इधर जेपी का सीमेंट बिजनेस खरीदने वाले हैं अडानी, उधर इस कंपनी ने JSW Cement को बेच दिया कारोबार

By yourstory हिन्दी
October 11, 2022, Updated on : Wed Oct 12 2022 04:14:30 GMT+0000
इधर जेपी का सीमेंट बिजनेस खरीदने वाले हैं अडानी, उधर इस कंपनी ने JSW Cement को बेच दिया कारोबार
इंडिया सीमेंट्स ने स्टॉक एक्सचेंजों को बताया कि आपको सूचित किया जाता है कि हमारी कंपनी ने 10 अक्टबर 2022 को जेएसडब्ल्यू सीमेंट लिमिटेड (खरीदार) के साथ एक शेयर खरीद समझौता किया है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

एक तरफ जहां अडानी ग्रुप जेपी सीमेंट को खरीदने की तैयारी कर रहा है तो वहीं सीमेंट निर्माता इंडिया सीमेंट्स ने सोमवार को एक्सचेंजों को बताया कि उसने स्प्रिंगवे माइनिंग में अपनी पूरी हिस्सेदारी जेएसडब्ल्यू सीमेंट लिमिटेड को कुल 477 करोड़ रुपये में बेच दी है. स्प्रिंगवे माइनिंग मध्य प्रदेश में एक सीमेंट प्लांट बना रही है.


इंडिया सीमेंट्स ने स्टॉक एक्सचेंजों को बताया कि आपको सूचित किया जाता है कि हमारी कंपनी ने 10 अक्टबर 2022 को जेएसडब्ल्यू सीमेंट लिमिटेड (खरीदार) के साथ एक शेयर खरीद समझौता किया है और स्प्रिंगवे माइनिंग प्राइवेट लिमिटेड (SMPL) में अपने पूरे शेयर को 476.87 करोड़ रुपये में बेच दिया है.


इंडिया सीमेंट्स ने कहा कि SMPL की कुल संपत्ति 14.22 करोड़ रुपये थी और वित्त वर्ष 2021-22 में इसका कारोबार शून्य था. दिसंबर 2018 में, इंडिया सीमेंट्स ने कहा था कि उसने 182 करोड़ रुपये में स्प्रिंगवे की पूरी हिस्सेदारी खरीदने के लिए एक शेयर खरीद समझौता किया है. इस साल जून के अंत में, इंडिया सीमेंट्स ने कहा कि उसने स्प्रिंगवे की कुल पेडअप इक्विटी और वरीयता शेयरों का अधिग्रहण पूरा कर लिया है.


नियामक फाइलिंग के अनुसार, स्प्रिंगवे मध्य प्रदेश के पन्ना में चूना पत्थर रखने वाली भूमि का मालिक है, और उसने राज्य के दमोह जिले में एक सीमेंट संयंत्र की योजना बनाई है. जेएसडब्ल्यू सीमेंट ने अब तक एसएमपीएल में हिस्सेदारी अधिग्रहण सौदे के तहत 373.87 करोड़ रुपये का भुगतान किया है. इंडिया सीमेंट कंपनी ने कहा कि लगभग 103 करोड़ रुपये की शेष राशि का भुगतान 31 दिसंबर, 2022 को या उससे पहले किया जाएगा.

JSW मध्य भारत में करेगा 3,200 करोड़ रुपये का निवेश

वहीं, जेएसडब्ल्यू सीमेंट ने मंगलवार को कहा कि वह मध्य भारत में 3,200 करोड़ रुपये से अधिक का निवेश करेगी. इस निवेश से कुल 50 लाख टन सालाना विनिर्माण क्षमता के दो नए सीमेंट संयंत्रों की स्थापना की जाएगी.

जेएसडब्ल्यू समूह की कंपनी मध्य प्रदेश में एक एकीकृत ग्रीनफील्ड सीमेंट विनिर्माण संयंत्र की स्थापना करेगी. इसके अलावा उत्तर प्रदेश में एक स्प्लिट ग्राइंडिंग इकाई की स्थापना की जाएगी.

कर्ज में डूबे जेपी समूह के अधिग्रहण के लिए बातचीत कर रहा अडानी ग्रुप

भारत के बिलियनेयर बिजनेसमैन गौतम अडानी के नियंत्रण वाला अडानी समूह करीब 50 अरब रुपए में कर्ज में डूबे जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमिटेड के साथ एक डील के लिए बातचीत कर रहा है. पोर्ट-टू-पावर समूह सीमेंट पीसने वाली इकाई और अन्य छोटी संपत्तियों के लिए जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमिटेड को 5000 करोड़ रुपए (606 मिलियन डॉलर) दे सकता है.

सीमेंट सेक्टर में हाल ही में उतरा है अडानी समूह

सीमेंट सेक्‍टर में अडानी समूह ने हाल ही में पांव रखे हैं. इस साल मई में स्विटजरलैंड की कंपनी होल्सिम लिमिटेड के साथ अडानी ने बड़ा सौदा किया था. जयप्रकाश पावर वेंचर्स लिमिटेड के साथ सौदे के बाद सीमेंट सेक्‍टर में भी अडानी समूह के पांव बहुत मजबूती के साथ जम जाएंगे और मुमकिन है कि जल्‍द ही वह इस क्षेत्र का सबसे बड़ा प्‍लेयर बनकर उभरे. 


इस साल मई में अडानी समूह ने स्विटजरलैंड के होल्सिम लिमिटेड से अंबुजा सीमेंट्स लिमिटेड और एसीसी लिमिटेड को खरीद लिया था, जिसकी सालाना उत्‍पादन क्षमता 67.5 मिलियन टन है. इसी के साथ अडानी समूह अब भारत का दूसरे नंबर का सबसे बड़ा सीमेंट निर्माता बन गया है.


Edited by Vishal Jaiswal