कोरोना से लड़ने में कुछ इस तरह सरकार की मदद कर रहा केरल का यह दुकानदार, लोगों को मात्र 2 रुपये में दे रहा मास्क

By yourstory हिन्दी
March 17, 2020, Updated on : Wed Mar 18 2020 06:10:40 GMT+0000
कोरोना से लड़ने में कुछ इस तरह सरकार की मदद कर रहा केरल का यह दुकानदार, लोगों को मात्र 2 रुपये में दे रहा मास्क
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश में कोरोना वायरस (COVID-19) का पहला संक्रमित केस केरल से ही आया था। कोरोना से बचने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी अगर कोई चीज है तो वह मास्क है। कोरोना के कारण बढ़ी मास्क की मांग को देखते हुए कई दुकानदारों ने इसकी कालाबाजारी करना शुरू कर दी। यहां तक कि लोगों को 50 रुपये का मास्क 200 रुपये तक में खरीदना पड़ रहा है। ऐसे में केरल में एक मेडिकल शॉप वाला जरूरतमंद लोगों को मात्र 2 रुपये में मास्क उपलब्ध करवाकर चर्चा का विषय बना हुआ है।


k

फोटो क्रेडिट: Twitter/ANI



केरल में कोच्चि सर्जिकल नाम के मेडिकल स्टोर पर लोगों को केवल 2 रुपये में मास्क मिल रहा है। पिछले 2 दिन में इस स्टोर पर 5000 मास्क बिके हैं। केरल में कोच्चि सर्जिकल मेडिकल स्टोर के को-ऑनर नदीम ने बताया कि उन्होंने मात्र 2 दिनों में 5 हजार से अधिक मास्क बेचे हैं। साथ ही उन्होंने बताया,

'हमने फैसला किया था कि हम मास्क को उचित कीमत पर बेचेंगे। खासतौर पर अस्पताल के स्टाफ और छात्रों को।' 

कोच्चि सर्जिकल के को-ऑनर तसलीम पीके ने बताया,

'हम पिछले 8 सालों से मास्क 2 रुपये में बेच रहे हैं। लेकिन अब हर जगह कीमत बढ़ रही है। जहां हम 8 या 10 रुपये में मास्क खरीदकर 2 रुपये में बेच रहे हैं, वहीं बाकी दुकानदार इसके लिए 25 रुपये वसूल रहे हैं।'


मालूम हो, सरकार ने अगले 100 दिन के लिए फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजर को जरूरी सामानों की लिस्ट में शामिल कर दिया है। इससे पहले राज्य में मास्क की कमी को पूरा करने के लिए केरल सरकार ने अनूठी पहल की है। केरल की पिनाराई विजयन सरकार ने जेलों में बंद कैदियों को मास्क बनाने के काम में लगा दिया है। राज्य की तिरूवनंतपुरम जेल से मास्क का पहला बैच भी मिल गया। कैदियों से मास्क बनाने की इस पहल के बारे में केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने ट्वीट कर जानकारी दी।




कोरोना से लड़ने के लिए सरकार के प्रयासों के साथ-साथ जनसहभागिता का होना बेहद जरूरी है। लोगों के सामूहिक प्रयास से ही इस बीमारी को मात दी जा सकेगी। ऐसा ही एक प्रयास हुबली में एक बस ड्राइवर और बस कंडक्टर कर रहा है। वह अपनी बस में सफर करने वाले यात्रियों को कोरोना के लिए जागरूक करते हुए फ्री मास्क बांट रहा है। बस के कंडक्टर एमएल नदफ ने सरकार से अपील की कि वह लोगों को फ्री मास्क उपलब्ध करवाए।





आपको बता दें कि भारत में कोरोना के मरीजों की संख्या ने 100 का आंकड़ा पार कर लिया है। अब तक देश में कुल 116 मरीज कोरोना संक्रमित हैं। इनमें सबसे अधिक 38 मरीज महाराष्ट्र से हैं। इस वायरस के कारण दो लोगों की मौत हो चुकी है। इनमें पहली मौत कर्नाटक के कलबुर्गी में और दूसरी मौत पश्चिमी दिल्ली के जनकपुरी इलाके में हुई।


वहीं अगर दुनियाभर की बात करें तो इस वक्त कोरोना चीन से अधिक इटली पर कहर बनकर टूटा है। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो रविवार को कोरोना से इटली में एक दिन में ही 300 से अधिक लोगों की जान गई है।