[फंडिंग अलर्ट] पॉलीचैन कैपिटल और बैन कैपिटल वेंचर्स के नेतृत्व में CoinDCX ने सीरीज ए राउंड में जुटाए $3M

By yourstory हिन्दी
March 26, 2020, Updated on : Thu Mar 26 2020 06:31:30 GMT+0000
[फंडिंग अलर्ट] पॉलीचैन कैपिटल और बैन कैपिटल वेंचर्स के नेतृत्व में CoinDCX ने सीरीज ए राउंड में जुटाए $3M
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म और लिक्विडिटी एग्रीगेटर CoinDCX ने घोषणा की है कि उसने अपनी सीरीज ए राउंड की फंडिंग में पॉलीचैन कैपिटल (Polychain Capital), बैन कैपिटल वेंचर्स (Bain Capital Ventures) और एचडीआर ग्रुप (बिटमैक्स के संचालक) व अन्य उद्यम पूंजीपतियों के नेतृत्व में 3 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। 


k


जुटाई गई फंडिंग, क्रिप्टो एडॉप्शन को बढ़ावा देने के लिए CoinDCX के राष्ट्रव्यापी प्रयासों को सुदृढ़ करेंगी, साथ ही प्रोडक्ट और सर्विस इनहैंसमेंट, रिसर्च एंड डेवलपमेंट, मार्केटिंग एक्टिविटीज और ह्यूमन रिसोर्स ग्रोथ सहित डेवलपमेंट के अपने अगले चरण को बढ़ाएंगी।


कंपनी के पास प्रमुख क्रिप्टो प्रोजेक्ट्स, एल्गोरिथ्म-बेस्ड ट्रेडिंग और 2020 में आगे की योजना के लिए एक क्रिप्टो-टू-क्रिप्टो ट्रेडिंग प्रोडक्ट के साथ साझेदारी में एक फिएट ऑनबोर्डिंग सलूशन डेवलप करने की योजना है।


पॉलिचैन कैपिटल के संस्थापक ओलाफ कार्लसन-वे, ने कहा,

“हमने एक बेहतर व्यापारिक उत्पाद बनाने के लिए CoinDCX के साथ साझेदारी की है जो इस क्षेत्र के लिए फिट है, और दुनिया के सबसे बड़े बाजारों में क्रिप्टोकरेंसी को बढ़ावा देने के लिए इसके कदम का समर्थन करता है। बैंकिंग प्रतिबंध को रद्द करने का सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय भारत में व्यापक क्रिप्टोक्यूरेंसी पारिस्थितिकी तंत्र के लिए एक उत्साहजनक संकेत है और हमें विश्वास है कि इस बाजार में भारी वृद्धि हो सकती है।”


CoinDCX के सीईओ और सह-संस्थापक सुमित गुप्ता ने कहा,

“देश के सबसे बड़े एक्सचेंज के रूप में, हम जिम्मेदारी से नेशनल क्रिप्टो अपनाने को आगे बढ़ाने की स्थिति में हैं... पाइपलाइन में रोमांचक परियोजनाओं की एक रेंज के साथ, हमारी सीरीज ए को बंद करना एक नए अध्याय में पहला कदम है, और हम भारत में क्रिप्टो परिसंपत्तियों के बड़े पैमाने पर उपयोग को जारी रखेंगे।”





CoinDCX का दावा है कि उसके पास एक यूनीक लिक्विडिटी एग्रीगेशन मॉडल है, जो Binance, Huobi और OKEx सहित टॉप ग्लोबल एक्सचेंजों के साथ इंटीग्रेट है। इसके प्रोडक्ट सूट में DCXInsta है जो एक क्रिप्टो प्रोडक्ट के लिए इसकी खास व्यवस्था है जो यूजर्स को तुरंत रुपये के जरिए क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने की अनुमति देता है; इसके अलावा DCXTrade - यह इसका स्पॉट ट्रेडिंग प्रोडक्ट है जो 500 प्लस मार्केट्स तक पहुंच प्रदान करता है; DCXMargin - इसका मार्जिन ट्रेडिंग प्रोडक्ट है जो 200 से अधिक कॉइन्स पर 6 गुना लीवरेज प्रदान करता है; और DCXFutures - यह 15 गुना लीवरेज, नियर-नेग्लिजिबल मेकर एंड टेकर फीस, हाई-लेवल रिस्क मैनेजमेंट और एक सुपर-एफिशिएंट ट्रेडिंग इंजन के साथ इसका वायदा व्यापार उत्पाद यानी कि इसका फ्यूचर ट्रेडिंग प्रोडक्ट है।


सीरीज ए को पूरा करने की घोषणा ऐसे समय में हुई है जब भारत 2018 में भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा इंडस्ट्री-वाइड बैंकिंग प्रतिबंध हटाने के बाद क्रिप्टो अपनाने के अभूतपूर्व स्तर का गवाह बन गया है। उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद, CoinDCX बैंक अकाउंट ट्रांसफर को इंटीग्रेट करने वाला भारत का पहला क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बन गया है।


क्रिप्टो के राष्ट्रव्यापी प्रसार को और बढ़ावा देने के लिए, CoinDCX ने पिछले हफ्ते में, अपने लॉन्ग-टर्म कैंपेन को लॉन्च करने की घोषणा की, जिसमें TryCrypto नाम का लॉन्ग-टर्म कैंपेन शुरू किया गया, जिसमें भारत में क्रिप्टो यूजर्स की कुल संख्या 50 मिलियन लाने के लिए $1.3 मिलियन की राशि देने का वादा किया गया।


इस कैंपेन का उद्देश्य देश की जमीन पर और ऑनलाइन पहल, DCXLearn सहित - इसके पूर्ण विकसित क्रिप्टो लर्निंग प्रोग्राम के माध्यम से देश भर में फैलने का है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close