लॉक डाउन के बीच कंपनियों ने समय से पहले बांटी सैलरी, घर से काम कर रहे कर्मचारियों को मिलेगी राहत

By yourstory हिन्दी
March 30, 2020, Updated on : Mon Mar 30 2020 11:31:31 GMT+0000
लॉक डाउन के बीच कंपनियों ने समय से पहले बांटी सैलरी, घर से काम कर रहे कर्मचारियों को मिलेगी राहत
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

कोरोना वायरस महामारी के चलते देश भर में लागू लॉक डाउन के बीच कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को सैलरी समय से पहले ही क्रेडिट कर दी है।

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र



कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच एक ओर जहां देश भर में 14 अप्रैल तक लॉक डाउन की घोषणा की गई है, वहीं इस बीच कई कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को राहत दी है। इन कंपनियों ने अपने कर्मचारियों की मार्च महीने की तंख्वाह समय से पहले ही उनके खाते में डाल दी है।


कोरोना वायरस के चलते एक ओर जहां अर्थव्यवस्था को बड़ा झटका लगा है, वहीं दूसरी ओर बड़ी तादाद में नौकरियों पर भी संकट आ पड़ा है, ऐसे में कंपनियों द्वारा एडवांस सैलरी से इन कर्मचारियों को राहत जरूर मिलेगी।


जिन कंपनियों ने अपने कर्मचारियों को महीना पूरा होने से पहले ही सैलरी बांटी है, उनमें टीसीएस, एसबीआई जनरल, हिताची रेल, मैरिको, इंडियाबुल्स और मेट्रो कैश एंड कैरी जैसी कंपनियाँ शामिल हैं। कंपनियों के इस कदम से घर से काम कर रहे कर्मचारियों को ख़ासी राहत मिलेगी।


टीसीएस और मैरिको ने अपने कर्मचारियों को 27 मार्च को ही महीने की सैलरी बाँट दी थी, जबकि इंडिया बुल्स और एसबीआई जनरल ने अपने कर्मचारियों को 26 मार्च को सैलरी बाँट दी थी। इंडियाबुल्स के कर्मचारी अपनी एक दिन की सैलरी पीएम राहत कोष में भी दान कर रहे हैं।


सोमवार दोपहर 12 बजे तक भारत में कोरोना वायरस संक्रमण के 1173 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि इस बीमारी से अब तक 102 लोग रिकवर भी हो चुके हैं। भारत में महाराष्ट्र और केरल इससे सबसे अधिक प्रभावित हुए हैं।