Gautam Adani की इस कंपनी को हुआ बड़ा नुकसान, एक्सपर्ट्स को थी भारी मुनाफे की उम्मीद

By Anuj Maurya
October 19, 2022, Updated on : Wed Oct 19 2022 08:12:46 GMT+0000
Gautam Adani की इस कंपनी को हुआ बड़ा नुकसान, एक्सपर्ट्स को थी भारी मुनाफे की उम्मीद
हाल ही में गौतम अडानी ने अंबुजा सीमेंट और एसीसी का अधिग्रहण किया है. इस वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में एसीसी को 91 करोड़ का घाटा हुआ है. सभी हैरान हैं, क्योंकि एक्सपर्ट 133 करोड़ के मुनाफे की उम्मीद कर रहे थे.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हाल ही में गौतम अडानी (Gautam Adani) ने अंबुजा सीमेंट (Ambuja Cement) और एसीसी सीमेंट (ACC Cement) के बिजनस का अधिग्रहण पूरा करने की घोषणा की थी. अब मौजूदा वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में एसीसी सीमेंट के नतीजों ने सबको हैरान कर दिया है. कंपनी को जुलाई-सितंबर तिमाही में 91 करोड़ रुपये का घाटा (ACC Q2 Result) हुआ है. लोग हैरान इसलिए हैं क्योंकि पिछले साल इसी तिमाही में कंपनी को 449 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा हुआ था. इतना ही नहीं, इस साल की पहली तिमाही यानी अप्रैल-जून तिमाही में भी कंपनी को 222 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था.

133 करोड़ के मुनाफे का था अनुमान

एसीसी के नतीजों ने तमाम एनालिस्ट की रिपोर्ट्स को गलत साबित कर दिया है. तमाम एनालिस्ट में अनुमान लगाया था कि इस तिमाही में कंपनी को 133 करोड़ रुपये के करीब शुद्ध मुनाफा हो सकता है. वहीं नतीजे दिखा रहे हैं कि कंपनी को 91 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है, जिसने सबको हैरान कर दिया है. दिलचस्प ये है कि सालाना आधार पर कंपनी सेल्स में करीब 7 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है और सेल्स 3,910 करोड़ रुपये हो गई है.

तो फिर क्यों हुआ कंपनी को नुकसान?

कंपनी को नुकसान होने की वजह फ्यूल है. फ्यूल यानी ईंधन की लागत बढ़ने की वजह से कंपनी के मुनाफे पर असर पड़ा है. कंपनी का EBITDA मार्जिन 712 करोड़ रुपये के मुकाबले महज 16 करोड़ रुपये आया है. अनुमान था कि यह 6 फीसदी रह सकता है, लेकिन EBITDA मार्जिन सिर्फ 0.4 फीसदी आया है. बता दें EBITDA वह मुनाफा होता है जिसे Interest, Tax, Depreciation और Amortization घटाने से पहले कैल्कुलेट किया जाता है.

ACC के शेयरों में गिरावट

नतीजों के बाद स्टॉक मार्केट में एसीसी सीमेंट के शेयरों में गिरावट देखने को मिली. कंपनी के शेयर मंगलवार को करीब 2 फीसदी की गिरावट के साथ 2,219 रुपये पर बंद हुए. हालांकि, अगले ही दिन बुधवार को कंपनी के शेयर फिर से हरे निशान में जा पहुंचे हैं. दोपहर तक कंपनी के शेयरों में करीब 1 फीसदी की तेजी देखने को मिल रही थी.

हाल ही में सीमेंट सेक्टर में रखा है कदम

इस साल मई में अडानी समूह ने स्विटजरलैंड के होल्सिम लिमिटेड से अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड और एसीसी लिमिटेड को खरीद लिया था. हाल ही में यह डील पूरी हुई है, जो 10.5 अरब डॉलर (करीब 81,361 करोड़ रुपये) में हुई है. अडानी ग्रुप ने अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड (Ambuja Cements Ltd.) और उसकी सहायक एसीसी सीमेंट (ACC Cement) की 63.19 प्रतिशत हिस्सेदारी जबरदस्त बोली में हासिल की. इसी के साथ अडानी समूह अब भारत का दूसरे नंबर का सबसे बड़ा सीमेंट निर्माता बन गया है. 


अंबुजा और एसीसी की सालाना कम से कम 70 मिलियन टन सीमेंट प्रोडक्शन की क्षमता है, जो 120 मिलियन टन क्षमता वाली अल्ट्राटेक सीमेंट (Ultratech Cement) के बाद दूसरे स्थान पर है. अंबुजा सीमेंट के 14 सीमेंट प्लांट हैं, जिसमें 4,700 लोग काम करते हैं. एसीसी के पास 17 सीमेंट प्लांट और 78 रेडी मिक्स कंक्रीट फैक्ट्रियां हैं और इसमें 6,000 लोग काम करते हैं.