फिल्मी दुनिया के वो सुपरस्टार जिन्होंने अपनी मेहनत से तय किया फर्श से अर्श तक का सफर

By yourstory हिन्दी
September 01, 2017, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:16:30 GMT+0000
फिल्मी दुनिया के वो सुपरस्टार जिन्होंने अपनी मेहनत से तय किया फर्श से अर्श तक का सफर
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

अभिनय, किसी भी कला प्रदर्शन की तरह एक आसान काम नहीं है। इसमें प्रशिक्षण और अनुभव की बहुत ही अधिक मात्रा में आवश्यकता होती है। एक अभिनेता को सफल बनने के लिए कई बाधाओं से गुजरना पड़ता है। 

फोटो साभार: ट्विटर

फोटो साभार: ट्विटर


हम ऐसे ही कुछ अभिनेताओं के बारे में जानेंगे जिन्होंने खुद के लिए एक अलग रास्ता चुना है। ये लोग करना कुछ और चाहते थे लेकिन भाग्य ने इनकी किस्मत में कुछ ज्यादा ही लिखा था।

सुपरस्टार बनना लाखों लोगों का सपना होता है, लेकिन उस मुकाम तक पहुंचते वही लोग हैं जिनमें पोटाश होता है, लगन होती है, हुनर होता है और एक जिद होती है।


अभिनय, किसी भी कला प्रदर्शन की तरह एक आसान काम नहीं है। इसमें प्रशिक्षण और अनुभव की बहुत ही अधिक मात्रा में आवश्यकता होती है। एक अभिनेता को सफल बनने के लिए कई बाधाओं से गुजरना पड़ता है। अभिनेता बनना इतना आसान काम नहीं है, उसको कामयाबी हासिल करने के लिए अपने आपको उस काबिल बनाना होता है। हम ऐसे ही कुछ अभिनेताओं के बारे में जानेंगे जिन्होंने खुद के लिए एक अलग रास्ता चुना है। ये लोग करना कुछ और चाहते थे लेकिन भाग्य ने इनकी किस्मत में कुछ ज्यादा ही लिखा था।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


रजनीकांत

कर्नाटक में जन्मे मराठी मूल के इस अभिनेता को बेंगलुरु में बस कंडक्टर के रूप में काम करना पड़ रहा था उसी बीच उनकी दिलचस्पी अभिनय करने में होने लगी। उस वक्त उन्होंने कन्नड़ नाटककार टोपी मुनिप्पा द्वारा लिखे गए कई चरणों में भाग लेना शुरू कर दिया। मद्रास फिल्म संस्थान में शामिल होने के बाद, उन्हें महान तमिल फिल्म निर्माता के बालाचंदर का ध्यान मिला। कई फिल्मों के एक सहायक अभिनेता के रूप में काम करने के बाद, आखिर में 1 9 76 में तमिल फिल्म 'मोन्द्रा मूडीचू' में सफलता मिली।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


जॉनी डेप

हमारे प्यारे कप्तान जैक स्पैरो ने खुद के लिए एक अलग करियर चुना था। एक संगीतकार का करियर। जॉनी डेप ने स्कूल छोड़ दिया था जब वह केवल 15 साल के थे। कुछ संगीत कार्यक्रमों और कुछ अजीब नौकरियों के बाद अंत में उन्होंने एक अभिनेता के रूप में काम किया। 1984 में डेप अपने दोस्त जैकी अर्ल हैली के साथ उसके एक ऑडिशन पर थे। लेकिन सौभाग्य से निर्देशक का ध्यान डेप की ओर आकर्षित हो गया। और इस तरह दुनिया को एक प्रतिभाशाली एक्टर मिला।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


कंगना रानौत

कंगना रानौत का रास्ता काफी बाधाओं से भरा था। उन्होंने अपने रूढ़िवादी परिवार के किसी भी वित्तीय सहायता के बिना विश्वास की छलांग लगाई। इनका करियर एक मॉडल के रूप में शुरू हुआ। रानौत जल्द ही थिएटर में चली गई क्योंकि अभिनय में उनकी विशेष रुचि थी। मंच पर कुछ शानदार प्रदर्शन करने के बाद उन्होंने एक फिल्म स्टार बनने का फैसला किया। उन्होंने उसके लिए कठिन परिश्रम किया। कई बार ऐसा हुआ कि रानौत ने केवल रोटी और अचार खाकर अपने दिन बिताए। उनकी प्रतिभा को देख एक इंसान उन्हें उसे महेश भट्ट के प्रोडक्शन हाउस ले गया। वहां निर्देशक अनुराग बसु के साथ एक बातचीत के बाद, अंत में उन्हें 2006 के 'गैंगस्टर' में अपना बड़ा अभिनय करने का मौका मिला। बाकी जलवे तो सबके सामने हैं ही।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


जेनिफर लॉरेंस

जेनिफर समीक्षकों द्वारा सबसे ज्यादा पसंद की जाने वाली अभिनेत्रियों में से एक है। वह वर्तमान समय में हॉलीवुड में सबसे अधिक कमाई करने वाली अभिनेत्रियों में से एक है। ये एक दिलचस्प कहानी है कि कैसे वह ग्लैमर की दुनिया में आईं। जब वह केवल 14 साल की थीं तो एक टैलेंट हंट के जरिए लोगों का ध्यान उनकी तरफ गया। उनके पास मॉडलिंग के लिए कॉल्स आने लगे। वो जल्द ही न्यूयॉर्क में एक बेहतरीन मॉडल बन गईं। इस एक्सपोजर के बाद उनके पास काम की झड़ी लग गई।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


अक्षय कुमार

अक्षय कुमार बॉलीवुड में काम करने वाले बेहतरीन कलाकारों में से एक हैं। अक्षय को बॉलीवुड में यह स्थान प्राप्त करने के लिए बहुत से संघर्षो का सामना करना पड़ा। अक्षय कुमार का जन्म अमृतसर में हुआ था। वह एक सैन्य आदमी के बेटे हैं। कोई भी कलाकार जन्म से कलाकार नहीं होता है, उसको अपने आपको उस रूप में ढ़ालना पड़ता है। वह मार्शल आर्ट्स के लिए बैंकाक गए और वेटर के रूप में काम किया। वापसी के बाद उन्होंने मॉडलिंग शुरू कर दी और इस क्षेत्र में करियर बनाने का फैसला किया। लेकिन उनके लिए कुछ अलग योजना बनाई गई थी। बैंगलोर में एक असाइनमेंट को खोने के बाद, वो एक निराश मन के साथ एक ऑडिशन के लिए चले गए। 1992 के हिट देवदार में बी-टाउन में उनका पहला बड़ा ब्रेक मिला।

फोटो साभार: सोशल मीडिया

फोटो साभार: सोशल मीडिया


जॉन वेने

मैरियन मिशेल मॉरिसन के नाम से जन्मे पुराने अभिनेता जॉन वेन का एक फुटबॉल खिलाड़ी बनने का इरादा था। अजीब नौकरियों बाद उन्होंने एक श्रम के रूप में फॉक्स फिल्म निगम में काम खत्म कर दिया। उनके जीवन का वास्तविक मोड़ तब आया जब वह निर्देशक जॉन फोर्ड से मिलने गए। उनकी अच्छी काया के कारण लोगों का ध्यान उन पर गया। इधर फोर्ड के साथ उनकी दोस्ती मजबूत हो गई। फोर्ड ने उन्हें कई अन्य प्रोड्यूसर्स से परिचय कराया। और इस तरह सामान्य से मॉरिसन दुनिया के लिए सुपरस्टार जॉन वेन बन गए।

ये भी पढ़ें: रेखा उन हजारों महिलाओं के लिए मिसाल हैं जिन्हें लगता है सांवला रंग एक रोड़ा है