एलन मस्क से सौदे के बाद Twitter से होगी 75 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी? जानिए Twitter ने क्या कहा

गुरुवार को वाशिंगटन पोस्ट में छपी एक खबर में दस्तावेजों और सूत्रों के हवाले से बताया गया कि मस्क ने ट्विटर खरीद के लिए संभावित निवेशकों से ऐसा कहा है कि वह 7,500 कर्मचारियों में से करीब 75 फीसदी को हटा देंगे और कंपनी में कम से कम कर्मचारी रहेंगे.

एलन मस्क से सौदे के बाद Twitter से होगी 75 फीसदी कर्मचारियों की छंटनी? जानिए Twitter ने क्या कहा

Friday October 21, 2022,

3 min Read

अमेरिका में 1990 जैसी मंदी आने की आशंकाओं के बीच गुरुवार को लोगों के बीच तब चिंता का माहौल पैदा हो गया जब एक अखबार ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि 44 अरब डॉलर के ट्विटर सौदे के पूरा होने के बाद दुनिया के सबसे अमीर शख्स 75 फीसदी कर्मचारियों को ट्विटर में से निकाल देंगे. हालांकि, कुछ ही घंटों में दिग्गज टेक कंपनी Twitter ने साफ किया है कि कंपनी की छंटनी की कोई योजना नहीं है.

दरअसल, गुरुवार को वाशिंगटन पोस्ट में छपी एक खबर में दस्तावेजों और सूत्रों के हवाले से बताया गया कि मस्क ने ट्विटर खरीद के लिए संभावित निवेशकों से ऐसा कहा है कि वह 7,500 कर्मचारियों में से करीब 75 फीसदी को हटा देंगे और कंपनी में कम से कम कर्मचारी रहेंगे.

नौकरी में छंटनी की आशंका पहले से बनी हुई है लेकिन मस्क की योजना बहुत ही व्यापक छंटनी की है. एक विश्लेषक डैन ईव्ज कहते हैं,‘‘75 फीसदी कर्मचारियों को निकालने का मतलब है कि मजबूत पूंजी प्रवाह और लाभप्रदता जो इस समझौते से जुड़ने के लिए निवेशकों को आकर्षित करने वाली बातें होंगी.’’ उन्होंने कहा कि लेकिन ट्विटर के कार्यबल में इतनी बड़ी कटौती करने का मतलब होगा कंपनी को कई वर्ष पीछे ले जाना.

विशेषज्ञों समेत ट्विटर के कर्मचारी आगाह कर चुके हैं कि सामग्री और डेटा सुरक्षा में निवेश रोकना ट्विटर समेत इसके उपयोगकर्ताओं के लिए नुकसानदायक होगा. इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद पहले ही मंदी की आशंकाओं और छंटनी के भय से घिरे कर्मचारियों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच गईं.

यह कारण है कि कुछ घंटे के अंदर इस बारे में ट्विटर के जनरल काउंसल सीन एडगेट ने कर्मचारियों को ई-मेल करते हुए कहा कि कंपनी छंटनी की योजना नहीं बना रही है. इस मेल को देखने वाले एक सूत्र ने इसकी जानकारी दी. ट्विटर के एचआर डिपार्टमेंट ने कर्मचारियों से कहा है कि वे बड़े पैमाने पर छंटनी की योजना नहीं बना रहे थे, लेकिन दस्तावेजों में कर्मचारियों को बाहर निकालने और बुनियादी ढांचे की लागत में कटौती करने की व्यापक योजनाएं दिखाईं.

बता दें कि बुधवार को एलन मस्क ने ट्विटर डील को लेकर कहा था कि वह इस डील के लिए ज्यादा रुपयों का भुगतान कर रहे हैं. मस्क ने एक सवाल के जवाब में कहा था कि ट्विटर लंबे समय से कमजोर हुआ है, लेकिन उसमें एक अविश्वसनीय क्षमता है.

बता दें कि, एलन मस्‍क ने इस साल 13 अप्रैल को टि्वटर के अधिग्रहण की घोषणा की थी. उन्‍होंने 54.20 डॉलर प्रति शेयर के रेट से 44 अरब डॉलर में ट्विटर को खरीदने की डील की थी, लेकिन बाद में वह अपने फैसले से पीछे हट गए और मामला कोर्ट में चला गया था.

हालांकि, ट्विटर के अधिग्रहण को लेकर एलन मस्‍क एक बार फिर सक्रिय हो गए हैं और कई महीनों की कानूनी लड़ाई के बाद 44 अरब डॉलर के सौदे पर अपनी सहमति जता दी है. ट्विटर ने भी आधिकारिक रूप से इस खबर की पुष्टि की है कि एलन मस्‍क पुराने ऑफर को मानने के लिए तैयार हैं.


Edited by Vishal Jaiswal