हॉर्न ओके प्लीज! जानिए ट्रकों के पीछे क्यों लिखा जाता है

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

हमने कितनी बार भारत में ट्रकों के पीछे लिखे "हॉर्न ओके प्लीज" पर ध्यान दिया है? लगभग सभी ने इसे प्रदर्शित किया है और यह इतनी अजीब बात है। क्या यह नहीं है? क्या आप में से किसी ने सोचा है कि वास्तव में इसका क्या मतलब है?


क

फोटो क्रेडिट: Twitter



अंग्रेजी व्याकरण के अर्थ में विचार किया जाए तो क्या ऐसा नहीं किया जा सकता है? चलिए हम आपको यहां बताते हैं!


हॉर्न ओके प्लीज?

फोर्ब्स (Forbes) ने केनेथ रापोजा (Kenneth Rapoza) की एक ख़बर को प्रकाशित किया, जिसमें बताया गया था कि ट्रक चालक साइड मिरर की मदद लेने के बजाय, इस तथ्य का संकेत देते हुए हॉर्न का उपयोग करते हैं कि वे अब कार को ओवरटेक करने जा रहे हैं।


इसी तरह, ऐसे ट्रक भी हैं जिनमें वास्तव में साइड मिरर हैं ही नहीं। इस केस में ट्रक के पीछे बोल्ड में लिखे होर्न ओके प्लीज का मतलब है कि अगर पीछे चल रहा कोई कार चालक यदि ट्रक को ओवरटेक करने जा रहा है तो वह सिग्नल के रुप में हॉर्न बजाएं!


ओके का महत्व?

हॉर्न प्लीज फिर भी समझ में आता है, लेकिन दोनों के बीच में ओके का क्या महत्व है? इसलिए, इसका एक कारण यह है कि यदि आप ट्रक के पीछे हैं और ओके को स्पष्ट रूप से लिखा हुआ देख सकते हैं, तो इसका मतलब है कि आप ट्रक के साथ स्वीकार्य और सुरक्षित दूरी पर हैं।


ओके का एक अन्य कारण यह बताया गया है कि "ऑन केरोसीन (On Kerosene)" जो कि ट्रक के पीछे ड्राइवरों को दूरी बनाए रखने के लिए चेतावनी देता है। द्वितीय विश्व युद्ध के समय, ट्रक चालक गैस पर पैसे बचाने के लिए डीजल और मिट्टी के तेल का मिश्रण करते थे।


एक और सिद्धांत ओके को परिभाषित करता है, प्राचीन काल में TATA Group द्वारा लॉन्च किए गए डिटर्जेंट को इन ट्रकों द्वारा कमल के फूल के प्रिंट के साथ प्रचारित किया जाता है।


इसी के बारे में एक ट्विटर पोस्ट ने बहुत से लोगों को चकित कर दिया है!




  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India