HDFC Bank ने FD पर ब्याज 0.35% तक बढ़ाया, अब ये हैं नए रेट

By Ritika Singh
November 10, 2022, Updated on : Thu Nov 10 2022 08:44:33 GMT+0000
HDFC Bank ने FD पर ब्याज 0.35% तक बढ़ाया, अब ये हैं नए रेट
बैंक ने 15 माह से ज्यादा के मैच्योरिटी पीरियड्स के मामले में FD की ब्याज दरों को बढ़ाया है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

निजी क्षेत्र के HDFC Bank ने 2 करोड़ रुपये से कम के फिक्स्ड डिपॉजिट (Fixed Deposit) पर ब्याज दरों में 0.35 प्रतिशत तक की वृद्धि की है. इस तरह की एफडी को रिटेल फिक्स्ड डिपॉजिट कहा जाता है. नई दरें 8 नवंबर 2022 से प्रभावी हैं. बढ़ी हुई ब्याज दरों का फायदा HDFC Bank के साथ नई एफडी कराने वालों और मौजूदा एफडी का मैच्योरिटी पीरियड पूरा होने के बाद, उसके रिन्युअल पर मिलेगा.


HDFC Bank ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर 15 माह से ज्यादा के मैच्योरिटी पीरियड्स के मामले में एफडी की ब्याज दरों को बढ़ाया है. HDFC Bank में 2 करोड़ रुपये से कम की एफडी पर नई ब्याज दरें इस तरह हैं...

hdfc-bank-has-increased-fd-interest-rates-by-up-to-35-basis-points-check-the-new-rates-bank-of-maharashtra-loan-rates

(सीनियर सिटीजन रेट्स, NRIs के मामले में लागू नहीं होते हैं. NRE Deposit के लिए मिनिमम FD टेनर 1 साल है.)

HDFC बैंक के RD रेट

बैंक की वेबसाइट पर मौजूद जानकारी के मुताबिक, रिकरिंग डिपॉजिट यानी आरडी के मामले में 15 माह से ज्यादा के मैच्योरिटी पीरियड्स के लिए ब्याज दरें 8 नवंबर 2022 से प्रभावी हुई हैं. वहीं 6 माह, 9 माह और 12 माह के मैच्योरिटी पीरियड के लिए दरें 11 अक्टूबर से प्रभावी हैं. 11 अक्टूबर को बैंक ने रिकरिंग डिपॉजिट पर 0.50 प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की थी. HDFC बैंक के RD रेट इस तरह हैं...

hdfc-bank-has-increased-fd-interest-rates-by-up-to-35-basis-points-check-the-new-rates-bank-of-maharashtra-loan-rates

(केवल भारत में रहने वाले सीनियर सिटीजन, रेगुलर रेट से ज्यादा ब्याज दर के लिए पात्र हैं. )


अगर किसी कारणवश किसी स्कीम में एकमुश्त रकम जमा कर बचत नहीं कर सकते हैं तो रिकरिंग डिपॉजिट (RD) करा सकते हैं. RD की खास बात यह है कि इसमें आप हर माह अमाउंट डाल सकते हैं. यानी कि किस्तों में जमा. HDFC बैंक में मिनिमम 1000 रुपये में आरडी अकाउंट खुलवा सकते हैं.

बैंक ऑफ महाराष्ट्र ने कर्ज दरें बढ़ाईं

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ महाराष्ट्र (बीओएम) ने चुनिंदा अवधियों के मामले में कर्ज के लिये मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) बढ़ा दी है. बैंक के अनुसार, संशोधित MCLR 7 नवंबर, 2022 से प्रभावी हो गयी हैं. बैंक ने एक साल की अवधि वाले MCLR को 7.80 प्रतिशत से बढ़ाकर 7.90 प्रतिशत कर दिया गया है. वाहन, व्यक्तिगत और आवास ऋण जैसे उपभोक्ता कर्ज के लिए ब्याज दरें, 1 साल वाली MCLR पर ही बेस्ड होती हैं. वहीं, एक महीने की अवधि वाली MCLR को 0.05 अंक बढ़ाकर 7.50 प्रतिशत कर दिया गया है. बैंक ऑफ महाराष्ट्र की नई MCLR इस तरह हैं...

hdfc-bank-has-increased-fd-interest-rates-by-up-to-35-basis-points-check-the-new-rates-bank-of-maharashtra-loan-rates