नॉन-डेयरी मार्केट में उतरेगी Amul; नेस्ले, ब्रिटानिया और ITC को टक्कर देने की तैयारी

जनवरी में अमूल के नए मैनेजिंग डायरेक्टर की जिम्मेदारी संभालने वाले जयेन मेहता ने एक इंटरव्यू में कहा कि अमूल अपना दायरा नॉन-डेयरी प्रोडक्ट्स की कैटेगरी में बढ़ाने की तैयारी कर रही है और इसके साथ ही इसका लक्ष्य् पूरी तरह से फूड्स और बेवरेजेज कंपनी बनने का है.

नॉन-डेयरी मार्केट में उतरेगी Amul; नेस्ले, ब्रिटानिया और ITC को टक्कर देने की तैयारी

Tuesday March 21, 2023,

2 min Read

डेयरी प्रोडक्ट्स बनाने वाली कंपनी अमूल (Amul) ने अब नॉन-डेयरी ब्रांड्स में उतरने और नेस्ले Nestle, ब्रिटानिया Britannia Industries, कोका-कोला Coca Cola और आईटीसी ITC Limited जैसी इस सेक्टर की दिग्गज कंपनियों को टक्कर देने की तैयारी कर ली है.

हाइलाइट्स

अमूल का फूड्स और बेवरेजेज कंपनी बनने का लक्ष्य.

नेस्ले, ब्रिटानिया, कोका-कोला और आईटीसी को टक्कर देने की तैयारी.

अमूल का स्वामित्व गुजरात सहकारी मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन के पास है.

जनवरी में अमूल के नए मैनेजिंग डायरेक्टर की जिम्मेदारी संभालने वाले जयेन मेहता ने इकॉनमिक टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में कहा कि अमूल अपना दायरा नॉन-डेयरी प्रोडक्ट्स की कैटेगरी में बढ़ाने की तैयारी कर रही है और इसके साथ ही इसका लक्ष्य पूरी तरह से फूड्स और बेवरेजेज कंपनी बनने का है.

मेहता ने कहा कि डेयरी हमारा मूल कारोबार है, लेकिन हमारे पास तेजी से आगे बढ़ने का एक मजबूत रोडमैप है. हम रसोई में हर खाद्य श्रेणी के उपभोक्ताओं का उपयोग करना चाहते हैं, और हम इसके बारे में स्पीड, स्केल और बड़े निवेश के साथ जा रहे हैं.

अमूल 61,000 करोड़ रुपये का ब्रांड है और इसका स्वामित्व गुजरात सहकारी मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन के पास है. कंपनी ने स्पीड और स्केल के साथ तेजी लाने के लिए कैटेगरीज की पहचान की है. इनमें नॉन-डेयरी पेय पदार्थों, स्नैक्स, दाल, कुकीज़, एडिबल ऑयल,

ऑर्गेनिक फूड्स और फ्रोजेन फूड प्रोडक्ट्स शामिल हैं. अमूल प्रीमियम आइस क्रीम के लिए "आइस लाउंज" पार्लर भी स्थापित कर रहा है.

हाल ही में, भारत के अन्य FMCG ब्रांडों ने भी अधिक उत्पादों और श्रेणियों को बनाने की योजना की घोषणा की. पिछले नवंबर में, ब्रिटानिया ने फ्रांसीसी पनीर निर्माता Bel SA के साथ एक संयुक्त उद्यम की घोषणा की. नेस्ले और आईटीसी ने भी मैन्यूफैक्चरिंग और इनोवेशन में वृद्धि को आगे बढ़ाने की योजना की घोषणा की है.

मेहता ने कहा, हम प्रतिस्पर्धा के बारे में चिंतित नहीं हैं, क्योंकि अधिक कंपनियां प्रोडक्ट्स और कैटेगरीज के निर्माण में मदद करते हैं. हम कोका-कोला के साथ सेल्ट्ज़र्स, पनीर और कुकीज़ में ब्रिटानिया के साथ, स्टेपल में आईटीसी के साथ, और इसी तरह अन्य कंपनियों के साथ भी प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें
भारतीय AI कंपनी को खरीदेगी Accenture, जानिए यह कौन सी कंपनी है


Edited by Vishal Jaiswal