दुनियाभर की कंपनियों में शुरू हुई छंटनी, करीब 40 फीसदी कंपनियों ने बंद की भर्ती: रिपोर्ट

By yourstory हिन्दी
October 07, 2022, Updated on : Fri Oct 07 2022 09:13:37 GMT+0000
दुनियाभर की कंपनियों में शुरू हुई छंटनी, करीब 40 फीसदी कंपनियों ने बंद की भर्ती: रिपोर्ट
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

वैश्विक मंदी की आशंका से दुनिया भर के लोगों की नौकरियों पर संकट नजर आ रहा है. KPMG 2022 CEO Outlook ने अपनी ताजा रिपोर्ट में ये बात कही है. रिपोर्ट की मानें तो दुनियाभर के करीब 46 प्रतिशत सीईओ अपनी कंपनियों में अगले 6 महीनों में कर्मचारियों की छंटनी करने की प्लानिंग कर रहे हैं. ये छंटनी भी बड़े पैमान पर होनी है.


वहीं दुनिया भर के 39 प्रतिशत सीईओ ने मंदी की आशंका के चलते पहले से ही नए लोगों को नौकरी पर रखने से रोक लगा दी है. यानी कि हायरिंग बंद कर रखी है.


KPMG ने अपनी सर्वे रिपोर्ट में दुनिया भर के अलग-अलग देशों की बड़ी कंपनियों के सीईओ के साथ बातचीत की है. इस बातचीत में केपीएमजी ने दुनिया भर के कई सीईओ से मंदी की आशंका और उसके निपटने की उनकी रणनीति को लेकर सवाल पूछे है.

 

KPMG ने भारत, चीन, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, स्पेन, अमेरिका और ब्रिटेन समेत करीब 11 देशों में किए अपने सर्वे में बैंकिंग, कंज्यूमर, मोटर्स मार्केट, टेलीकॉम समेत अलग-अलग सेक्टर्स की 1300 कंपनियों को शामिल किया.


इस रिपोर्ट में कहा गया है, “इंटरनेशनल मार्केट में मंदी की आशंका की वजह से उथल-पुथल हो सकती है. मार्केट के इसी उतार-चढ़ाव को देखते हुए 39 प्रतिशत सीईओ ने पहले ही कंपनी में नई हायरिंग को फ्रीज कर दिया है, जबकि 46 फीसदी आने वाले 6 महीनों में कंपनी में छटनी करने की तैयारी में हैं.”


रिपोर्ट बताया गया है कि दुनिया भर की 58% कंपनियों को उम्मीद है कि मंदी बहुत बड़े पैमाने पर नहीं रहेगी तो वहीं, एक 80 फीसदी कंपनियों का मानना है कि ये हल्की मंदी एक साल तक बरकरार रह सकती है. हालांकि, मंदी की आशंका के बीच तीन-चौथाई कंपनियां पहले ही एहतियाती कदम उठा चुकी हैं.

Facebook निकालेगी 12 हजार कर्मचारियों को

हाल ही में मेटा के सीईओ मार्क जुकरबर्ग (Mark Zuckerberg) ने अपने कर्मचारियों के लिए वीकली टाउनहॉल प्रोग्राम में कहा था पिछले कुछ सालों में जितनी तेजी के साथ मेटा का विकास हुआ है, वह गति अब धीमी हो गई है. वह समय बीत गया है और अब इस तेजी के साथ कंपनी का आगे बढ़ना मुमकिन नहीं है.


जुकरबर्ग ने कहा कि नई परिस्थितियों को देखते हुए हमें अपने खर्चों में कटौती करनी होगी. नए कर्मचारियों की हायरिंग बंद करनी होगी और जरूरत को देखते हुए कुछ टीमों के सदस्‍यों की संख्‍या कम भी की जाएगी.


अब मेटा कथित तौर पर फेसबुक में 'छंटनी' कर रहा है जिससे हजारों नौकरियों में कटौती हो सकती है, कम से कम 12,000 या इसके कर्मचारियों की संख्या का लगभग 15 प्रतिशत.


इनसाइडर की एक रिपोर्ट के अनुसार, सीनियर ऑफिसर खराब प्रदर्शन करने वाले कर्मचारियों की "छंटनी" करने की प्रक्रिया में हैं.


कई कर्मचारियों ने इनसाइडर को बताया कि अगले कुछ हफ्तों में कर्मचारियों की संख्या में 15 प्रतिशत की कटौती की जा सकती है. इसका मतलब है कि कुछ 12,000 कर्मचारी जल्द ही नौकरियों से हाथ धो सकते हैं.


Edited by रविकांत पारीक

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close