कौन हैं जॉर्ज वाशिंगटन जिनके नाम पर 'वाशिंगटन डी.सी.' का नाम रखा गया

कौन हैं जॉर्ज वाशिंगटन जिनके नाम पर 'वाशिंगटन डी.सी.' का नाम रखा गया

Wednesday February 22, 2023,

3 min Read

अमेरिका के जिस राष्ट्रपति पर अमेरिका की वर्तमान राजधानी 'वाशिंगटन डी.सी.' का नाम रखा गया था, वो अमेरिका के पहले राष्ट्रपति जॉर्ज वांशिगटन हैं. लेकिन वे कभी राष्ट्रपति के रुप में यहां नहीं रह सकें, क्योंकि उनके समय में अमेरिका की राजधानी न्यूयॉर्क सिटी हुआ करती थी.


न्यूयॉर्क में वॉल स्ट्रीट पर फेडरल हॉल की बालकनी पर खड़े होकर जॉर्ज वाशिंगटन ने 30 अप्रैल, 1789 को संयुक्त राज्य अमेरिका के पहले राष्ट्रपति के रूप में पद की शपथ ली थी. उन्होंने साल 1789 से 1797 तक करीब 8 साल अमेरिका के प्रथम राष्ट्रपति के रुप में अपनी सेवाएं दीं.


अमेरिका को ब्रिटिश राज से आजादी दिलाने और अमेरिका की क्रांति (1775 – 1783) में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी.


जॉर्ज वाशिंगटन का जन्म 22 फरवरी, 1732 में वर्जीनिया की ब्रिटिश उपनिवेश में हुआ था. वाशिंगटन का बचपन वर्जीनिया प्लान्टर में बीतने की वजह से 14 से 16 साल की उम्र में ही उन्होंने एक सर्वेक्षक यानि भूमापक के तौर पर काम करना शुरू कर दिया था. इस दौरान उन्होंने कई नई जमीनों के नक्शे तैयार किए जिसकी जानकारी उनके बाद के सैन्य करियर में बहुत उपयोगी साबित हुए.

अमेरिकी स्वतंत्रता संग्राम में जॉर्ज वाशिंगटन की भूमिका

भूमापक के तौर पर काम करने के कुछ समय बाद ही जॉर्ज वांशिगटन 1753 में अमेरिकी सेना में शामिल हुए. उनके पहले आदेशों में से एक ओहियो नदी घाटी से फ्रांसीसी सेना को हटाना था. 


अपने सैन्य करियर के दौरान वाशिंगटन ने ब्रिटिश टैक्स का विरोध किया और जल्द ही ब्रिटिश राज के खिलाफ एक लोकप्रिय और मुखर प्रतिद्वंद्वी बन कर उभरे.


प्रत्येक कॉलोनी के प्रतिनिधियों के एक समूह ने अंग्रेजों से एक साथ लड़ने का फैसला किया. मई 1775 में दूसरी महाद्वीपीय कांग्रेस फिलाडेल्फिया में एकत्रित हुई, तो वर्जीनिया के प्रतिनिधियों में से एक वाशिंगटन को महाद्वीपीय सेना का कमांडर-इन-चीफ चुना गया.


इसके बाद मई, 1787 में उन्हें फेडरल सम्मेलन के अध्यक्ष के तौर पर नियुक्त किया गया था. सितंबर, साल 1787 में फिलाडेल्फिया में संवैधानिक संमेलन के लिए अग्रणी कदम में एक प्रमुख प्रस्तावक बने और जब नए संविधान की पुष्टि हुई तो निर्वाचक मंडल ने सर्वसम्मति से वाशिंगटन को राष्ट्रपति चुना.

अमेरिका के प्रथम राष्ट्रपति के रुप में जॉर्ज वाशिंगटन

जॉर्ज वाशिंगटन ने बतौर राष्ट्रपति दो टर्म सर्व किया, जिसके दौरान कैबिनेट की स्थापना, सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीशों की नियुक्ति, और पहला राष्ट्रीय बैंक बनाने जैसे कई उदाहरण स्थापित किए. साल 1790 में उन्होंने कॉपीराइट एक्ट को कानून का रूप देकर सबसे पहले किताबों, नक्शों और महत्वपूर्ण दस्तावेजों को सुरक्षित किया. उसी साल उन्होंने रेसीडेंट एक्ट भी पारित किया. इसके प्रभाव से संघीय राजधानी जॉर्ज टाउन के पास पोर्टोमैक नदी के किनारे स्थापित की गई. वही बाद में 'वाशिंगटन डी.सी.' कहलाई. 1792 में जॉर्ज वाशिंगटन ने देश की पहली मिन्ट की स्थापना की और डॉलर को आधिकारिक मुद्रा की मान्यता दी गई.


वाशिंगटन की मृत्यु 14 दिसंबर, 1799 को हुई.