Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ys-analytics
ADVERTISEMENT
Advertise with us

Metaverse: शोर तो बहुत मचा है, मगर ये है क्या?

Metaverse: शोर तो बहुत मचा है, मगर ये है क्या?

Saturday July 02, 2022 , 3 min Read

बीते साल 2021 के अक्टूबर महीने के आखिरी हफ्ते में इंटरनेट पर, खासकर सोशल मीडिया की दुनिया में एक बड़ी घोषणा हुई. ये घोषणा दिग्गज कंपनी Facebook के को-फाउंडर और सीईओ मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) ने की. उन्होंने Facebook का नाम बदलकर मेटा (Meta) रख दिया. तभी से इस शब्द को अधिक तवज्जोह मिली. लेकिन...

'मेटावर्स' शब्द का ईज़ाद

आपको ये जानकर तअ'ज्जुब जरूर होगा कि ये शब्द नया नहीं है. मेटा शब्द 'मेटावर्स' से लिया गया है. और मेटावर्स शब्द का ईज़ाद हुआ था साल 1992 में. जब इस शब्द का इस्तेमाल पहली बार एक साइंस फिक्शन नॉवेल ‘स्नो क्रैश’ (Snow Crash) में किया गया था. यह नॉवेल नील स्टीफेंसन (Neal Stephenson) ने लिखा था.

इस नॉवेल में उन्होंने पाठकों को एक ऐसी दुनिया से मुख़ातिब कराया था जो पूरी तरह से वर्चुअल है, मतलब आभासी है. हक़ीक़त से इस दुनिया का दूर-दूर तक कोई वास्ता नहीं है. इस दुनिया को उन्होंने मेटावर्स की संज्ञा दी थी. इस नॉवेल के बाद, साल 2003 में मेटावर्स पर एक कंप्यूटर गेम भी मार्केट में आया था. इसका नाम था ‘सेकंड लाइफ’ (Second Life. इस गेम में दिखाया गया था कि कैसे लोग अपनी वर्चुअल दुनिया बनाते थे. वहां कैसे एक-दूसरे से इंटरेक्शन करते थे. शॉपिंग करना, प्रॉपर्टी खरीदना आदि सभी इस गेम का हिस्सा थे. इसी में पहली बार वर्चुअल ‘Avtaar’ शब्द का भी इस्तेमाल किया गया था.

what-is-metaverse-evolution-of-metaverse-term-facebbok-meta-mark-zuckerberg-neal-stephenson-snow-crash

सांकेतिक चित्र

'मेटावर्स' शब्द का मतलब

मेटावर्स (Metaverse) दो शब्दों से मिलकर बना है — 'मेटा' (Meta) और 'वर्स' (Verse). 'मेटा' का मतलब होता है 'से परे' (beyond), यानि कि जिसके बारे में हम सोच नहीं सकते, हमारी कल्पना से परे. वहीं, 'वर्स' को 'यूनिवर्स' (Universe) से लिया गया है. जिसका मतलब होता है ब्रह्मांड. अब अगर इन दोनों शब्दों को एक साथ, एक टर्म में देखें तो ये बनता है — मेटावर्स. और इस तरह इसका मतलब होगा — एक ऐसी दुनिया, जो हमारी कल्पना से परे है. हमारी सोच से कई आगे है.

'मेटावर्स' है क्या?

मेटावर्स — एक तरह की वर्चुअल दुनिया है, जहां आप वर्चुअली एंट्री करते हैं लेकिन आपको ऐसा अहसास होता है जैसे कि आप फिजिकली उस जगह पर मौजूद हैं. इसे आसान भाषा में समझें तो मेटावर्स एक आभासी दुनिया है जहां आपकी एक अलग पहचान होती है. इस वर्चुअल दुनिया में आप घूमने फिरने के अलावा दोस्तों के साथ पार्टी भी कर सकते हैं.

इंटरनेट का भविष्य है 'मेटावर्स'

मेटावर्स में एक साथ कई तकनीकों का इस्तेमाल होता है. इसमें ऑगमेंटेड रियलिटी (Augmented Reality), वर्चुअल रियलिटी (Virtual Reality), मशीन लर्निंग (Machine Learning), ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी (Blockchain Technology) और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artificial Intelligence) शामिल हैं.

what-is-metaverse-evolution-of-metaverse-term-facebbok-meta-mark-zuckerberg-neal-stephenson-snow-crash

सांकेतिक चित्र

मेटावर्स एक एडवांस्ड प्लेटफार्म है. इसकी मदद से आप ऐसा वर्चुअल एनवायरनमेंट बना सकते हैं, मानो आप अपने लोगों के साथ ही जगह पर बैठे हों. मेटावर्स आपकी कल्पना से जुड़ी सभी चीजों को अंजाम देगा जैसे दोस्तों और फैमिली के साथ गेट टुगेदर करना, गेम्स खेलना, बिजनेस से जुड़े काम करना, शॉपिंग करना या कुछ सीखना आदि.

मेटावर्स में किसी का अवतार बनाने के लिए उसकी 360 डिग्री स्कैनिंग होती है. मेटावर्स में खरीद-बिक्री के लिए क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल होता है. मेटावर्स पूरी तरह से हाई-स्पीड इंटरनेट पर निर्भर करता है. मेटावर्स भले ही एक आभासी दुनिया है लेकिन इसमें हार्डवेयर का इस्तेमाल बड़े स्तर पर होता है. मेटावर्स इंटरनेट का भविष्य है.