कोरोना हीरो: रांची का ये ऑटो ड्राइवर मुफ्त में मरीजों को पहुंचा रहा अस्पताल

झारखंड की राजधानी रांची के ऑटो ड्राइवर रवि अग्रवाल कोराना महामारी के बीच मरीजों को नि:शुल्‍क अस्‍पताल पहुंचा रहे हैं।

कोरोना हीरो: रांची का ये ऑटो ड्राइवर मुफ्त में मरीजों को पहुंचा रहा अस्पताल

Saturday April 24, 2021,

2 min Read

"झारखंड के रांची में ऑटो चालक रवि अग्रवाल मरीजों को निशुल्‍क अस्‍पताल पहुंचा रहे हैं। कोरोना महामारी के वक्त जब एंबुलेंस की कमी है, ऐसे में रांची के ऑटो रिक्शा चालक रवि लोगों को मुफ्त में अस्‍पातल पहुंचा रहे हैं। रवि ने अपने ऑटो में आपातकालीन परिस्थिति में निशुल्‍क सेवा का पोस्‍टर भी चिपका रखा है।"

ऑटो चालक रवि 15 अप्रैल से लोगों को मुफ्त में अस्पताल की सवारी करा रहे है। (फोटो साभार: ANI)

ऑटो चालक रवि 15 अप्रैल से लोगों को मुफ्त में अस्पताल की सवारी करा रहे है। (फोटो साभार: ANI)

इन दिनों कोरोना महामारी अपने चरम पर है। इसके चलते स्वास्थ्य सेवाएं लड़खड़ा गई है। ऐसे में देशभर से लोगों का हुजूम मदद के लिए आगे आ रहा है। हर कोई लोगों की जिंदगियां बचाने के लिए अपनी तरफ से जो भी मदद हो सके, कर रहा है।


इसी कड़ी में झारखंड की राजधानी रांची का एक ऑटो ड्राइवर जरूरतमंद मरीजों को मुफ्त में अस्पताल पहुँचा रहा है।


जागरण की एक रिपोर्ट के मुताबिक, "झारखंड के रांची में ऑटो चालक रवि अग्रवाल मरीजों को निशुल्‍क अस्‍पताल पहुंचा रहे हैं। कोरोना महामारी के वक्त जब एंबुलेंस की कमी है, ऐसे में रांची के ऑटो रिक्शा चालक रवि लोगों को मुफ्त में अस्‍पातल पहुंचा रहे हैं। रवि ने अपने ऑटो में आपातकालीन परिस्थिति में निशुल्‍क सेवा का पोस्‍टर भी चिपका रखा है।"


ज्‍यादातर अस्‍पताल ऑक्‍सीजन की कमी और बेड न होने की समस्‍या से जूझ रहे हैं। वहीं, कई इलाकों में मरीजों को अस्‍पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस भी समय पर उपलब्‍ध नहीं हो पा रही हैं। 


समाचार एजेंसी ANI के अनुसार, ऑटो चालक रवि 15 अप्रैल से लोगों को मुफ्त में अस्पताल की सवारी करा रहा है।

रवि ने ANI के हवाले से कहा,"मैंने यह निर्णय 15 अप्रैल को राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (RIMS) में एक महिला को पहुँचाने के बाद लिया था, जिसे सभी ड्राइवरों ने मना कर दिया था।"


रवि ने आगे कहा, "मैंने अपना नंबर सोशल मीडिया पर डाल दिया है ताकि जरूरत पड़ने पर लोग मुझसे संपर्क कर सकें।"


ऑटो ड्राइवर की इस पहल को खूब सराहा जा रहा है। लोग उन्हें कोरोना हीरो कह रहे हैं।


Edited by Ranjana Tripathi