Swiggy ने निकाले 380 एम्प्लोयीज़, तीन से छह महीने के वेतन का मिलेगा मुआवजा

By Rajat Pandey
January 21, 2023, Updated on : Mon Jan 23 2023 05:47:27 GMT+0000
Swiggy ने निकाले 380 एम्प्लोयीज़, तीन से छह महीने के वेतन का मिलेगा मुआवजा
मजेटी ने अपने ईमेल में एम्प्लोयीज़ से कहा कि हम रीस्ट्रक्चरिंग एक्सरसाइज के एक हिस्से के तौर पर अपनी टीम के आकार को कम करने के लिए एक बेहद कठिन निर्णय लागू कर रहे हैं. इस प्रोसेस में हम 380 प्रतिभाशाली स्विगस्टर्स को अलविदा कह रहे हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ऑनलाइन फूड और ग्रॉसरी डिलीवरी प्लेटफॉर्म (Food Delivery Platform) स्विगी (Swiggy) ने अपने 380 एम्प्लोयीज़ को "रीस्ट्रक्चरिंग  एक्सरसाइज" के चलते आर्थिक स्थितियों का हवाला देते हुए कंपनी से बाहर का रास्ता (Layoff) दिखा दिया है. कंपनी के सीईओ श्रीहर्ष मजेटी(Sriharsha Majety) ने इस फैसले के पीछे ओवर-हायरिंग को एक अहम कारण बताया है.


कंपनी के सीईओ श्रीहर्ष मजेटी ने अपने एक ईमेल में एम्प्लोयीज़ से कहा कि कंपनी के डिलीवरी बिज़नेस की विकास की रफ़्तार धीमी हुई है, जिसके चलते मुनाफे और आय दर दोनों में गिरावट आई है. उन्होंने कहा कि कंपनी ने पिछले दो वर्षों में ओवरहायरिंग (Over hiring) की  है, जो कि उनकी ओर से एक खराब निर्णय था.


मजेटी ने अपने ईमेल में एम्प्लोयीज़ से कहा कि "आज ऑल-हैंड्स मीटिंग में शामिल होने के लिए धन्यवाद. जैसा कि मैंने सत्र में उल्लेख किया था, हम रीस्ट्रक्चरिंग एक्सरसाइज के एक हिस्से के तौर पर अपनी टीम के आकार को कम करने के लिए एक बेहद कठिन निर्णय लागू कर रहे हैं.


इस प्रोसेस में हम 380 प्रतिभाशाली स्विगस्टर्स (Swiggsters) को अलविदा कह रहे हैं. सभी उपलब्ध विकल्पों की खोज करने के बाद यह एक अत्यंत कठिन निर्णय लिया गया है, और मुझे आप सभी के लिए यह सब करने के लिए बहुत खेद है.”

निकाले गए एम्प्लोयीज़ को मिलेगा तीन से छह महीने के वेतन का मुआवजा

मजेटी ने यह भी कहा कि निकाले गए  एम्प्लोयीज़ को उनके टेन्योर के आधार पर तीन से छह महीने के वेतन का मुआवजा दिया जाएगा. वे 31 मई, 2023 तक चिकित्सा बीमा कवर के लिए भी पात्र होंगे और अपने लैपटॉप को भी अपने पास रख सकेते हैं.


इस ले-ऑफ़ से पहले स्विगी में करीब 6,000 एम्प्लोयीज़ थे. ले-ऑफ़ का फैसला ऐसे समय में आया है जब स्टार्टअप एक कठिन फंडिंग माहौल का सामना कर रहे हैं, जिसके चलते  उन्हें लागत कम करने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है. पिछले नवंबर में, स्विगी के राइवल डिलीवरी प्लेटफॉर्म Zomato ने अपने 100 एम्प्लोयीज़ को निकाल दिया था.  हाल ही में सोशल प्लेटफॉर्म शेयरचैट ने भी अपने 20 फीसदी कर्मचारियों को नौकरी से निकाल है.


जनवरी के पहले छह दिनों में दुनियाभर में 30 कंपनियों के कुल 30,611 लोगों को निकाल दिया गया है. इस लिस्ट में वीडियो होस्टिंग प्लेटफॉर्म Vimeo, तकनीकी दिग्गज Salesforce, क्रिप्टो एक्सचेंज हुओबी और कई अन्य बड़ी कंपनियां शामिल हैं. कई बड़ी टेक कंपनियों में कर्मचारियों की छंटनी करने के अलावा बाकी कंपनियों जैसे Apple, Oracle, Google ने भी आने वाले महीनों के लिए हायरिंग फ्रीज की घोषणा की है.