एलन मस्क और उनकी कंपनियों पर ठोका 200 खरब रुपये का मुकदमा, लेकिन क्यों?

By रविकांत पारीक
June 17, 2022, Updated on : Fri Jun 17 2022 06:57:39 GMT+0000
एलन मस्क और उनकी कंपनियों पर ठोका 200 खरब रुपये का मुकदमा, लेकिन क्यों?
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

Tesla के सीईओ और SpaceX के फाउंडर और सीईओ एलन मस्क बीते काफी समय से लगातार सुर्खियों में है. हाल ही में एक शख्स ने उन पर और उनकी कंपनियों (Tesla और SpaceX) पर भारीभरकम रकम का मुकदमा दायर किया है.


रिपोर्ट्स के मुताबिक, लोकप्रिय क्रिप्टोकरेंसी Dogecoin को सपोर्ट करने के लिए उन्होंने कथित तौर पर एक पिरामिड स्कीम चलाई थी. इसी पिरामिड स्कीम का हवाला देते हुए एक क्रिप्टो इन्वेस्टर ने 258 बिलियन डॉलर (करीब 20 अरब रुपये) का मुकदमा दायर किया है. मस्क की दो कंपनियों — Tesla और SpaceX पर भी मुकदमा दायर किया गया है.


दरअसल, पिछले साल Dogecoin ने अचानक बहुत लोकप्रियता हासिल कर ली थी. क्योंकि दुनिया के सबसे अमीर शख्स एलन मस्क ने कहा था कि वह क्रिप्टोकरेंसी को टेस्ला कारों के लिए पेमेंट के रूप में स्वीकार करेंगे.

crypto-crash-elon-musk-sued-258-billion-dogecoin-tesla-spacex

फोटो क्रेडिट: Reuters

अब, अमेरिका के मैनहट्टन में वादी कीथ जॉनसन ने संघीय अदालत में शिकायत दायर की है. कीथ ने मस्क, इलेक्ट्रिक कार कंपनी Tesla Inc. और स्पेस टूरिज्म कंपनी SpaceX पर Dogecoin को सपोर्ट कर इसकी कीमत बढ़ाने के लिए पिरामिड स्कीम चलाने का आरोप लगाया है.


जैसा कि दुनियाभर के क्रिप्टो मार्केट की हालत इन दिनों पतली है, Dogecoin समेत सभी क्रिप्टोकरेंसीज की कीमतों में भारी गिरावट आई है, जिससे इन्वेस्टर्स को काफी खामियाजा भुगतना पड़ रहा है.


कीथ जॉनसन ने कहा कि उन्होंने Dogecoin में निवेश करने के बाद अपना पैसा खो दिया. उन्होंने खुद को "Dogecoin क्रिप्टो पिरामिड स्कीम" का शिकार बताया है.


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दायर मुकदमें में कहा गया है कि "प्रतिवादी 2019 से जानते हैं कि Dogecoin की कोई वैल्यू नहीं है. उन्होंने फिर भी Dogecoin को अपने व्यापारिक लाभ के लिए बढ़ावा दिया है. मस्क ने लाभ, जोखिम और मनोरंजन के लिए Dogecoin पिरामिड स्कीम चलाई और फिर हेरफेर किया."

जॉनसन ने अपनी शिकायत में वॉरेन बफेट, बिल गेट्स समेत उन लोगों की टिप्पणियों का उल्लेख किया है जो क्रिप्टोकरेंसी की वैल्यू पर सवाल उठाते रहे हैं. उन्होंने इस मुकदमे को क्लास एक्शन सूट (class action suit) के रूप में शामिल करने के लिए कहा है. उन्होंने कहा कि 2019 से Dogecoin में निवेश कर नुकसान झेल चुके लोगों की ओर से मुकदमा दायर किया जा रहा है.


वादी (जॉनसन) ने अपनी शिकायत में उल्लेख किया है कि Dogecoin के लिए ट्रेडिंग उस समय शुरू हुई जब एलन मस्क "सैटरडे नाइट लाइव" के लिए एक होस्ट के रूप में आए. इस दौरान उन्होंने Dogecoin को सपोर्ट करते हुए बात की. मस्क के सपोर्ट के बाद इसे गज़ब की लोकप्रियता हासिल हुई.


जब से मस्क ने वर्चुअल करेंसी को बढ़ावा देना शुरू किया, तब इन्वेस्टर्स को लगभग 86 अरब डॉलर का नुकसान हुआ, जॉनसन का अनुमान है. वह चाहते हैं कि मस्क इन्वेस्टर्स को इस राशि की भरपाई करें. जॉनसन ने Dogecoin की तुलना पिरामिड स्कीम से की. क्योंकि वर्चुअल करेंसी का कोई आंतरिक मूल्य नहीं है और न ही यह एक प्रोडक्ट है.


जॉनसन ने कहा कि उनका मानना ​​​​है कि मस्क ने अपने प्रचार के माध्यम से "Dogecoin की कीमत, मार्केट कैप और ट्रेडिंग वॉल्यूम" में वृद्धि की. उन्होंने दायर मुकदमे में मस्क के ट्वीट्स का भी हवाला दिया है.


CoinMarketCap के आंकड़ों के अनुसार, Dogecoin की कीमतें शुक्रवार, 17 जून को 0.05606 डॉलर पर कारोबार कर रही थीं, जिसमें पिछले 24 घंटों में 7 प्रतिशत से अधिक की गिरावट आई है.