क्यों बेंगलुरु की इस वुमन आंत्रप्रेन्योर ने शुरू की ईको फ्रेंडली क्लीनिंग प्रोडक्ट लाइन, बेहद रोचक है इनकी कहानी

डीजल आधारित वाहनों को छोड़ने और घर पर सौर ऊर्जा को अपनाने के बाद, रूपा हरिहरन ने घरों को ईको फ्रेंडली होम क्लीनिंग प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने के वास्ते प्रोत्साहित करने के लिए बेंगलुरु स्थित उद्यम प्योरकल्ट (PureCult) की शुरुआत की।

क्यों बेंगलुरु की इस वुमन आंत्रप्रेन्योर ने शुरू की ईको फ्रेंडली क्लीनिंग प्रोडक्ट लाइन, बेहद रोचक है इनकी कहानी

Wednesday May 26, 2021,

4 min Read

बेंगलुरु की बेल्लान्दुर झील अत्यधिक प्रदूषित होने के लिए बदनाम है क्योंकि शहर के अधिकांश उपचारित और अनुपचारित सीवेज यहाँ अपना रास्ता बनाते हैं। यमलूर की रहने वाली रूपा हरिहरन के लिए झील से महज 3.5 किमी दूर रहना कोई खूबसूरत नजारा नहीं था।


वह YourStory को बताती हैं, "इससे मुझे लगा कि हम अपने घर पर इस्तेमाल की जाने वाली उन चीजों को क्यों नहीं बदल सकते हैं जिनसे निकलने वाले अपशिष्ट हमारे जल निकायों में जाते हैं।"


हालांकि, ईको फ्रेंडली यानी पर्यावरण के अनुकूल उत्पादों के लिए उनकी तलाश व्यर्थ लग रही थी क्योंकि अधिकांश मौजूदा विकल्प बहुत कुशल नहीं थे। तभी उन्होंने इस समस्या को अपने हाथ में लिया और एक प्रीमियम कीमत पर ईको फ्रेंडली होम क्लीनिंग प्रोडक्ट की पेशकश करने वाले D2C ब्रांड PureCult की स्थापना की। बाद में अनुभवी उद्यमी और सप्लाई चेन एक्सपर्ट सुमित आनंद ने सह-संस्थापक के रूप में उन्हें ज्वाइन किया।

यात्रा

रूपा ने हमेशा एक न्यूनतम जीवन शैली बनाए रखने की कोशिश की है और जलवायु परिवर्तन को कम करने के लिए दुनिया के लिए जितना संभव हो उतना कम अपशिष्ट योगदान दिया है। वर्षों से, उनके परिवार ने डीजल-ईंधन वाले वाहनों को छोड़ने और इलेक्ट्रिक कारों और सौर ऊर्जा से चलने वाले घरों को अपनाने का निर्णय लिया है।


अपने जीवन में स्थायी सफाई उत्पादों को शामिल करने के लिए, रूपा ने इनग्रेडिएंट्स, केमिकल कंपोजिशन और सोर्सिंग पर रिसर्च करके लंबा रास्ता तय किया। उन्होंने विभिन्न सेफ्टी डेटा शीट भी देखीं, और अपने सभी इंजीनियरिंग ज्ञान को डेढ़ साल तक व्यवहार में लाया।


रूपा ने प्रोडक्ट तैयार करने, उनका टेस्ट करने और उनमें जरूरी बदलावों को शामिल करने में मदद करने के लिए सलाहकार के रूप में एक केमिकल एक्सपर्ट को भी रखा।


हालांकि, मार्च 2020 में PureCult के निर्धारित बाजार में लॉन्च से 15 दिन पहले, COVID-19 के प्रकोप के कारण देशव्यापी लॉकडाउन लागू कर दिया गया। जिससे वेंडर्स, इनग्रेडिएंट्स और बोतल निर्माताओं तक पहुंच प्राप्त करने के लिए और आगे लॉजिस्टिक्स और अन्य चुनौतियों का सामना करना पड़ा।


हालांकि, स्टार्टअप अपने तरीके से काम करने में कामयाब रहा और पिछले साल अगस्त में बाजार में प्रवेश किया।

12 लोगों की कोर टीम के साथ, ब्रांड 299 रुपये और 499 रुपये की प्राइस रेंज के भीतर 12 अलग-अलग सफाई उत्पादों की पेशकश करता है।

जैसा कि महामारी के दौरान शुरू हुए अधिकांश ब्रांडों ने किया, इसने भी मार्केटिंग और सेल्स के डिजिटल रास्ते को अपनाया है और अब यह अपनी वेबसाइट के अलावा अमेजॉन, फ्लिपकार्ट और पेटीएम जैसी ईकॉमर्स साइटों पर उपलब्ध है।

बाजार और उससे आगे

बेंगलुरु स्थित प्योरकल्ट 12 अलग-अलग घरेलू सफाई उत्पादों की एक रेंज पेश करता है।

बेंगलुरु स्थित प्योरकल्ट 12 अलग-अलग घरेलू सफाई उत्पादों की एक रेंज पेश करता है।

हालांकि व्यक्तिगत सौंदर्य उत्पादों की बात आती है तो उपभोक्ताओं में सल्फेट्स, पैराबेना और सिलिकॉन जैसे केमिकल से दूर रहने के लिए जागरूकता बढ़ी है, वह कहती हैं कि वे शुरू में इस बात से अनजान थे कि बाजार घर की सफाई के लिए ईको फ्रेंडली विकल्पों पर कैसे प्रतिक्रिया देगा।


B2C मॉडल पर काम करते हुए, ब्रांड उच्च कीमतों का श्रेय एंजाइम और आवश्यक तेलों जैसे महंगे इनग्रेडिएंट्स को देता है।

वे कहती हैं, "मैं लोगों द्वारा इसे अपनाए जाने के सकारात्मक रुख को देखकर हैरान थी। असल में, हमें कुछ समय के लिए प्रचार और विज्ञापन करना बंद करना पड़ा क्योंकि हम ऑर्डर की मात्रा को संभाल नहीं पा रहे थे और हमें अपने संचालन को सुव्यवस्थित करना था।”

वर्तमान में, यह एक महीने में लगभग 20,000 यूनिट बेचता है। और जैसा कि ब्रांड अपना एक साल पूरा कर रहा है, यह अगस्त में 10 करोड़ रुपये का कारोबार करने की उम्मीद करता है।

ि

ईको फ्रेंडली फैक्टर

स्थायी उद्योग में एक उद्यमी के रूप में, वह कहती हैं कि चुनौती हमेशा अधिक ईको फ्रेंडली बनने की है।


यहां तक कि इनग्रेडिएंट्स और कच्चे माल के साथ, उन्होंने नई प्रक्रियाओं का प्रयोग करने के लिए निर्माताओं से प्रतिरोध का अनुभव किया।

वह कहती हैं, "हमने सभी उत्पादों को एक बायोडिग्रेडेबल पैकेजिंग में डालने के इस यूटोपियन आइडिया के साथ शुरुआत की, लेकिन विकल्प बहुत सीमित थे।"

अधिक लागत खर्च करने के बावजूद, बेंगलुरु स्थित स्टार्टअप ने अब एक वेंडर के साथ करार किया है, जो अपसाइकल बोतलों से बनी पोस्ट-कंज्यूमर रेजिन (पीसीआर) बोतलों की आपूर्ति करता है, जिसमें भारी सीसा और धातु नहीं होती है। जहां 50 प्रतिशत पैकेजिंग इस समय पीसीआर-आधारित है, वहीं यह तीन वर्षों में इसके उपयोग को बढ़ाकर 75 प्रतिशत और पांच वर्षों में 100 प्रतिशत करने की उम्मीद करता है।


यह रिफिल करने योग्य पाउच का इस्तेमाल करने पर भी विचार कर रहा है, जिससे कार्बन फुटप्रिंट में 60-70 प्रतिशत की कमी आएगी।


व्यवसाय संचालन के अलावा, रूपा CUPA द्वारा ईको फ्रेंडली पहल का समर्थन करती हैं और सेंटर फॉर वाइल्डलाइफ स्टडीज द्वारा आयोजित स्टडीज को स्पॉन्सर करती हैं।


भविष्य में, प्योरकल्ट ईको फ्रेंडली और सुरक्षित पेटकेयर उत्पादों में विविधता लाने की उम्मीद करता है।