सौर ऊर्जा को बढ़ावा दे रही है सरकार, छत पर सोलर पैनल लगाने पर मिलेगी 40 प्रतिशत तक की सब्सिडी

By Prerna Bhardwaj
July 21, 2022, Updated on : Sun Jul 24 2022 15:49:41 GMT+0000
सौर ऊर्जा को बढ़ावा दे रही है सरकार, छत पर सोलर पैनल लगाने पर मिलेगी 40 प्रतिशत तक की सब्सिडी
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पर्यावरण को ध्यान में रखकर आजकल उर्जा के पारंपरिक स्रोतों डीजल-पेट्रोल (Diesel-Petrol) की खपत कम कर वैकल्पिक स्रोतों पर खूब जोर दिया जा रहा है. इसीलिये सरकार ने साल 2030 तक 40% बिजली का उत्पादन सोलर एनर्जी से करने का टॉरगेट रखा है. देशभर में केंद्र सरकार ऊर्जा के स्रोतों के लिए सूर्य की रोशनी से बनने वाली बिजली यानि सोलर एनर्जी (Solar Energy) पर विशेष ध्यान दे रही है.


लक्ष्य हासिल करने के लिए सरकार घर की छतों पर सोलर पैनल लगाने के लिए सब्सिडी भी दे रही है. सरकार की इस योजना का नाम सोलर रूफटॉप योजना (Solar rooftop scheme) है. इसकी शुरुआत भारत सरकार और उर्जा मंत्रालय ने मिलकर की है. जिसके तहत लोगों को सोलर पैनल लगवाने पर 40 प्रतिशत तक सब्सिडी दी जा रही है. इस स्कीम के तहत सरकार 3 किलोवाट के सोलर पैनल लगवाने पर आपको 40 प्रतिशत तक सब्सिडी देगी. और अगर आप 3 किलोवाट से 10 किलोवाट तक के सोलर पैनल लगवाना चाहते हैं तो ऐसे में आपको 20 तक प्रतिशत तक सब्सिडी मिलेगी.

सोलर रूफटॉप से जुडी सूचना

लोग अपने घरों में स्वयं भी रूफटॉप सोलर पैनल स्थापित कर सकते हैं या अपनी पसंद के किसी भी विक्रेता द्वारा इन्हें लगवा सकते हैं, और वितरण कंपनी को सिस्टम की एक तस्वीर के साथ स्थापित किये गये इंस्टॉलेशन के बारे में सूचित कर सकते हैं.


रूफटॉप लगाने की सूचना या तो एक पत्र या आवेदन के माध्यम से या नामित वेबसाइट पर दी जा सकती है, जिसे प्रत्येक डिस्कॉम और केंद्र सरकार द्वारा रूफटॉप योजना के लिए शुरू किया गया है.


वितरण कंपनी यह सुनिश्चित करेगी कि सूचना मिलने के 15 दिन के भीतर ‘नेट मीटरिंग’ उपलब्ध करा दी जाए. सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी सोलर रूफटॉप की स्थापना के 30 दिनों के भीतर डिस्कॉम द्वारा आपके खाते में जमा करा दी जाएगी.


यह सुनिश्चित करने के लिए कि सोलर पैनल और इनवर्टर की गुणवत्ता निर्धारित मानक के अनुसार हो, केंद्र सरकार समय-समय पर सोलर पैनल निर्माताओं और इनवर्टर निर्माताओं की सूची प्रकाशित करेगी जिनके ये उत्पाद अपेक्षित गुणवत्ता मानकों को पूरा करते होंगे और मूल्य सूची भी दी जायेगी.

क्या हैं इस योजना के फायदे?

यह योजना लोगों के लिए फायदेमंद साबित हो सकती है क्योंकिं सबसे पहले तो इस स्कीम के तहत सोलर पैनल लगवाने का खर्च कम आता है क्योंकि इसका एक हिस्सा सरकार से सब्सिडी के तौर पर मिल जाता है. दूसरा, इस स्कीम के तहत सोलर पैनल लगवाने से बिजली का खर्च कम किया जा सकता है या उसकी पूरी बचत की जा सकती है. तीसरा, आप पर्यावरण को स्वच्छ रखने में अपना योगदान कर सकते हैं.