डॉ. रेड्डीज को कोविड-19 के टीके के दूसरे-तीसरे चरण का मानव परीक्षण करने की मंजूरी मिली

By yourstory हिन्दी
October 18, 2020, Updated on : Sun Oct 18 2020 07:31:58 GMT+0000
डॉ. रेड्डीज को कोविड-19 के टीके के दूसरे-तीसरे चरण का मानव परीक्षण करने की मंजूरी मिली
कंपनी ने बताया कि उसे और रसियन डाइरेक्ट इवेस्टमेंट फंड (आरडीआईएफ) को भारतीय औषधि महा नियंत्रक (डीजीसीआई) से यह मंजूरी प्राप्त हुई है। कंपनी ने कहा कि यह एक नियंत्रित अध्ययन होगा, जिसे कई केंद्रों पर किया जायेगा।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हैदराबाद, डॉ. रेड्डीज लेबोरेटरीज लिमिटेड को कोविड-19 के रूस में बने टीके स्पूतनिक वी का भारत में दूसरे व तीसरे चरण का मानव परीक्षण करने की मंजूरी मिल गयी है। कंपनी ने एक बयान में इसकी जानकारी दी।


कंपनी ने बताया कि उसे और रसियन डाइरेक्ट इवेस्टमेंट फंड (आरडीआईएफ) को भारतीय औषधि महा नियंत्रक (डीजीसीआई) से यह मंजूरी प्राप्त हुई है। कंपनी ने कहा कि यह एक नियंत्रित अध्ययन होगा, जिसे कई केंद्रों पर किया जायेगा।


इससे पहले सितंबर 2020 में डॉ. रेड्डीज़ और आरडीआईएफ ने स्पुतनिक वी वैक्सीन के परीक्षण और भारत में इसके वितरण के लिये साझेदारी की थी।


साझेदारी के तहत आरडीआईएफ भारत में विनियामक अनुमोदन पर डॉ. रेड्डीज को वैक्सीन की 10 करोड़ खुराक की आपूर्ति करेगा।


कंपनी के सह चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक जीवी प्रसाद ने कहा, "यह एक महत्वपूर्ण खबर है, जो हमें भारत में नैदानिक परीक्षण शुरू करने की अनुमति देता है। हम महामारी से निपटने के लिये एक सुरक्षित और प्रभावी टीका लाने को प्रतिबद्ध हैं।"


आरडीआईएफ के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) किरिल दमित्रिएव ने कहा, "हम भारतीय नियामको के साथ सहयोग कर प्रसन्न हैं। हम भारत में होने वाले परीक्षण के साथ ही रूस में तीसरे चरण के परीक्षण के डेटा को साझा करेंगे। इससे स्पूतनिक वी के क्लिनिकल विकास में मदद मिलेगी।


(साभार: PTI)