Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ys-analytics
ADVERTISEMENT
Advertise with us

फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी ने दर्ज की 1.6 गुना की सालाना वृद्धि

मजबूत सप्लाई चेन नेटवर्क तैयार करना फ्लिपकार्ट की वृद्धि की रणनीति के मूल आधारों में से एक है और इससे देश में ज़्यादा ग्राहकों को ऑनलाइन किराने की खरीदारी को आसान बनाने में मदद मिलती है.

फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी ने दर्ज की 1.6 गुना की सालाना वृद्धि

Thursday May 23, 2024 , 5 min Read

भारत के स्वदेशी ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट (Flipkart) ने अपने किराना कारोबार में साल-दर-साल आधार पर 1.6 गुना वृद्धि दर्ज की. यह महत्वपूर्ण उपलब्धि, देश भर के ग्राहकों को उचित कीमतों पर पूरी सुविधा के साथ रोज़ाना ज़रूरत की चीज़ों के व्यापक विकल्पों के साथ ऑनलाइन खरीदारी का सर्वश्रेष्ठ अनुभव उपलब्ध कराने की फ्लिपकार्ट की प्रतिबद्धता का प्रमाण है.

ग्राहकों की सुविधा पर सबसे ज़्यादा ध्यान देने वाला संगठन होने के नाते, फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी यह पक्का करती है कि लोगों को ताज़ी चीज़ें किफायती कीमतों पर मिलें. ग्राहकों का भरोसा बढ़ाने के लिए, इसके हर प्रोडक्ट पर मैन्यूफैक्चरिंग और एक्सपायरी की तारीखें लिखी होती हैं और इस तरह कंपनी प्रोडक्ट की ताज़गी और पारदर्शिता सुनिश्चित करती है. अपने विस्तार को गति देते हुए फ्लिपकार्ट बेंगलुरू, चेन्नई, कोलकाता, मुंबई और नई दिल्ली जैसे मेट्रो शहरों में अपनी पहुंच बढ़ाने के साथ-साथ पूरे भारत में टियर 2 शहरों में भी अपनी पहुंच का विस्तार कर रही है. इसके अलावा, औरंगाबाद, बांकुड़ा, बोकारो, छतरपुर, गुवाहाटी, जमशेदपुर, कृष्णानगर और विशाखापत्तनम जैसे शहरों में ग्राहकों की वजह से वृद्धि हो रही है जिससे पता चलता है कि अलग-अलग इलाकों और लिंग, उम्र और आय समूह के लोगों के बीच फ्लिपकार्ट कितनी लोकप्रिय है. 

पहुंच और फटाफट सेवा देने के मामले में अग्रणी, फ्लिपकार्ट ग्रॉसरी एकमात्र ई-कॉमर्स कंपनी है जो 200 से ज़्यादा शहरों में अगले दिन डिलिवरी करती है. इन शहरों में बेंगलुरू, चेन्नई, कोलकाता, मुंबई, नई दिल्ली जैसे मेट्रो शहरों के साथ-साथ अनंतपुर, बहरामपुर, गोरखपुर, मुरादाबाद, नौगांव, सहरसा, शिमोगा, वेल्लोर जैसे टियर 2 शहर शामिल हैं. कंपनी के पास ढेरों प्रोडक्ट है जिनकी कीमत 5 रुपये से शुरू होती है, इन शहरों के ग्राहकों ने किफायत की ओर अपना रुझान दिखाया जिससे ई-ग्रॉसरी खरीदने वाले लोगों के लिए उपयोगी जगह के तौर पर फ्लिपकार्ट की ग्रॉसरी और भी मजबूत होती जा रही है. 

अच्छा प्रदर्शन करने वाली श्रेणियों के मामले में फ्लिपकार्ट को तेल, घी, आटा और जैसी चीज़ें और चाय, कॉफी, डिटर्जेंट और पर्सनल केयर जैसे उत्पादों पर 1.6 फीसदी वृद्धि देखने को मिली है. फ्लिपकार्ट ने ज़रूरी और गैर-ज़रूरी चीज़ों के मामले में भी जबरदस्त वृद्धि दर्ज की है जैसे कि लिक्विड डिटर्जेंट में 1.8 गुना, सूखे मेवे में 1.5 गुना और एनर्जी ड्रिंक्स में 1.5 गुना.

flipkart-grocery-registered-1-6-times-annual-growth

रोज़ाना की ज़रूरत की चीज़ों की बढ़ती मांग को पूरा करने के प्रयासों के अंतर्गत फ्लिपकार्ट ने पूरे देश में सप्लाई चेन से जुड़े बुनियादी ढांचे को मज़बूत करने की दिशा में कदम बढ़ाया है इसके लिए अहमदाबाद, भुवनेश्वर, चेन्नई, हुबली, हैदराबाद, कोलकाता, लुधियाना, माल्दा, पटना, दिल्ली एनसीआर में सोनीपत, विशाखापत्तनम जैसी खास जगहों पर 11 ग्रॉसरी फुलफिलमेंट सेंटर शुरू किए हैं और उनका विस्तार किया है. 12.14 लाख वर्ग फुट से ज्यादा आकार की जगह और लगभग 20.9 लाख यूनिट की क्षमता के साथ ये फुलफिलमेंट सेंटर इन इलाकों में हर दिन 1.6 लाख ऑर्डर पूरे करते हैं. मजबूत सप्लाई चेन नेटवर्क तैयार करना फ्लिपकार्ट की वृद्धि की रणनीति के मूल आधारों में से एक है और इससे देश में ज़्यादा ग्राहकों को ऑनलाइन किराने की खरीदारी को आसान बनाने में मदद मिलती है. 

देश में बनी टेक्नोलॉजी के दम पर फ्लिपकार्ट ने किराने की बढ़ती ऑनलाइन मांग को पूरा करने के लिए अपने परिचालन को बेहतर बनाया है. वॉयस पर आधारित खरीदारी, शून्य ब्याज पर ऋण और ओपेन-बॉक्स डिलिवरी के साथ-साथ अन्य फीचर, ग्राहकों की खरीदारी के अनुभव को बेहतर बनाने की फ्लिपकार्ट की प्रतिबद्धता के मूल आधारों में से एक है. कंपनी की अपनी टेक टीमों ने अच्छी कीमत की पेशकश करने के लिए, नज़दीकी के लिए कस्टमर हब को लोकेट करने और डिलिवरी की रीयल टाइम मॉनिटरिंग सुनिश्चित करने के लिए डेटा से मिलने वाली जानकारी का लाभ उठाया है और इस तरह ई-कॉमर्स की दुनिया में नई क्रांति लेकर आए हैं.  

पर्यावरण को बेहतर बनाने की अपनी प्रतिबद्धता के तहत फ्लिपकार्ट ने इस दिशा में महत्वपूर्ण कदम बढ़ाए हैं. फिलहाल किराने की 50 फीसदी से ज़्यादा डिलिवरी ईवी की मदद से की जा रही है और इस दिशा में फ्लिपकार्ट साल-दर-साल आधार पर 140 फीसदी की वृद्धि कर रही है. नई दिल्ली, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तेलंगाना और तमिलनाडु जैसे राज्यों में बढ़-चढ़कर काम कर रही

फ्लिपकार्ट का पूरा ध्यान हरा-भरा भविष्य बनाने की ओर है. स्थायित्व से जुड़े अपने लक्ष्यों को हासिल करने की दिशा में किए जा रहे अन्य प्रयासों के साथ फ्लिपकार्ट अपने ग्राहकों को किराने की डिलिवरी बार-बार इस्तेमाल किए जा सकने वाले टोट में करता है और नाज़ुक चीज़ों को सुरक्षित रखने के लिए पर्यावरण के अनुकूल कार्डबोर्ड का इस्तेमाल किया जाता है. इससे सप्लाई चेन में कचरे को कम करके पैकेजिंग को बेहतर बनाने में मदद मिलती है और पर्यावरण पर असर भी कम पड़ता है.

हरि कुमार जी, वाइस प्रेसिडेंट, हेड ऑफ ग्रॉसरी, फ्लिपकार्ट ने कहा, “ग्रॉसरी की कैटेगरी में फ्लिपकार्ट की वृद्धि, इनोवेशन को बढ़ावा देने और उभरती हुई कैटेगरी को ग्राहक केंद्रित बनाने के साथ-साथ ग्राहकों को हर दिन के किराने के सामान की ज़रूरतों को उचित कीमत पर उपलब्ध कराने के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का पता चलता है. चूंकि हम अपना विस्तार कर रहे हैं और सेवाओं को बेहतर बना रहे हैं, ऐसे में हम पूरे भारत में लाखों ग्राहकों को बेहतरीन सुविधाएं उपलब्ध कराने के प्रति समर्पित बने रहेंगे.”

उन्होंने आगे कहा, “फ्लिपकार्ट में हम डिजिटल ग्रॉसरी के क्षेत्र में नए मानक स्थापित करने के प्रति प्रतिबद्ध हैं, ताकि यह पक्का किया जा सके कि फ्लिपकार्ट ग्राहकों की पहली पसंद बना रहे और देश भर के ग्राहकों के लिए ई-ग्रॉसरी को पहुंच में लाने की ओर हमारे प्रयास जारी रहें. समर्पित टीम और ग्राहकों को सर्वाधिक प्राथमिकता देने के दृष्टिकोण के साथ हम भारत में किराने की ऑनलाइन खरीदारी करने के तरीकों में क्रांतिकारी बदलाव लाने के लिए तैयार हैं.”

यह भी पढ़ें
CoinSwitch ने जारी किया ‘प्रूफ ऑफ रिज़र्व’ का तीसरा संस्करण