पीएम-किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त से क्यों वंचित रह गए देश के 2.62 करोड़ किसान?

By yourstory हिन्दी
October 18, 2022, Updated on : Tue Oct 18 2022 12:15:15 GMT+0000
पीएम-किसान सम्मान निधि की 12वीं किस्त से क्यों वंचित रह गए देश के 2.62 करोड़ किसान?
पिछली बार जहां 10 करोड़ से ऊपर किसानों को पैसे मिले थे, वहीं, इस बार 8 करोड़ किसानों के बैंक खातों में ही पैसे आए हैं. करीब 2.62 करोड़ किसान 12वीं किस्‍त पाने से वंचित रह गए हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना की 12वीं‍ किस्‍त की धनराशि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने कल 17 अक्‍टूबर को जारी करने की घोषणा कर  दी थी. इस बार देश के किसानों के खातों में 16,000 करोड़ रुपये डाले गए हैं. हालांकि, यह राशि 11वीं किस्‍त में किसानों को मिले 21,000 करोड़ रुपये से 5,000 करोड़ रुपये कम है. इससे यह साफ हो जाता है कि इस बार कम किसानों को पीएम किसान योजना का लाभ मिला है.


पिछली बार जहां 10 करोड़ से ऊपर किसानों को पैसे मिले थे, वहीं, इस बार 8 करोड़ किसानों के बैंक खातों में ही पैसे आए हैं. करीब 2.62 करोड़ किसान 12वीं किस्‍त पाने से वंचित रह गए हैं.


उत्तर प्रदेश के ही करीब 33 लाख किसानों को पीएम किसान योजना की 12वीं किस्त नहीं मिली है. केंद्र सरकार ने उत्तर प्रदेश के 2.1 करोड़ किसानों के खातों में लगभग 4000 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए हैं.

फर्जी लाभार्थियों को हटाने से कम हुई राशि

उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि देश के हर राज्‍य के बहुत से किसानों को इस बार पीएम किसान योजना का लाभ नहीं मिला है. किसानों द्वारा पीएम किसान योजना के लिए अनिवार्य केवाईसी न कराना और सरकार द्वारा भूमि रिकॉर्ड के वेरिफिकेशन करने से फर्जी लाभार्थियों का नाम लिस्‍ट से हटाने के कारण 12वीं किस्‍त कम किसानों को मिली है. अकेले उत्तर प्रदेश में अब तक 21 लाख लोग इस योजना के लिए अपात्र पाए गए हैं.

e-KYC भरने में खामी भी हो सकता है कारण

कुछ किसानों के साथ ऐसा भी हुआ है कि ई-केवाईसी करवा रखी है फिर भी उसको 12वीं किस्‍त के 2,000 रुपये नहीं मिले हैं. इसकी सबसे बड़ी वजह किसान द्वारा दी गई जानकारियों में खामी होना हो सकता है.


इसका कारण पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) में रजिस्‍ट्रेशन कराते वक्‍त कोई जानकारी भरने में गलती करना, अपना पता या बैंक अकाउंट की जानकारी गलत दे देना हो सकता है. किसान द्वारा दिया गया बैंक अकाउंट बंद हो जाने पर भी पैसा खाते में नहीं आता है.


इसलिए अगर आपका भी पैसा नहीं आया है तो आपको प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि योजना की आधिकारिक वेबसाइट pmkisan.gov.in पर जाकर अपने दर्ज की गई जानकारियों को जांच लेना चाहिए.

लाभार्थी ऐसे चेक कर सकते हैं अपना नाम

पीएम किसान सम्मान निधि योजना लाभार्थी 12वीं किस्त के लिए बेनिफीशियरी लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं. यह लिस्ट pmkisan.gov.in पोर्टल पर अपलोड हो जाती है, जिसमें कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय, पीएम किसान सम्मान निधि के तहत लाभ पाने वाले किसानों के नाम शामिल करता है.


  • नाम चेक करने के लिए pmkisan.gov.in पर क्लिक करें.
  • वेबसाइट खुलने के बाद मेन्यू बार देखें और ‘फार्मर कॉर्नर’ पर जाएं.
  • लाभार्थी सूची/बेनिफीशियरी लिस्ट टैब पर क्लिक करें. अपना राज्य, जिला, उप-जिला, ब्लॉक और गांव का विवरण दर्ज करें.
  • इसके बाद आपको Get Report पर क्लिक करना होगा, जिसके बाद आपको जानकारी मिल जाएगी.
  • जिन किसानों को इस योजना का लाभ सरकार की तरफ से दिया गया है उनके भी नाम राज्य/जिलेवार/तहसील/गांव के हिसाब से देखे जा सकते हैं.

Edited by Vishal Jaiswal