सरकार डीप टेक स्टार्टअप्स की मदद करने के लिए शुरू करेगी डिजिटल इंडिया इनोवेशन फंड: राजीव चंद्रशेखर

By रविकांत पारीक
December 31, 2022, Updated on : Sat Dec 31 2022 05:52:41 GMT+0000
सरकार डीप टेक स्टार्टअप्स की मदद करने के लिए शुरू करेगी डिजिटल इंडिया इनोवेशन फंड: राजीव चंद्रशेखर
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी, कौशल विकास और उद्यमिता राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर (Rajeev Chandrasekhar) ने कहा कि भारत सरकार डीपटेक स्टार्टअप्स (Deeptech Startups) को सहायता प्रदान करने के लिए एक डिजिटल इंडिया इनोवेशन फंड (Digital India Innovation Fund) शुरू करने जा रही है.


चंद्रशेखर ने यह बात कैथोलिक बिशप हाउस कैंपस, थमारास्सेरी, केरल में न्यू इंडिया फॉर यंग इंडिया: टेकेड ऑफ ऑपर्च्युनिटीज कार्यक्रम के अंतर्गत 1000 से अधिक कॉलेज छात्रों को संबोधित करते हुए कही.


चंद्रशेखर ने इस बारे में विस्तार से चर्चा की कि पिछले 75 वर्षों की अधिकांश अवधि के दौरान भारत निष्क्रिय लोकतंत्र बना रहा है, जिसमें विकास के अवसर कुछ चुनिंदा लोगों तक ही सीमित थे. उन्‍होंने कहा, “हमने इस निष्क्रियता को एक तथ्य के रूप में स्वीकार किया था और इसे लोकतंत्र की कीमत माना था.”


राज्‍य मंत्री ने उल्लेख किया कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी का न्यू इंडिया का विजन ऐसा है जहां प्रत्येक भारतीय के लिए विकास की प्रक्रिया में भाग लेने के पर्याप्त अवसर मौजूद हैं तथा केवल कड़ी मेहनत और कौशल ही सफलता का निर्धारण करते हैं.


देश में रोजगार के अवसरों और केरल से प्रवासन जैसे मुद्दों पर पूछे गए प्रश्‍न का उत्‍तर देते हुए मंत्री ने कहा, "प्रवासन आशा की कमी का परिणाम है. लेकिन इस समय भारत बदलाव के दौर से गुजर रहा है. आने वाला दशक भारत का टेकेड साबित होगा . युवा भारतीयों के लिए इसमें जबरदस्त अवसर हैं. आपको भारत के बाहर कहीं भी इस प्रकार के अवसर नहीं मिलेंगे. हमें हमेशा भरोसा रखना चाहिए कि यह हमारी भूमि है और हमारे कार्य भारत में है.”


चंद्रशेखर ने बिशप रेमिगियोस इंचानानियिल और बिशप वर्गीस चक्कलकल और केसीवाईएम केरल कैथोलिक यूथ मूवमेंट के अन्य सदस्यों के साथ दोपहर का भोजन किया. राज्‍य मंत्री ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्‍यम से बिशप के घर पर अपने लिए दोपहर के भोजन की मेजबानी के लिए मिशनरी ऑफ मैरी इमैकुलेट सिस्‍टर्स की सिस्टर सेलेस्टी और उनकी टीम को धन्यवाद दिया.


बाद में, राजीव चंद्रशेखर ने अल्फोंसा इंग्लिश हायर सेकेंडरी स्कूल, कोरानगढ़, केरल में मालाबार युवजन संगमम में भाग लिया और दीप प्रज्‍ज्‍वलित कर इस कार्यक्रम का उद्घाटन किया. संगमम में केरल कैथोलिक यूथ मूवमेट के 5000 से अधिक सदस्यों की भागीदारी देखी गई.


कार्यक्रम को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, "प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के नेतृत्‍व में सरकार भारत के भविष्य के लिए सभी समुदायों के साथ मिलकर काम करने के लिए प्रतिबद्ध है. प्रत्येक भारतीय के पास समुदाय, जाति, स्थान या धर्म की परवाह किए बिना समृद्धि के समान अवसर होने चाहिए."


ईसाई समुदाय के योगदान का उल्लेख करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि इस समुदाय ने केरल की प्रगति और विकास में अपार योगदान दिया है. वे भारत के अमृतकाल - 2047 तक विकसित राष्ट्र बनने की यात्रा के महत्वपूर्ण हितधारक हैं.


इससे पहले चंद्रशेखर ने मातृभूमि समाचार पत्र के प्रबंध निदेशक एम.वी. श्रेयम्स कुमार और रवींद्रनाथ, कार्यकारी संपादक से मुलाकात की. वह पहली बार मातृभूमि कार्यालय पहुंचे थे. अंग्रेजों के खिलाफ भारतीयों को एकजुट करने में अहम भूमिका निभाने वाला यह समाचार पत्र इस साल अपना शताब्दी वर्ष मना रहा है.

यह भी पढ़ें
YearEnder2022: IAN Group ने 2022 में 52 कंपनियों में किया 85 करोड़ रुपये का निवेश