[फंडिंग अलर्ट] फिनटेक स्टार्टअप CredFlow ने सीड राउंड में जुटाए 2.1 मिलियन डॉलर

By Shreya Ganguly & रविकांत पारीक
April 15, 2021, Updated on : Fri Apr 16 2021 06:59:57 GMT+0000
[फंडिंग अलर्ट] फिनटेक स्टार्टअप CredFlow ने सीड राउंड में जुटाए 2.1 मिलियन डॉलर
फिनटेक स्टार्टअप CredFlow अपने प्लेटफॉर्म को डेवलप करने, अपनी तकनीकी क्षमताओं को मजबूत करने और नए प्रोडक्ट्स के निर्माण के लिए फंडिंग का उपयोग करेगा।
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

"कुणाल अग्रवाल द्वारा 2020 में शुरू किया गया, क्रेडफ्लो एक कैशफ्लो मैनेजमेंट SaaS प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जो SMEs को ग्राहकों द्वारा पेंडिग अमाउंट्स के डैशबोर्ड का उपयोग करके, समय पर पेमेंट रिमाइंडर्स भेजने, चालान मान्य करने और शुरुआती भुगतान के लिए छूट पर बातचीत करने में मदद करता है।"

g

फोटो साभार: CredFlow

नई दिल्ली स्थित फिनटेक स्टार्टअप क्रेडफ्लो (CredFlow) ने बुधवार को कहा कि उसने अपने सीड राउंड में Stellaris Venture Partners, Omidyar Network India, और Flourish Ventures के नेतृत्व में 2.1 मिलियन डॉलर जुटाए हैं। मार्की ऐंजल इन्वेस्टर्स जैसे कि नितिन गुप्ता, Uni के फाउंडर, ने भी इस राउंड में भाग लिया।


एक आधिकारिक बयान के अनुसार, क्रेडफ्लो अपने प्लेटफॉर्म को डेवलप करने, अपनी तकनीकी क्षमताओं को मजबूत करने और नए प्रोडक्ट्स के निर्माण के लिए फंडिंग का उपयोग करेगा। स्टार्टअप टेक, प्रोडक्ट और मार्केटिंग में भी अपनी टीम का विस्तार करना चाहता है।


कुणाल अग्रवाल द्वारा 2020 में शुरू किया गया, क्रेडफ्लो एक कैशफ्लो मैनेजमेंट SaaS प्लेटफॉर्म प्रदान करता है, जो SMEs को ग्राहकों द्वारा पेंडिग अमाउंट्स के डैशबोर्ड का उपयोग करके, समय पर पेमेंट रिमाइंडर्स भेजने, चालान मान्य करने और शुरुआती भुगतान के लिए छूट पर बातचीत करने में मदद करता है।


कुणाल ने एक बयान में कहा,

“विलंबित संग्रह एक बड़ी चुनौती है जिसका सामना भारतीय SMEs को करना पड़ रहा है और प्राप्य (receivables) में अटकी पूंजी वित्तीय तनाव का एक प्रमुख कारण है। पिछले एक दशक में अधिकांश फिनटेक इनोवेशंस को या तो बड़े उद्यमों या खुदरा विक्रेताओं और सूक्ष्म उद्यमों पर केंद्रित किया गया है, जबकि मध्य-बाजार B2B सेगमेंट काफी हद तक उदासीन है। हम Stellaris Venture Partners, Omidyar Network India, और Flourish Ventures के साथ साझेदारी करके उत्साहित हैं।"


स्टार्टअप के अनुसार, 5,000 से अधिक व्यवसायों ने आज तक 70,000 करोड़ रुपये से अधिक के चालान और इनको प्रोसेस करने के लिए क्रेडफ्लो का उपयोग किया है।


स्टार्टअप ने बताया कि इसका उद्देश्य SMEs को उनके कैशफ्लो को अनुकूलित करने और उनके विकास में तेजी लाने में मदद करने के लिए नकदी प्रवाह आधारित वित्तपोषण, ट्रेजरी मैनेजमेंट और पेमेंट मैनेजमेंट सहित फुल-स्टैक समाधान का निर्माण करना है।


फंडिंग के बारे में बोलते हुए, ओमिडयार नेटवर्क इंडिया के डायरेक्टर Treasa Mathew ने कहा कि क्रेडफ्लो के केंद्रित समाधान SMEs के वित्तीय स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और उनकी वृद्धि में तेजी लाने में मदद कर सकते हैं।


Stellaris Venture Partners के पार्टनर रितेश बंग्लानी ने कहा,

“क्रेडफ़्लो का पेमेंट डैशबोर्ड बिजनेस के मालिक का ध्यान आकर्षित करता है और बिजनेस के लिए प्राइमरी डैली MIS बन जाता है। लंबे समय में, यह क्रेडफ़्लो को SMBs के लिए फायनेंशियल ऑपरेंटिंग सिस्टम बनने में मदद करेगा, जो उनके समग्र वित्तीय स्वास्थ्य पर एक व्यू प्रदान करेगा, और उन्हें अपने और थर्ड-पार्टी के फायनेंशियल प्रोडक्ट्स के विविध सेट तक पहुंचने में मदद करेगा।“


Edited by Ranjana Tripathi

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें