बॉलीवुड और क्रिकेट की दुनिया की बड़ी हस्तियां कर रही हैं स्टार्टअप्स में करोड़ों का निवेश

By जय प्रकाश जय
July 03, 2019, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:33:06 GMT+0000
बॉलीवुड और क्रिकेट की दुनिया की बड़ी हस्तियां कर रही हैं स्टार्टअप्स में करोड़ों का निवेश
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

"भारत का मौजूदा स्टार्टअप परिदृश्य दुनिया के बड़े कैपिटल वेंचर्स को ही नहीं, देश के सैकड़ों एंजेल इन्‍वेस्‍टर को भी आकर्षित करने लगा है। दस लोगों का एक ग्रुप अब तक 425 स्टार्टअप्स को फंडिंग कर चुका है। हाल के वर्षों में बॉलीवुड और क्रिकेट की एक दर्जन से अधिक बड़ी हस्तियां स्टार्टअप की दुनिया में दाखिल हो चुकी हैं। "



Startups in bollywood

क्रमश: अमिताभ बच्चन, अक्षय कुमार, महेंद्र सिंह धोनी और विराट कोहली



भारत में स्टार्टअप की दुनिया तेजी से बदल रही है। स्टार्टअप ईकोसिस्‍टम न सिर्फ दुनिया के बड़े कैपिटल वेंचर्स बल्कि देश के सैकड़ों एंजेल इन्‍वेस्‍टर को भी आकर्षित करने लगा है। हाल के वर्षों में इस ओर बॉलीवुड और क्रिकेट हस्तियों का भी रुझान बढ़ा है। इसीलिए अब हमारे देश में प्रौद्योगिकी मंच के इस्तेमाल के लिए मैसेजिंग ऐप व्हाट्सएप कंपनी भारतीय स्टार्टअप्स के साथ अपने संपर्कों को व्यापक बना रही है। वह प्रौद्योगिकी कंपनी के रूप में भारतीय स्टार्टअप व्यवस्था में एक महत्वपूर्ण साझीदार की भूमिका निभाना चाहती है, साथ ही भारत में स्टार्टअप समुदाय के साथ संपर्क के विभिन्न उपायों पर विचार कर रही है।


भारत में स्टार्टअप्स से रोजगार के नए अवसर पैदा हो रहे हैं। वर्ष 2014 में स्टार्टअप से साढ़े छह हजार और 2015 में करीब 80 हजार लोगों को नौकरियां मिलीं। देश में स्टार्टअप की संख्या हर साल बढ़ रही है। अनुमानतः अगले साल तक देश में साढ़े ग्यारह हजार स्टार्टअप और शुरू हो जाने पर इस क्षेत्र में  रोजगार के ढाई लाख अवसर आने वाले हैं। जरा बारीकी से देखें, तो भारत के मौजूदा स्टार्टअप परिदृश्य की विराटता समझ में आती है।


हाल के वर्षों में बॉलीवुड सितारे भी स्टार्टअप्स में अपना आर्थिक भविष्य सुरक्षित मानने लगे हैं। वे फूड, हेल्थ और सोशल मीडिया से जुड़े तमाम तरह के स्टार्टअप्स में निवेश कर रहे हैं। अभिनेता अक्षय कुमार ने वियरेबल टेक स्टार्टअप गोकी में, सुशांत सिंह राजपूत ने इनसाई वेंचर्स में और अर्जुन कपूर ने फूड डिलीवरी स्टार्टअप फूडक्लाउड डॉट इन में निवेश कर रखा है। शाहिद कपूर ने योगा और वेलनेस स्टार्टअप सर्वा में फंडिंग की है। अभिनेत्री तापसी पन्नू, सौम्या टंडन और रणवि‍जय सिंह के लिए भी स्टार्टअप्स फायदे का सौदा साबित हो रहे हैं।


गौरतलब है कि सलमान खान 'यात्रा डॉटकॉम' में, अमिताभ बच्चन स्टार्टअप 'जिद्दू' में, आमिर खान बेंगलुरू के ऑनलाइन फर्नीचर रेंटल प्लेटफॉर्म 'फरलेंको' में करोड़ों का निवेश कर चुके हैं। इनके अलावा प्रियंका चोपड़ा का 'डेटिंग एप बंबल' में, ऋतिक रोशन का 'क्योर डॉट फिट' में, जैकलीन फर्नांडीज का 'रेकयन बेवरेजेस' में, करिश्मा  कपूर का 'बेबीओेये' में, बोमन ईरानी का ‘रूटर’ में, माधुरी दीक्षित का 'गोकी' में, फरहान अख्तर का फिल्म सर्च एप 'फ्लिकबे' में, शिल्पा शेट्टी का 'होम बायर्स' में, शान का 'हैपीडेमिक' में, कुणाल कपूर का 'केटो' में, गुल पनाग का 'मोबीफिट' में तो मनोज वाजपेयी का 'ओटीटी' में करोड़ों रुपए का निवेश है।




इनवेस्टर्स की दिलचस्पी के लिहाज से चूंकि स्टार्टअप सेगमेंट में सबसे तेज ग्रोथ अब फिटनेस सेगमेंट में हो रही है, इस क्षेत्र में टॉप क्रिकेटर्स भी भारी निवेश करने लगे हैं। सचिन तेंदुलकर स्मार्ट्रोन के बाद कन्ज्यूमर टूल्स और क्लाउड स्टोरेज, राउटर्स आदि के साथ साझेदारी में व्यस्त रहने लगे हैं। युवराज सिंह ने व्योमो, ऊबर और जेटसेटगो जैसी कंपनियों में निवेश कर रखा है। महेंद्र सिंह धोनी ने रन एडम में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी ले रखी है तो विराट कोहली ने स्टेपैथलॉन लाइफस्टाइल के साथ जॉइंट वेंचर में नया फिटनेस वेंचर शुरू किया है। शिखर धवन और उनकी पत्नी एशा अपना एक होम डेकोर ब्रांड 'DaONE Home' लांच कर चुके हैं।

 

इस क्षेत्र को प्रोत्साहित करने के लिए केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने इस साल 342 स्टार्टअप कंपनियों को एंजल कर से छूट दे दी है। स्टार्टअप्स में निवेश का भी ट्रेंड लगातार बढ़ता जा रहा है। रतन टाटा अब तक 15 से ज्यादा स्टार्टअप्स में इन्वेस्टमेंट कर चुके हैं। भारत में तेजी से बढ़ता स्टार्टअप ईकोसिस्‍टम न सिर्फ दुनिया के बड़े कैपिटल वेंचर्स बल्कि देश के सैकड़ों एंजेल इन्‍वेस्‍टर को भी आकर्षित कर रहा है। भारत में दस लोगों का एक ग्रुप है, जिन्होंने पिछले एक दशक में 425 स्टार्टअप को फंडिंग की है।


एंजेल इंवेस्टर ज्यादातर स्टार्टअप के शुरूआती दिनों में फाइनेंशियल मदद करते हैं। गूगल इंडिया के प्रबंध निदेशक राजन आनंदन के पोर्टफोलियो में 80 से अधिक स्टार्टअप शामिल हैं। आनंदन ने ज्यादातर ई-कॉमर्स और क्लाउड-आधारित सर्विस देने वाली कंपनियों में निवेश किया है। पीपल ग्रुप के फाउंडर और सीईओ एवं शादी डॉट कॉम और मकान डॉट कॉम के ओनर अनुपम गोपाल मित्तल ने 50 से अधिक स्टार्टअप्स में पैसा लगा रखा है।

 

चार इन्‍वेस्टमेंट ग्रुप के एक्टिव मेंबर संजय मेहता के पोर्टफोलियो में 30 स्टार्टअप हैं, जबकि ओला में पैसा लगाने वाले जिशान हयात की 30 स्टार्टअप में हिस्सेदारी है। इंफोसिस के पूर्व सीएफओ टीवी मोहनदास पई 40 स्टार्टअप में एंजेल इन्‍वेस्टर हैं। पई वर्तमान में मणिपाल ग्लोबल एजुकेशन के चेयरमैन हैं और मलेशिया, एंटीगुआ, दुबई और नेपाल में अपनी यूनिवर्सिटी कैम्पस चला रहे हैं। दूसरे दिग्गज याहू इंडिया के पूर्व रिसर्च एंड डेवलपमेंट हेड शरद शर्मा ने आईटी स्टार्टअप में पैसा लगा रखा है। टाइम्स इंटरनेट के फाउंडर राजेश साहनी ने 35 स्टार्टअप में एंजेल इन्‍वेस्टमेंट किया है। इसके अलावा आनंद लाडसरिया के पोर्टफोलियो में 35, दिल्ली के सुनील कालरा के पास 50 और रेहान यार खान ने 20 से अधिक स्टार्टअप में पैसा लगा रखा है।