नेटफ़्लिक्स और हॉट स्टार के ज़माने में दर्शकों को टीवी के माध्यम से लुभा रहा दिल्ली का यह स्टार्टअप

By Rashi Varshney
December 11, 2019, Updated on : Thu Dec 12 2019 12:00:16 GMT+0000
नेटफ़्लिक्स और हॉट स्टार के ज़माने में दर्शकों को टीवी के माध्यम से लुभा रहा दिल्ली का यह स्टार्टअप
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

नेटफ़्लिक्स, ऐमज़ॉन प्राइम और हॉटस्टार जैसे ऑनलाइन चैनल्स के आने के बाद से देश में कॉन्टेन्ट के बाज़ार का नियंत्रण पूरी तरह से ग्राहकों या यूं कहें कि दर्शकों के हाथ में आ गया है। अब वह जब चाहें अपनी मर्ज़ी के हिसाब का कॉन्टेन्ट देख सकते हैं, लेकिन बैंकर से ऑन्त्रप्रन्योर बनीं 29 वर्षीय उर्वी अग्रवाल का मानना है कि इन प्लैटफ़ॉर्म्स पर प्रायः भारतीयों को केंद्र में रखते हुए और विशेष रूप से फ़िटनेस, हेल्थ और एंटरटेन्मेंट स्पेस पर आधारित कॉन्टेन्ट की कमी रहती है। 


इस बात को समझने के बाद उर्वी अग्रवाल ने इस संभावना को भुनाने का फ़ैसला लिया। उन्होंने एक हाई-क्वॉलिटी कॉन्टेन्ट स्टार्टअप जेओपी की शुरुआत की, जो प्रमुख रूप से टीवी पर चैनल क्यूरेशन, डिस्ट्रीब्यूशन और सिंडीकेशन पर काम करता है। उर्वी ने 2014 में इसे लॉन्च किया था।


k

उर्वी अग्रवाल, फाउंडर एंड सीईओ JOP नेटवर्क

जेओपी अपने द्वारा प्रायोजित कॉन्टेन्ट को भारत और अंतरराष्ट्रीय बाज़ारों, दोनों ही के हिसाब से तैयार करता है और इसे अपने चैनलों और ग्लोबल टेलिविज़न नेटवर्क्स जैसे कि डिस्कवरी, फॉक्स ट्रैवलर, एयरटेल डीटीएच, टाटा स्काय, ऐस्ट्रो मलेशिया, जीएआईए यूएस के माध्यम से डिस्ट्रीब्यूट करता है। इसके अलावा, स्टार्टअप इन-फ़्लाइट चैनल्स जैसे कि कैथे पैसिफ़िक, लुफ़्थान्सा और कतर एयरवेज़ आदि के माध्यम से भी अपने कॉन्टेन्ट का डिस्ट्रीब्यूशन करता है। स्टार्टअप फ़िटनेस स्टूडियो, हॉलिवुड मसाला और लाइफ़ मंत्रा नाम से अपने चैनल्स ऑपरेट करता है।


2011 में उर्वी ने अपने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की और ई ऐंड वाय, दिल्ली से अपने प्रोफ़ेशनल करियर की शुरुआत की। ऑडिट वर्टिकल में कुछ महीनों तक काम करने के बाद, उन्होंने ई ऐंड वाय में मीडिया, टेक और टेलिकॉम इनवेस्टमेंट बैंकिंग डिविज़न में काम करना शुरू किया। 


उर्वी बताती हैं,

"ब्रॉडकास्टर्स के साथ कुछ डील्स में काम करने के बाद उन्हें इस बात का एहसास हुआ कि भारतीय परिदृश्य में विशेषीकृत कॉन्टेन्ट वाले चैनलों की कमी है, जबकि विदेशों में लाइफ़स्टाइल संबंधी ज़रूरतों से लेकर फ़िटनेस और फ़िशिंग तक, विशेषीकृत चैनल्स मौजूद हैं।"  


इस बात को समझने के बाद उन्होंने अपनी नौकरी छोड़ जेओपी नेटवर्क शुरू करने का फ़ैसला लिया और शुरुआत करने के लिए उन्होंने अपने माता-पिता की मदद से 7 करोड़ रुपए का निवेश जुटाया और स्टार्टअप की शुरुआत की। उर्वी ने न्यूयॉर्क फ़िल्म ऐकेडमी से प्रोडक्शन कोर्स भी किया है।




उम्र की तुलना में सफलता बेहद बड़ी!

अपनी चुनौतियों के संबंध में चर्चा करते हुए उर्वी बताती हैं कि लोग समझते थे कि इतने बड़े प्रोजेक्ट को अंजाम देने के लिए उनकी उम्र बेहद कम थी।


वह बताती हैं,

"जब मैं अपने प्रोडेक्ट के बारे में बात करने जाती थी या प्रेजेंटेशन देती थी तो लोग मुझे इंटर्न या असोसिएट समझते थे।"


उर्वी ने जानकारी दी कि उनकी कंपनी ने शुरुआती दो सालों तक दूसरे चैनलों को कॉन्टेन्ट उपलब्ध कराया। स्टार्टअप को पहला बड़ा ब्रेक 2016 में मिला, जब स्टार्टअप ने स्पिरिचुअल लाइफ़स्टाइल चैनल लाइफ़ मंत्रा के लिए ऑस्ट्रेलिया में एसडब्ल्यूआईएफ़टी नेटवर्क के साथ डील साइन की। 2018 में जेओपी ने एयरटेल डीटीएच के साथ एक भारतीय मार्केट के लिए एक वैल्यू ऐडेड सर्विसेज़ (वीएएस) चैनल डील साइन की।

 

भारत में कंपनी का पहला चैनल फ़िटनेस स्टूडियो था, जिसमें शिल्पा शेट्टी, मंदिरा बेदी, विनोद चन्ना, नम्रता पुरोहित और जेम्स क्रॉसली जैसे बड़े सितारों को फ़ीचर किया गया।


उर्वी ने बताया कि इस चैनल की शुरुआत के दो महीनों के भीतर ही उन्होंने एक और चैनल, हॉलिवुड मसाला के लिए एयरटेल डीटीएच के साथ करार किया। इसके अलावा, जेओपी द्वारा तैयार किए शो 30 से ज़्यादा इनफ़्लाइट एंटरटेनमेंट सर्विसेज़ पर प्रसारित होते हैं। कंपनी का दावा है कि उनका कॉन्टेन्ट 30 देशों की 25 मिलियन से भी ज़्यादा ऑडियंस तक पहुंचता है।




ओटीटी बनाम टीवी

उर्वी से जब ऑनलाइन स्ट्रीमिंग सर्विसेज़ की बढ़ती लोकप्रियता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि भारत में अभी भी हाई-स्पीड इंटरनेट की पहुंच अधिकतर जगहों पर नहीं है और अभी भी देश की आबादी का एक बड़ा हिस्सा मनोरंजन के लिए आज भी टीवी पर ही निर्भर है, बल्कि यूएस जैसी विकसित अर्थव्यवस्थाओं में भी, जहां पर इंटरनेट कनेक्टिविटी बेहतर है, वहां पर टीवी एक बड़े दर्शक वर्ग को आकर्षित करने में आज भी क़ामयाब है।


बिज़नेस मॉडल को कंपनी ने दो हिस्सों में बांट रखा है; पहला कॉन्टेन्ट सेल्स और दूसरा लीनियर चैनल डिस्ट्रिब्यूशन। पहली स्ट्रीम में कंपनी वेलनेस और फ़िटनेस के विषयों पर तैयार किया गया इन-हाउस कॉन्टेन्ट टीवी स्टेशन्स, ओटीटी प्लैटफ़ॉर्म्स और इनफ़्लाइट एंटरटेनमेंट सर्विसेज़ को बेचती है और वहीं लीनियर चैनल डिस्ट्रिब्यूशन के तहत, कंपनी सब्सक्राइबर मॉडल के आधार पर टीवी चैनल्स प्रसारित करती है। हाल में जेओपी एयरटेल डीटीएच और टाटा स्काय के साथ वैल्यू ऐडेड सर्विसेज़ चैनल प्रसारित कर रहा है।


उर्वी ने जानकारी दी कि पिछले साल तक कंपनी हर साल लगभग 2 करोड़ रुपए का रेवेन्यू पैदा कर रही है। उर्वी को अपेक्षा है कि 2019 के ख़त्म होने तक कंपनी 10 करोड़ रुपए का आंकड़ा हासिल कर सकेगी। 


भविष्य की योजनाओं के बारे में बात करते हुए उर्वी ने बताया कि उनकी कंपनी ने दो डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर्स के साथ बड़ी डील्स साइन की हैं और आने वाले साल में कंपनी दो और नए विशेषीकृत कॉन्टेन्ट वाले दो नए चैनल्स शुरू करेगी। उर्वी ने जानकारी दी कि इनमें से एक चैनल बहुभाषीय फ़िल्मों पर केंद्रित होगा। उर्वी ने यह भी बताया कि कंपनी तेज़ी के साथ आगे बढ़ने के लिए बाहरी निवेश पर भी ध्यान केंद्रित कर रही है।