50 हजार से की थी शुरुआत, अब कोरोना महामारी के बावजूद 2.5 करोड़ रुपये का कारोबार कर रहा है जयपुर का ये गिफ्टिंग ब्रांड

By Bhavya Kaushal|9th Apr 2021
कन्फेट्टी गिफ्ट्स (Confetti Gifts) फरवरी 2020 में सौम्या काबरा द्वारा शुरू किया गया था। पर्सनलाइजेशन पर फोकस ब्रांड अपनी वेबसाइट के माध्यम से हर महीने 1,300 कस्टमर्स को सर्विस प्रदान करता है, और इसके B2B ग्राहकों में अमेजॉन, आईबीएम, एडोब, रेजरपे जैसे ब्रांड्स हैं।
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ऐसे समय में जहां व्यक्तिगततौर पर किसी से मिलना चुनौतीपूर्ण है, वहां डिजिटाइजेशन के चलते अब विशेष अवसरों पर अपने प्रियजनों तक पहुंचना संभव हो गया है। यही वजह है कि ऑनलाइन गिफ्टिंग इतनी लोकप्रिय हो रही है।


एक रिपोर्ट के अनुसार, कई दुकानें बंद होने के बावजूद, गिफ्ट कार्ड मार्केट पिछले एक साल में कई कारकों से प्रभावित हुआ, जिसमें ई-कॉमर्स की वृद्धि, कर्मचारियों को दूर से काम करने के


लिए प्रोत्साहित करना, डिजिटल गिफ्ट, और सरकार द्वारा की गईं पहलें, हॉस्पिटैलिटी, और ट्रैवल इंडस्ट्रीज शामिल हैं। मार्केट रिसर्च कंपनी TechSci की रिसर्च के अनुसार, भारतीय गिफ्ट


मार्केट 2019 में 119 मिलियन डॉलर से बढ़कर 2025 तक 159 मिलियन डॉलर होने का अनुमान है।


कन्फेट्टी गिफ्ट्स (Confetti Gifts) एक जयपुर स्थित गिफ्टिंग ब्रांड है जिसकी स्थापना सौम्या काबरा ने फरवरी 2020 में की थी। ब्रांड कॉर्पोरेट गिफ्ट देने के साथ शुरू हुआ और धीरे-धीरे बी 2 सी स्पेस में अपना रास्ता बना लिया। कंपनी महामारी के बावजूद इस साल 2.5 करोड़ रुपये का कारोबार करने में सफल रही।


आइए जानते हैं कि कैसे विभिन्न चुनौतियों के बावजूद कंपनी बड़े पैमाने पर काम करने में सक्षम रही:

गैप को पहचानना

किसी भी उद्यमी यात्रा की शुरुआत एक गैप को पहचानने के साथ शुरू होती है। सौम्या जनवरी 2019 में मैनचेस्टर युनिवर्सिटी से एमबीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद ब्रिटेन से लौटी थीं। वह


भारत में अपने दोस्तों के लिए कुछ गिफ्ट ऑर्डर करना चाहती थीं, लेकिन ऐसा कोई भी पोर्टल नहीं मिला जो "भेजने वाले की निजी भावनाओं" को समझ सके।


वह बताती हैं, "उपलब्ध गिफ्ट ऑप्शन बहुत बुनियादी थे और व्यक्तिगत भावनाओं के बारे में वास्तव में परवाह नहीं करते थे। विविधता बहुत सीमित थी और उनमें ऐसा कुछ भी नहीं था जो किसी व्यक्ति की पसंद या अच्छा को पहचानता हो।"


इसने सौम्या को सोचने पर मजबूर कर दिया। अभिव्यक्ति से जुड़ी स्वतंत्रता की वजह से एक उद्यमी बनने की इच्छुक, सौम्या ने सोचा कि यह सही समय है इस सेगमेंट में गोता लगाने के लिए।


2019 में, उसने व्यक्तिगत बचत से 50,000 रुपये के शुरुआती निवेश के साथ कन्फेट्टी गिफ्ट्स की स्थापना की।

सौम्या काबरा, Confetti Gifts की फाउंडर

सौम्या काबरा, Confetti Gifts की फाउंडर

हर किसी का ख्याल रखना

सौम्या का कहना है किन्फेट्टी गिफ्ट्स पर्सनलाइजेश पर बनाया गया है। यह पूछने पर कि वह इस उद्देश्य को कैसे प्राप्त कर रही हैं, सौम्या ने YourStory से कहा, "अगर किसी को कॉफी या चाय पसंद है, तो बॉक्स को विशेष रूप से उनके लिए उनकी पसंद को ध्यान में रखते हुए क्यूरेट किया जाएगा।"


कन्फेट्टी गिफ्ट्स अपने ग्राहकों को थ्री-स्टेप प्रोसेस के साथ उनके खुद के बॉक्स को स्टाइल करने में सक्षम बनाता है। इसमें बॉक्स का चयन करना, उन प्रोडक्ट्स को चुनना जो वे गिफ्ट के तौर पर देना चाहते हैं, और अंत में, हैम्पर के साथ भेजने के लिए ग्रीटिंग कार्ड का चयन शामिल है।


कंपनी ऐसे प्रोडक्ट्स ऑफर करती है जिन्हें बॉक्स में जोड़ा जा सकता है, जिसमें फोटो फ्रेम, मग, कैंडल्स, टी, कॉफी, वो, टाई, मोजे, फेस मास्क, स्टेशनरी और बहुत कुछ शामिल है। इस


विविधता को पेश करने के लिए जिन कुछ ब्रांडों के साथ इसने सहयोग किया है, उनमें द होल ट्रुथ, पफमास्टर, कंट्री बीन, 4700बीसी, टिगल, द पेस्टल माइंड, फाय, स्टैलियन बरवेयर, पॉल एंड माइक, स्प्रेड इट, नटी ग्रिटिज, टी ट्रंक, ब्राउन्साल्ट आदि शामिल हैं। । ये ब्रांड 30-40 प्रतिशत के मार्जिन पर अपने प्रोडक्ट्स की पेशकश करते हैं।


गिफ्ट बॉक्स 1,000 रुपये से शुरू होकर 3,000 रुपये तक जाते हैं। औसत बिक्री मूल्य 2,500 रुपये है। सौम्या ने कहती हैं, "आप सब कुछ एक ही मंच पर पा सकते हैं।"


कॉरपोरेट गिफ्टिंग के लिए सौम्या का कहना है कि कंपनियां सीधे या किसी ईमेल ड्रॉप कर किन्फेट्टी गिफ्ट्स तक पहुंचती हैं, जिसके बाद कंपनी उन्हें एक प्रश्नावली भेजती है जिसमें गिफ्ट बॉक्स को पर्सनलाइज करने के लिए गिफ्ट्स के उद्देश्य, कर्मचारियों की संख्या और प्रकार आदि जैसे विवरण शामिल होते हैं।


कन्फेट्टी गिफ्ट्स के कुछ कॉरपोरेट ग्राहकों में अमेजॉन, आईबीएम, एडोब, रेजरपे, आईएनजी बैंक, मर्सिडीज बेंज, गोदरेज, ड्यूश बैंक, जी मीडिया ग्रुप, बजाज ऑटो आदि शामिल हैं।

प

गिफ्ट बॉक्स

ऑनलाइन बनाम ऑफलाइन

अभी तक, कन्फेट्टी अपनी वेबसाइट के माध्यम से बेचता है। इसे शॉपिफाई पर सूचीबद्ध किया गया था लेकिन सौम्या का कहना है कि अभी, वह केवल "विशिष्टता बनाए रखने" के लिए वेबसाइट पर ध्यान केंद्रित करना चाहती हैं।


ब्रांड अपने इंस्टाग्राम और फेसबुक हैंडल पर प्रोडक्ट्स की मार्केटिंग भी कर रहा है। कंपनी की लगभग 60 प्रतिशत बिक्री ऑनलाइन रिक्वेस्ट से होती है और 40 प्रतिशत कॉर्पोरेट गिफ्ट्स देने से होती है।


यह ब्रांड, जो 18 से 28 वर्ष की आयु के लिए है, न केवल पूरे इंडिया में बेचता है, बल्कि अमेरिका, यूके, डेनमार्क, यूएई आदि देशों को निर्यात भी करता है।


एक्सपोर्ट मार्केट के बारे में बात करते हुए सौम्या कहती हैं, “चॉकलेट्स गिफ्ट करना अब ट्रेंड से बाहर हो रहा है। दुनिया भर में लोग इनोवेटिव प्रोडक्ट्स की तलाश कर रहे हैं।”

कम सफर किया हुआ रास्ता

सौम्या के यूके से लौटने के तुरंत बाद कन्फेट्टी गिफ्ट्स लॉन्च किया गया था। इसके अलावा, कंपनी अपने शुरुआती अवस्था में थी जब वैश्विक महामारी ने भारत को प्रभावित किया और व्यवधान उत्पन्न किया। इन चुनौतियों और अमेजॉन और आईबीएम जैसी कंपनियों के साथ डील करने के बारे में बात करते हुए सौम्या कहती हैं, “हमने कम मार्जिन पर काम किया; हम शुरुआत करते समय उनसे बड़ा मार्जिन नहीं चाहते थे। मैंने महसूस किया है कि इन बड़े ब्रांडों में से कई बिक्री केंद्रित हैं। उन्हें कम दरों पर वॉल्यूम देने से उनकी दिलचस्पी जल्दी बनती है।”


उन्होंने यह भी कहा कि कोरोनोवायरस महामारी ने बहुत अनिश्चितता पैदा की, लेकिन उनकी बिक्री में ऑफलाइन से लेकर ऑनलाइन तक एक उछाल देखा गया। फरवरी 2021 में, कन्फेट्टी ने 2,3003 रुपये के औसत ऑर्डर मूल्य के साथ 1,300 बॉक्स बेचे।


कंपनी औसतन, यह एक महीने में 1,300-1,800 बॉक्स के बीच बेचती है। भारत में गिफ्टिंग स्पेस में बड़े और छोटे दोनों प्लेयर्स काम करते हैं, जिनमें ITC, फर्न्स एंड पेटल्स, द गिफ्ट अफेयर, IGP आदि शामिल हैं, लेकिन सौम्या को भरोसा है कि उनका प्रोडक्ट इन सबसे अलग है। 


सौम्या कहती हैं, “वे बहुत सारे प्रोडक्ट्स तैयार कर रहे हैं लेकिन वे विशेष रूप से लोगों की भावनाओं को टारगेट करने में सक्षम नहीं हैं। कन्फेट्टी में, हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि हर एक व्यक्ति को उनके द्वारा आवश्यक कस्टमाइजेशन मिल रहा है। और यह केवल प्रोडक्ट्स पर प्रिटेंड नाम या पिक्चर को प्राप्त करने के बारे में नहीं है। यह इससे कहीं अधिक है। यह उनकी पसंद और पसंद को समझने के बारे में है।”


कन्फेट्टी एक पीरियड पैम्पर बॉक्स भी प्रदान करता है, जो विशेष रूप से मासिक धर्म के दौरान परेशानी का सामना करने वाली महिलाओं के लिए डिजाइन किया गया है।


सौम्या ने कहा कि कंपनी इस बात पर रिसर्च कर रही है कि बैकएंड सिस्टम में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस को कैसे जोड़ा जाए। वह आने वाले महीनों में शादी की श्रेणी में आने की योजना बना रही हैं।

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close