पहले भारत को दिलाया विश्वकप, अब पुलिसवाले के रूप में लॉकडाउन में कर रहे हैं सेवा, आईसीसी ने भी इस खिलाड़ी को किया सलाम

By yourstory हिन्दी
March 30, 2020, Updated on : Mon Mar 30 2020 10:31:31 GMT+0000
पहले भारत को दिलाया विश्वकप, अब पुलिसवाले के रूप में लॉकडाउन में कर रहे हैं सेवा, आईसीसी ने भी इस खिलाड़ी को किया सलाम
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पहले 2007 टी-20 विश्वकप में हीरो बनकर देश को पहला विश्वकप दिलाने वाला खिलाड़ी अब पुलिसवाले के रूप में देशसेवा कर रहा है।

(चित्र: ट्विटर-ICC)

(चित्र: ट्विटर-ICC)



साल 2007 में पाकिस्तान के हाथों के छीनकर भारत को पहला टी-20 विश्व कप थमाने वाला खिलाड़ी आज कोरोना वायरस के चलते बने हालातों में भी सड़कों पर हीरो बनकर लोगों की मदद कर रहा है। इस खिलाड़ी को लेकर आईसीसी ने भी सलाम ठोंका है।


ये हीरो हैं कभी क्रिकेटर रहे और अब हरियाणा पुलिस में डीएसपी जोगिंदर शर्मा। जोगिंदर शर्मा इन दिनों कोरोना वायरस के चलते बने माहौल के बीच सड़कों पर उतरकर लोगों की सेवा में जुटे हुए हैं।


साल 2007 में हुए पहले टी-20 विश्व कप के फाइनल में जब पाकिस्तान को आखिरी 4 गेंदों पर 6 रनों की जरूरत थी और उसके 9 विकेट गिर चुके थे, तब भी जीत उनके पाले में नज़र आ रही थी, जब जोगिंदर शर्मा ने पाकिस्तान का आखिरी विकेट गिरा भारत को सरताज बना दिया था।


आईसीसी ने इस हीरो की तस्वीर को ट्वीट करते हुए उन्हे सलाम ठोंका है। आईसीसी ने जोगिंदर शर्मा की दो तस्वीरें पोस्ट की हैं, एक टी-20 विश्वकप फाइनल की है और दूसरी मौजूदा समय की है, जब वो अपनी ड्यूटी कर रहे हैं।


आईसीसी ने लिखा है, “अपने क्रिकेट करियर के बाद एक पुलिसवाले के रूप में भारत के जोगिंदर शर्मा वैश्विक संकट के बीच अपना काम कर रहे हैं।”


सोमवार दोपहर एक बजे तक भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 1190 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि अब तक 102 लोग इससे रिकवर भी हो चुके हैं। कोरोना वायरस से महाराष्ट्र और केरल सबसे अधिक प्रभावित होने वाले राज्यों में से एक है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close