कैसे और कहां करें NFT का इस्तेमाल?

By रविकांत पारीक
August 14, 2022, Updated on : Tue Aug 16 2022 04:01:19 GMT+0000
कैसे और कहां करें NFT का इस्तेमाल?
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

NFT (non-fungible token) ऐसे क्रिप्टोग्राफिक टोकन/डिजिटल एसेट हैं, जिनका लेन-देन तो ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी (Blockchain Technology) के जरिए बनाई गई बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी से किया जा सकता है, लेकिन इनका फिजिकल लेनदेन नहीं हो सकता है. NFT में डिजिटल आर्ट, म्यूजिक, फिल्म, गेम्स या किसी का कलेक्शन मिल सकता है. NFT ने पेंटिंग की दुनिया के कलाकारों के लिए नए अवसर खोले हैं.


चलिए आपके ज्ञानचक्षु खोलते हैं और इसे आसान भाषा में समझाते हैं. NFT किसी भी आर्टिस्ट और कंटेंट क्रिएटर्स को अपनी कीमती चीजों को मॉनेटाइज करने यानी बेचने के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म मुहैया कराता है. मतलब अब यूनीक और कीमती चीजों की नीलामी के लिए किसी ऑक्शन हाउस की जरूरत नहीं, आप उसे एनएफटी के तौर पर नीलाम कर सकते हैं. इसका एक बड़ा फायदा ये भी है कि अगर इस एनएफटी कहीं और बेचा जाता है तो उस पर आर्टिस्ट को रॉयल्टी भी मिलती है. ठीक उसी तरह जैसे कॉपीराइट वाले किसी गाने, म्यूजिक, किताब आदि की बिक्री से किताब के लेखक को रॉयल्टी मिलती है.


ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी और NFT आर्टिस्ट और कंटेंट क्रिएटर्स को अपनी कीमती चीजों को मॉनेटाइज करने, यानी बेचने के लिए बड़ा प्लेटफॉर्म देता है. आर्टिस्ट इसे सीधे कंज्यूमर को NFT के रूप में बेच सकता है. इससे उन्हें ज्यादा फायदा भी मिलता है. NFT से किसी आर्टिस्ट को अब अपनी आर्ट बेचने के लिए गैलरी या नीलामी घरों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा. वो खुद नीलामी कर सकते हैं. यही नहीं अगर किसी आर्टिस्ट का क्रिएशन कहीं और बिकता है तो उन्हें उस पर रॉयल्टी भी मिलेगी. यह विशेषता सिर्फ NFT में ही है. आमतौर पर किसी आर्टिस्ट को उसकी आर्ट पहली बार बिकने पर ही पैसा मिलता है.


अब अगर आपको अपना खुद का NFT कलेक्शन बनाना है तो आपके पास सबसे पहले एक डिजिटल वॉलेट होना चाहिए. इसी वॉलेट के जरिए आपको NFT और क्रिप्टोकरेंसी को स्टोर करने की अनुमति मिलेगी. वॉलेट में एथेरियम जैसी कोई क्रिप्टोकरेंसी होनी चाहिए, जिनके जरिए NFT को खरीदा जा सकता है. आप अब Coinbase, Kraken, eToro, PayPal और Robinhood जैसे प्लेटफॉर्म पर क्रेडिट कार्ड का उपयोग करके एथेरियम जैसी क्रिप्टो करेंसी खरीद सकते हैं. ये प्लेटफॉर्म हर लेन-देन पर कुछ परसेंट चार्ज लेते हैं. लेन-देन करते हुए इसका ध्यान जरूर रखें.


इसके बाद आपको जो चीज बेचनी है, उसे एनएफटी मार्केटप्लेट पर डालना होगा, जिसका अधिकतम साइज 100 एमबी तक हो सकता है. अपनी एनएफटी के लिए अधिक से अधिक कीमत पानी है तो उसे तमाम जगहों पर प्रमोट जरूर करें, ताकि नीलामी अधिक से अधिक कीमत में हो सके.


NFT भी बिटकॉइन और अन्य क्रिप्टोकरेंसी की तरह ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी पर आधारित होती है. NFTs यूनीक एसेट क्लास हैं, जिन्हें थर्ड पार्टी की मदद के बिना ऑनलाइन क्रिएट किया जा सकता है, रखा जा सकता है और ट्रेड किया जा सकता है. ब्लॉकचेन एक ऐसा डेटाबेस है, जहां जानकारी/सूचना ब्लॉक्स में स्टोर रहती है. ये ब्लॉक्स एक चेन के जरिए आपस में जुड़े रहते हैं.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close