चीनी सरकार ने बोला बड़ा झूठ! कोरोना वायरस ला सकता है महाप्रलय

7th Feb 2020
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

चीनी सरकार द्वारा कोरोना वाइरस से हुई मौतों के आंकड़ों को लेकर अब बहस जारी है। चीनी टेक कंपनी द्वारा कुछ समय के लिए जारी किए गए आंकड़े कुछ और ही हालात बयां कर रहे हैं।

कोरोना वाइरस चीन के वुहान शहर से फैला है।

कोरोना वाइरस चीन के वुहान शहर से फैला है।



चीन में कोरोना वायरस के प्रकोप को लेकर बढ़ती चिंताओं के बीच एक नई रिपोर्ट सामने आई है जिसमें ये दावा किया गया है कि आधिकारिक तौर पर रिपोर्ट की गई मौतों की तुलना में वास्तविक मौतों की संख्या काफी अधिक हो सकती है। गुरुवार की सुबह तक वुहान से शुरू हुई इस महामारी से 560 मौतें दर्ज की गई थीं, जबकि अन्य 28,000 लोगों को इस घातक वाइरस से संक्रमित बताया गया था


लेकिन अब ताइवान न्यूज़ की रिपोर्ट बताती है कि वायरस बहुत अधिक गंभीर हो सकता है। चीनी टेक समूह टेनसेंट से एक कथित लीक का हवाला देते हुए रिपोर्ट ने संकेत दिया कि कोरोना वायरस से होने वाली मौतों की कुल संख्या पहले ही 24,589 हो गई थी। यह आंकड़ा आधिकारिक तौर पर पुष्टि की गई मौतों से कहीं ज्यादा है।


ताइवान न्यूज़ के अनुसार यह डेटा टेंसेंट से आया है। कंपनी ने इसे "एपिडेमिक सिचुएशन ट्रैकर" नाम के अपने वेबपेज पर साझा किया था। कंपनी की इस गलती से यह खुलासा हुआ कि चीन में कोरोना फैलने की वास्तविक सीमा क्या हो सकती है।


हालांकि इन आंकड़ों को प्रकाशित करने के बाद कुछ समय के भीतर ही टेंसेंट ने अपने वेबपेज पर सरकार द्वारा जारी आधिकारिक डाटा अंकित कर दिया है।


डब्लूएचओ के अनुसार कोरोना वायरस के प्रकोप की खबर सबसे पहले 31 दिसंबर 2019 को चीन के वुहान से आई थी। तब से महामारी वैश्विक तटों तक फैल गई है और इसने दुनिया भर में व्यापार और यात्रा को प्रभावित किया है।


इस वायरस को फैलने से रोकने के लिए कई वैश्विक दिग्गज और बड़े उद्यमी भी आगे आए हैं, जो प्रकोप का पता लगाने, इलाज और उपचार में सहायता के लिए बड़ी राशि का दान भी कर रहे हैं।


इन व्यक्तियों और कंपनियों में वैश्विक स्तर के कुछ नाम जैसे कि अलीबाबा के संस्थापक जैक मा, बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन और चीनी टेक कंपनियां बाइटडांस, टेनसेंट और हुआवे आदि शामिल हैं।






  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Our Partner Events

Hustle across India