आकासा एयर में साथ ले जा सकेंगे अपने पपी—किटी! इस तारीख से शुरू हो रही बुकिंग

By yourstory हिन्दी
October 06, 2022, Updated on : Thu Oct 06 2022 12:42:16 GMT+0000
आकासा एयर में साथ ले जा सकेंगे अपने पपी—किटी! इस तारीख से शुरू हो रही बुकिंग
आकासा एयर के सह-संस्थापक, मुख्य मार्केटिंग और एस्कपीरियंस ऑफिसर बेलसन कॉटिन्हो ने कहा कि नवंबर से यात्रा के दौरान पालतू जानवरों (कुत्ता, बिल्ली) को साथ ले जाने की इजाजत दी जाएगी. इस संबंध में बुकिंग 15 अक्टूबर से शुरू होगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

आकासा एयर नवंबर से यात्रियों को हवाई सफर के दौरान अपने साथ पालतू कुत्तों और बिल्लियों को ले जाने की इजाजत देगी. इसके साथ ही कंपनी नवंबर से कार्गो सेवाओं की शुरुआत भी करेगी. साथ ही आने वाले सप्ताह में परिचालन में नए मार्गों को जोड़ा जाएगा. आकासा एयर की 2023 की दूसरी छमाही में अंतरराष्ट्रीय सेवाएं शुरू करने की भी योजना है. कंपनी के बेड़े में 20 विमान होने के बाद इन सेवाओं की शुरुआत की जाएगी.विमानन कंपनी आकासा एयर का प्रदर्शन परिचालन शुरू होने के पहले 60 दिनों में ‘संतोषजनक’ रहा है.


न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, एयरलाइन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) विनय दुबे ने यह जानकारी दी. ​आकासा एयर के सह-संस्थापक, मुख्य मार्केटिंग और एस्कपीरियंस ऑफिसर बेलसन कॉटिन्हो ने कहा कि नवंबर से यात्रा के दौरान पालतू जानवरों (कुत्ता, बिल्ली) को साथ ले जाने की इजाजत दी जाएगी. इस संबंध में बुकिंग 15 अक्टूबर से शुरू होगी.

ये नियम होंगे लागू

आकासा एयर की फ्लाइट में प्रत्येक पालतू जानवर को पिंजरे में रहना होगा. पिंजरे सहित वजन सीमा, केबिन में 7 किलोग्राम और चेक-इन में 32 किलोग्राम होगी. भारी पालतू जानवरों के लिए एक अन्य विकल्प होगा. आगे चलकर पालतू जानवरों के लिए पॉलिसी को और बेहतर बनाया जाएगा. अभी तक पालतू जानवरों के साथ हवाई यात्रा की सुविधा सिर्फ एयर इंडिया में ही थी.

7 अक्टूबर से दिल्ली से शुरू होंगी सेवाएं

एयरलाइन ने 7 अगस्त 2022 से परिचालन शुरू किया था. Akasa Air की पहली हवाई सेवा मुंबई-अहमदाबाद रूट पर शुरू हुई थी. अगले साल की दूसरी छमाही में अंतरराष्ट्रीय परिचालन शुरू करने की भी योजना है. कंपनी के बेड़े में छह विमान है और चालू वित्त वर्ष के अंत तक बेड़े का आकार बढ़ाकर कुल 18 विमान तक करने की तैयारी है.


पीटीआई के मुताबिक, दुबे ने कहा है कि कंपनी नये निवेशकों की तलाश में है. उन्होंने यह भी कहा कि एयरलाइन योजना के अनुसार चल रही है. कंपनी इस समय रोजाना 30 उड़ानें भर रही है एवं शुक्रवार (7 अक्टूबर) से दिल्ली से सेवाएं शुरू होंगी. आकासा एयर ने 72 बोइंग-737 मैक्स विमानों का ऑर्डर दिया है. इन एयरप्लेन्स में CFM का LEAP-1B इंजन है. 72 विमानों में से 18 विमान 2023 तक डिलीवर होने हैं. बाकी 54 विमान अगले चार सालों में आएंगे.

झुनझुनवाला के निधन के बाद क्या रणनीति है बदली?

आकासा एयर में सबसे बड़ी हिस्सेदारी शेयर बाजार के दिग्गज निवेशक राकेश झुनझुनवाला और उनकी पत्‍नी रेखा की है. दोनों की मिलाकर कुल हिस्‍सेदारी 45.97 प्रतिशत है. राकेश झुनझुनवाला का 14 अगस्त को मुंबई में निधन हो गया. विनय दुबे, संजय दुबे, नीरज दुबे, माधव भटकुली, पीएआर कैपिटल वेंचर्स, कार्तिक वर्मा भी आकासा में प्रमोटर हैं.


यह पूछे जाने पर कि क्या आकासा एयर के प्रमुख निवेशक राकेश झुनझुनवाला के निधन के बाद कंपनी की रणनीति में कोई बदलाव आया है, दुबे ने कहा कि ऐसा नहीं है. रणनीति में कोई बदलाव नहीं हुआ है...नैतिक, भावनात्मक समर्थन के मामले में, झुनझुनवाला का जाना एक बहुत गहरी क्षति है. दुबे ने यह भी कहा कि एयरलाइन अच्छी तरह से पूंजीकृत है. बता दें कि आकासा एयर ब्रांड नाम से SNV एविएशन प्राइवेट लिमिटेड भारतीय विमानन सेक्टर में उतरी है.

स्टार्टअप एयरलाइन को भी मिले सरकार का समर्थन

सरकार की आपातकालीन ऋण सुविधा गारंटी योजना (ईसीएलजीएस) के बारे में आकासा एयर के प्रमुख ने कहा कि यह सराहनीय बात है कि सरकार विमानन क्षेत्र के महत्व को पहचानती है. उन्होंने कहा, ‘हम सिर्फ यह आशा करते हैं कि सरकार का समर्थन स्टार्टअप एयरलाइन को भी मिले. स्टार्टअप एयरलाइन उसी कठिन वातावरण में काम कर रही हैं... हमें किसी भी प्रकार की सरकारी सहायता प्राप्त करने में खुशी होगी.'



Edited by Vishal Jaiswal