जानिए कैसे शुरू करें पोहा बनाने का बिजनेस, तगड़ी कमाई का है शानदार मौका

पोहा बनाने के बिजनेस से तगड़ा मुनाफा कमा सकते हैं. जितने बेहतर क्वालिटी का धान आप इस्तेमाल करेंगे, उतना अच्छा पोहा बनेगा. लगभग हर घर में ही इसका इस्तेमाल होता है.

जानिए कैसे शुरू करें पोहा बनाने का बिजनेस, तगड़ी कमाई का है शानदार मौका

Wednesday December 07, 2022,

3 min Read

आज के वक्त में लोग तरह-तरह के बिजनेस (Business Idea) कर के तगड़ी कमाई कर रहे हैं. कई सारे लोगों को पहले जो काम छोटा लगा करता था, अब उस काम से भी लाखों की कमाई की जा रही है. एक ऐसा ही बिजनेस है पोहा (Rice Flakes Business Idea) बनाने का. इस बिजनेस में लोग खूब तगड़ी कमाई कर रहे हैं. पोहे (Poha Making Business Idea) का इस्तेमाल बहुत सारे घरों में तो होता ही है, कई लोग पोहा पकाकर उसका बिजनेस भी करते हैं. ऐसे में पोहे की खूब खपत है. आइए जानते हैं कैसे शुरू करें पोहे का बिजनेस (How to start Poha Making Business) और इस बिजनेस में कितना मुनाफा कमाया जा सकता है.

पोहा बनाने के लिए आपको धान की जरूरत होगी. आप किसी भी मंडी से या ऑनलाइन भी धान की खरीद कर सकते हैं. सबसे अच्छा तो ये होगा कि आप सीधे किसानों से ही धान खरीद लें. धान भी कई तरह के होते हैं. ऐसे में आप जिस क्वालिटी का पोहा बनाना चाहते हैं, उस क्वालिटी के धान का इस्तेमाल कर सकते हैं. हालांकि, आपको पहले मार्केट रिसर्च करनी चाहिए और जिस तरह के पोहे की मांग बाजार में ज्यादा हो, वैसे पोहे बनाने चाहिए. धान की कीमत 2040 रुपये प्रति क्विंटल से शुरू होती है और अलग-अलग क्वालिटी के हिसाब से बढ़ती जाती है.

कितनी लागत, कितना मुनाफा?

पोहा बनाने से लेकर पोहे को पैक करने तक के लिए आपको कुछ मशीनों की जरूरत होगी. इन मशीनों को आप बाजार से खरीद सकते हैं. तमाम मशीनों में आपके करीब 2 लाख रुपये तक खर्च हो सकते हैं. अगर आप बड़े लेवल पर बिजनस करेंगे तो उसी हिसाब से आपको अधिक मशीनें चाहिए होंगी और साथ ही ज्यादा जगह और लेबर की जरूरत पड़ेगी. इस बिजनेस में आप पोहे को कितनी बेहतर तरीके से पैक कर के बेचते हैं, उस पर आपकी कमाई निर्भर करेगी. साथ ही आप किस क्वालिटी के चावल का इस्तेमाल करेंगे, यह भी देखना होगा.

कैसे बनता है पोहा?

पोहा बनाने के लिए सबसे पहले धान को साफ किया जाता है. उसके बाद उसे लगभग 40 मिनट तक गर्म पानी में रखा जाता है. पानी से निकालकर सुखाने के बाद उसे भूना जाता है और फिर पोहा बनाने की मशीन में डाल दिया जाता है. इस मशीन में धान के दानों की कुटाई होती है और वह पोहे का आकार ले लेते हैं. साथ ही उससे धान का छिलका भी अलग हो जाता है. इसके बाद पोहे को छानकर उससे बहुत ज्यादा छोटे हो चुके दानों को अलग कर लिया जाता है और फिर पैकेजिंग कर के बाजार में बेच दिया जाता है.

कुछ बातों का रखना होगा ध्यान

पोहे के बिजनेस में आपको कुछ तरह के लाइसेंस की भी जरूरत होगी. आप एक खाने वाली चीज बना रहे हैं, ऐसे में आपको फूड लाइसेंस लेना होगा. साथ ही जिस भी राज्य में आप रहते हैं, वहां के खाद्य विभाग से बिजनेस शुरू करने की जरूरी औपरचारिकताओं की जानकारी जरूर ले लें. इस बिजनेस को करते वक्त आपको बहुत अधिक सावधानी बरतनी होगी, वरना छोटी सी भी गड़बड़ी हुई तो आपका लाइसेंस भी छिन सकता है.