पत्नी परमेश्वर! जानें कैसे एक महिला ने बचाई अपने पुलिस अधिकारी पति की जान

By yourstory हिन्दी
May 18, 2020, Updated on : Mon May 18 2020 09:31:30 GMT+0000
पत्नी परमेश्वर! जानें कैसे एक महिला ने बचाई अपने पुलिस अधिकारी पति की जान
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

छत्तीसगढ़ के बीजापुर में एक महिला ने चार दिनों तक उन माओवादियों को ट्रैक किया जिन्होंने उनके पति का अपहरण कर लिया था जो कि एक पुलिस अधिकारी हैं।


k

सांकेतिक फोटो (साभार:ShutterStock)


सुनीता कट्टम, यह जानने के बाद कि उनके पति संतोष का गोराना गांव से माओवादियों ने अपहरण कर लिया है, उन्होंने घर बैठकर चिंता करने के बजाय अपने पति को उन माओवादियों के चंगुल से छुड़ाने का फैसला किया।


उन्होंने अपनी बेटी, पत्रकारों और ग्रामीणों की मदद ली और माओवादियों की चार दिनों तक लगातार ट्रेकिंग की।


माओवादियों द्वारा उनके पति को "जन-अदालत" (कंगारू अदालत) में पाया गया, जहाँ वे अपनी किस्मत का फैसला कर रहे थे।


उन्होंने और ग्रामीणों ने उनके पुलिस अधिकारी पति की रिहाई के लिए बातचीत की। तब माओवादियों ने उनकी पति को ये चेतावनी देते हुए छोड़ दिया कि वे दोबारा पुलिस जॉइन ना करें।


सुनीता ने मीडिया को बताया कि वह अपने पति को बचाने के लिए दृढ़ थी।



Edited by रविकांत पारीक

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close