विदेश घूमना हैं? इन 60 देशों की यात्रा में वीजा नहीं बनेगा रोड़ा... बैग पैक करें और निकलें

By रविकांत पारीक
December 04, 2022, Updated on : Sun Dec 04 2022 07:09:34 GMT+0000
विदेश घूमना हैं? इन 60 देशों की यात्रा में वीजा नहीं बनेगा रोड़ा... बैग पैक करें और निकलें
आज हम आपको उन देशों के नाम बता रहे हैं, जहां घूमने जाने के लिए आपको वीजा की जरुरत नहीं पड़ती. मतलब की बैग पैक करो, टिकट लो और खूबसूरत सफर पर निकल पड़ो...
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

यूं तो भारत में लगभग हर कोई विदेश घूमना चाहता है. वहां के खूबसूरत नजारों को देखना चाहता है. लेकिन पैसों की कमी और विदेश जाने के लिए जरूरी कागजातों, पासपोर्ट और वीजा के बिना उनका यह ख्वाब अधूरा रह जाता है.


लेकिन क्या आप जानते हैं कि कई ऐसे भी देश हैं, जहां यात्रा करने के लिए भारतीय नागरिकों को वीजा की जरूरत नहीं होती है. और इसका सीधा असर आपके बजट पर भी है. साथ ही कागजी कार्रवाई से भी आप फ्री रहते हैं.


गौरतलब हो कि इसी साल, जुलाई महीने में हेनले एंड पार्टनर्स ने हेनले पासपोर्ट इंडेक्स Q3 2022 ग्लोबल रैंकिंग जारी की थी. हैनले पासपोर्ट इंडेक्स के अनुसार, भारतीय पासपोर्ट को 87वीं रैंक मिली है. यह रिपोर्ट इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन के डेटा पर आधारित है. एसोसिएशन दुनिया के सबसे बड़े यात्रा जानकारी के डेटाबेस को बनाए रखता है.


भारतीय पासपोर्ट की 87वीं रैंक के मायने समझें तो, इसका मतलब है कि भारतीय नागरिक बिना वीजा 60 देशों में घूम सकते हैं.


तो चलिए आज हम आपको उन देशों के नाम बता रहे हैं, जहां घूमने जाने के लिए आपको वीजा की जरुरत नहीं पड़ती. मतलब की बैग पैक करो, टिकट लो और खूबसूरत सफर पर निकल पड़ो...

indian-citizens-can-visit-these-countries-without-visa

सांकेतिक चित्र

भारतीय नागरिक 20 अफ्रीकी देशों, 2 यूरोपीय देशों, 2 अमेरिकी देशों, 4 मध्य पूर्वी देशों, 11 एशियाई देशों, 8 ओशियान देशों और 10 कैरेबियाई देशों में वीजा-फ्री ट्रैवल कर सकते हैं.


ध्यान रहे कि वीजा-फ्री ट्रैवल का मतलब है कि उन देशों में आप केवल इंडियन पासपोर्ट के सहारे जा सकते हैं, वहां घूम सकते हैं, रह सकते हैं. लेकिन इसकी एक समयसीमा निर्धारित है कि कहां आपको कितने दिनों तक रहने की अनुमति होगी. हर देश में यात्रा के कुछ और भी नियम-कायदे होते हैं, जिनका आपको ध्यान रखना होगा. जैसे कि कई देशों में वीजा ऑन अराइवल की सुविधा दी जाती है. यानी पहले से वीजा की जरूरत नहीं, बल्कि आपके वहां पहुंचने पर आपको आसानी से वीजा मिल जाता है.


देशों के नाम हैं — भूटान, कुक आइलैंड्स, बारबाडोस, कंबोडिया, फिजी, डोमिनिका, इंडोनेशिया, माइक्रोनेशिया, हैती, लाओस, मार्शल आइलैंड्स, मोंटसेराट, मकाओ (एसएआर चीन), नीयू, सेंट लूसिया, मालदीव, पलाऊ आइलैंड्स, त्रिनिदाद और टोबैगो, म्यांमार, तुवालु , ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड्स, नेपाल, समोआ, ग्रेनाडा, श्रीलंका, वानुअतु, जमैका, थाईलैंड, सेंट किट्स एंड नेविस, तिमोर-लेस्ते, सेंट विंसेंट और ग्रेनेडाइंस, ईरान, अल्बानिया, बोलीविया, कतर, सर्बिया, अल सल्वाडोर, जॉर्डन, ओमान, बोत्सवाना, बुरुंडी, केप वर्डे द्वीप समूह, कोमोरो द्वीप समूह, इथियोपिया, गैबॉन, गिनी-बिसाऊ, मेडागास्कर, मॉरिटानिया, मॉरीशस, मोज़ाम्बिक, रवांडा, सेनेगल, सेशेल्स, सिएरा लियोन, सोमालिया, तंजानिया, टोगो, ट्यूनीशिया, युगांडा, ज़िम्बाब्वे.


इस बात का ख़याल रहे कि आप जिस देश में जा रहे हैं, वहां भले ही वीजा की जरूरत न पड़े लेकिन अन्य नियमों का भी ध्यान रखना पड़ता है. आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि आप अपने वीजा फ्री ट्रैवल की वैलिडिटी से आगे न बढ़ें. तय अधिकतम समयसीमा में ही आप वापस भारत लौट आएं. इंटरनेशनल ट्रैवल इंश्योरेंस एक अच्छा विकल्प साबित होता है. आप जिस देश जा रहे हों, वहां के कानूनों का पालन करना भी जरूरी है. साथ ही अपनी यात्रा सुरक्षा और वित्तीय जरूरतों का भी ध्यान रखें. किसी भी तरह की आपात स्थिति में जरूरत पड़ने पर आप भारतीय दूतावास से संपर्क कर सकते हैं.

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close