कोरोना वायरस का असर! व्हाट्सएप, टिकटॉक को पछाड़ भारत में टॉप एंड्रॉइड ऐप बना ज़ूम

By Sohini Mitter
April 04, 2020, Updated on : Sat Apr 04 2020 08:31:30 GMT+0000
कोरोना वायरस का असर! व्हाट्सएप, टिकटॉक को पछाड़ भारत में टॉप एंड्रॉइड ऐप बना ज़ूम
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

सिलिकॉन वैली स्टार्टअप Zoom.us रिमोट वर्किंग और वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सॉफ्टवेयर में माहिर है और अब जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस (COVID-19) की चपेट में है तो ऐसे में इस स्टार्टअप को जबरदस्त फायदा हुआ है। कंपनी की वैल्यूएशन आसमान छू रही है, और बेहद तेज गति से इसके यूजर्स बढ़ रहे हैं। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है वर्क फ्रॉम होम। दरअसल पूरी दुनिया में ज्यादातर लोग इस समय वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं।


k

Eric Yuan, Zoom के फाउंडर



इस ऐप की बढ़ती सफलता को लेकर ऐडवीक ने हाल ही में इसे "किंग ऑफ द क्वारंटाइन इकोनॉमी" कहा है। जूम अब भारत में टॉप एंड्रॉइड ऐप है, जिसने सामान्य तौर पर टॉप पर रहने वाले टिकटॉक, इंस्टाग्राम और यहां तक कि व्हाट्सएप को भी पीछे छोड़ दिया है। Google Play Store पर वीकली रैंकिंग नए डाउनलोड्स पर आधारित है। 29 मार्च को टॉप पर पहुंचने से पहले 28 मार्च को ज़ूम #2 स्थान पर पहुंच गया था।


इस बीच, व्हाट्सएप गूगल प्ले स्टोर इंडिया पर शीर्ष पांच से बाहर हो गया। बता दें कि फेसबुक के स्वामित्व वाला व्हाट्सएप 400 मिलियन यूजर्स के साथ लगातार टॉप दो डाउनलोड किए गए ऐप में से एक रहा है।


भारत में ज़ूम का बढ़ना विशेष रूप से प्रभावशाली है क्योंकि इस बाजार में पारंपरिक रूप से सोशल मीडिया, शॉर्ट-वीडियो और मनोरंजन ऐप का वर्चस्व रहा है। हालांकि भारत में इसके यूजर्स की सही संख्या ज्ञात नहीं है, पर यह स्पष्ट है कि ज़ूम अब केवल उद्यमों तक सीमित नहीं है।


कोरोनावायरस के बाद की दुनिया में, जहां लाखों लोग अपने घरों के अंदर "बंद" हैं, वहीं ज़ूम ने दुनिया के लिए उन्हें एक विडों के रूप में सेवा की है। वर्क कॉन्फ्रेंस से लेकर दोस्तों से बात करने, वीडियो डेटिंग तक, जूम के स्क्रीनशॉट्स ने इंटरनेट को प्रभावित किया है।


k

Google Play Store India के टॉप 12 ऐप्स


प्लेटफॉर्म ने उद्यमियों से भी काफी सराहना अर्जित की है। टाइम्स इंटरनेट के सीईओ सत्यन गजवानी ने एक ट्वीट में लिखा, "[इसका उदय] जूम वीडियो की क्वालिटी का वास्तविक प्रमाण है कि कम नेटवर्क प्रभाव वाला प्रोडक्ट, और प्रतिबंधित मुक्त प्रोडक्ट, शुद्ध मुफ्त वीडियो प्रोडक्ट [व्हाट्सएप] को पीछे छोड़ रहा है। और वो भी भारत में!”


वैश्विक रूप से, ज़ूम ने 2020 की पहली तिमाही में ही इतने अधिक मंथली एक्टिव यूजर्स हासिल किए हैं जो जितने पिछले पूरे साल में नहीं हुए थे। इसका स्टॉक पिछले तीन महीनों में दोगुना से अधिक हो गया है, और ज़ूम अब उबर और लिफ़्ट (Lyft) के संयुक्त की तुलना में अधिक वैल्यू वाली कंपनी बन गई है।


ब्लूमबर्ग बिलियनेयर्स इंडेक्स के अनुसार, स्टार्टअप के अरबपति-संस्थापक एरिक युआन ने इस साल अपने खजाने में 4.29 बिलियन डॉलर जोड़े हैं और उनकी संपत्ति अब 7.86 बिलियन डॉलर है। जहां जूम एंटरप्राइज यूजर्स के लिए एक पेड प्रोडक्ट है, इसने स्कूलों और विश्वविद्यालयों के लिए 40 मिनट की रिमोट मीटिंग लिमिट को हटा दिया है ताकि सहज वर्चुअल लर्निंग को सक्षम किया जा सके।


प्रीमियम यूजर्स $14.99 प्रति माह के लिए जूम प्रो प्लान का लाभ उठा सकते हैं या प्रति माह $49 में ज़ूम रूम पर एक समर्पित वर्चुअल कॉन्फ्रेंस रूम बुक कर सकते हैं।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close