जुलाई में 7.6 प्रतिशत घटी घरेलू उड़ानों के यात्रियों की संख्या

By Vishal Jaiswal
August 18, 2022, Updated on : Mon Aug 29 2022 06:51:45 GMT+0000
जुलाई में 7.6 प्रतिशत घटी घरेलू उड़ानों के यात्रियों की संख्या
आमतौर पर बारिश के मौसम में हवाई यात्रा में कमी आती है. देश की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो के यात्रियों की संख्या जुलाई में 57.11 लाख रही.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

जुलाई महीने में 97 लाख से अधिक यात्रियों ने घरेलू उड़ानों के जरिये यात्रा की. यह जून की 1.05 करोड़ यात्रियों की संख्या के मुकाबले 7.6 प्रतिशत कम है. नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी. डीजीसीए ने अपने मासिक बयान में कहा कि इस साल जनवरी से जुलाई के दौरान कुल 6.69 करोड़ लोगों ने घरेलू उड़ानों के जरिये यात्रा की.


आमतौर पर बारिश के मौसम में हवाई यात्रा में कमी आती है. देश की सबसे बड़ी एयरलाइन इंडिगो के यात्रियों की संख्या जुलाई में 57.11 लाख रही. घरेलू बाजार में कंपनी की हिस्सेदारी 58.8 प्रतिशत रही. डीजीसीए के आंकड़ों के अनुसार, विस्तार के यात्रियों की संख्या जुलाई महीने में 10.13 लाख रही. जबकि एयर इंडिया के यात्रियों की संख्या जुलाई में 8.14 लाख थी.


गो फर्स्ट, स्पाइसजेट, एयर एशिया इंडिया और अलायंस एयर ने क्रमश: 7.95 लाख, 7.76 लाख, 4.42 लाख, 1.12 लाख यात्रियों को सेवाएं दी. विमानों में सीटों के मुकाबले क्षमता उपयोग स्पाइसजेट में जुलाई महीने में 84.7 प्रतिशत रहा. इसके अलावा विस्तार, इंडिगो, गो फर्स्ट, एयर एशिया इंडिया और एयर इंडिया के विमानों में क्षमता उपयोग क्रमश: 84.3 प्रतिशत, 77.7 प्रतिशत, 76.5 प्रतिशत, 75.2 प्रतिशत और 71.1 प्रतिशत रहा.


पिछले दो वर्षों के दौरान, COVID-19 महामारी के मद्देनजर भारत और अन्य देशों में लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के कारण विमानन क्षेत्र पर काफी प्रभाव पड़ा है. DGCA के आंकड़ों में उल्लेख किया गया है कि इस साल जुलाई में, AirAsia India ने चार मेट्रो हवाई अड्डों - बेंगलुरु, दिल्ली, हैदराबाद और मुंबई में 95.5 प्रतिशत का ऑन-टाइम बेस्ट प्रदर्शन किया था.


DGCA ने कहा कि विस्तारा और गो फर्स्ट जुलाई में इन चार हवाई अड्डों पर क्रमशः 89 प्रतिशत और 84.1 प्रतिशत समय पर प्रदर्शन के साथ दूसरे और तीसरे स्थान पर थे.


DGCA की एक अन्य रिपोर्ट के मुताबिक, जनवरी-जुलाई, 2022 के बीच भारत के घरेलू हवाई यातायात में सालाना आधार पर 93.82 प्रतिशत की मासिक वृद्धि दर के साथ 70.18 प्रतिशत की वृद्धि हुई.


डीजीसीए के अनुसार, जनवरी-जुलाई 2022 की अवधि के दौरान घरेलू एयरलाइनों द्वारा किए गए यात्रियों की संख्या 669.54 लाख थी, जबकि पिछले वर्ष की इसी अवधि में 393.44 लाख थी.


सात महीने की अवधि के दौरान इंडिगो एयरलाइंस से यात्रा करने वाले सबसे अधिक यात्रियों की संख्या 373.19 लाख थी, जिसका मार्केट शेयर 55.7 प्रतिशत है. जबकि, गो फर्स्ट ने 65.93 लाख यात्रियों के साथ दूसरी सबसे बड़ी संख्या में उड़ान भरी, जो बाजार हिस्सेदारी का 9.8 प्रतिशत योगदान देता है.