WeWork के पास भारत में दिल्ली-एनसीआर, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे और हैदराबाद में 40 जगहों पर 5 मिलियन वर्ग फुट से अधिक की संपत्ति है.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close