मिलें डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने वाली इंडियन-अमेरिकन विजया गड्डे से

By Ranjana Tripathi
January 11, 2021, Updated on : Fri Feb 05 2021 07:41:13 GMT+0000
मिलें डोनाल्ड ट्रंप का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने वाली इंडियन-अमेरिकन विजया गड्डे से
कौन हैं विजया गड्डे, जिन्होंने लिया ट्रंप का ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने का फैसला?
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

"पिछले दिनों कैपिटॉल बिल्डिंग में अपने समर्थकों द्वारा की गई हिंसा के बाद डोनाल्ड ट्रंप का निजी ट्विटर अकाउंड स्थायी रूप से बंद कर दिया गया। ट्रंप पर इस कार्रवाई के पीछे एक प्रवासी भारतीय महिला हाथ है, जिनका नाम विजया गड्डे है। 45 वर्षीय प्रवासी भारतीय विजया गड्डे ट्विटर में लीगल और पॉलिसी मेकिंग टीम की प्रमुख हैं और इन्होने ही ट्रंप के पर्सनल ट्विटर अकाउंट को सस्पेंड करने का फैसला लिया था।"

क

विजया गड्डे, फोटो साभार : Twitter

इंडियन-अमेरिकन 45 वर्षीय अप्रवासी और ट्विटर की शीर्ष वकील, विजया गड्डे ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के ट्विटर खातों को स्थायी रूप से निलंबित करने के निर्णय की पुष्टि की थी। ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी टेक दिग्गज ने डोनाल्ड ट्रम्प के ट्विटर हैंडल को सस्पेंड कर दिया हो। आपको बता दें कि कैपिटॉल बिल्डिंग में अपने समर्थकों द्वारा की गई हिंसा के बाद डोनाल्ड ट्रंप का निजी ट्विटर अकाउंड स्थायी रूप से बंद कर दिया गया है।


विजया गड्डे ट्विटर में लीगल और पॉलिसी मेकिंग टीम की प्रमुख हैं। 45 वर्षीय प्रवासी भारतीय विजया गड्डे ने शुक्रवार को ट्रंप के पर्सनल ट्विटर अकाउंट सस्पेंड करने का फैसला लिया था।


विजया ने ट्विटर पर कहा था,

“@realDonaldTrump के खाते को आगे की हिंसा के जोखिम के कारण ट्विटर से स्थायी रूप से निलंबित कर दिया गया है। हमने अपना नीति प्रवर्तन विश्लेषण भी प्रकाशित किया है - हमारे निर्णय के बारे में आप यहाँ पढ़ सकते हैं।”

कौन हैं विजया गड्डे?

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार भारत में जन्मी विजया गड्डे बचपन में ही अमेरिका चली गईं और टेक्सास में पली-बढ़ीं। विजया के पिता ने मैक्सिको की खाड़ी में तेल रिफाइनरियों में एक केमिकल इंजीनियर के रूप में काम किया। गड्डे परिवार फिर पूर्वी तट पर चला गया, जहां विजया ने न्यू जर्सी में अपना हाई स्कूल पूरा किया। 


कॉर्नेल यूनिवर्सिटी और न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी लॉ स्कूल से स्नातक गड्डे ने 2011 में सोशल मीडिया कंपनी में शामिल होने से पहले टेक स्टार्टअप के साथ काम करने वाली एक लॉ फर्म में लगभग एक दशक बिताया


गौरतलब है कि ट्विटर के नियम बनाने और लागू करने की जिम्मेदारी कंपनी की टॉप वकील विजया गड्डे की है। विजया माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर की कानूनी व नीतिगत टीम की प्रमुख हैं। भारत में जन्मीं विजया गड्डे ट्विटर की एक प्रमुख चेहरा रही हैं। भारत में जन्मी गड्डे बचपन में ही अमेरिका चली गईं थी। विजया टेक्सास में बड़ी हुई। उनके पिता ने मैक्सिको की खाड़ी में तेल शोधन कंपनी में केमिकल इंजीनियर के रूप में काम करते थे। इसके बाद गड्डे परिवार पूर्वी तट पर चला गया।


कॉरपोरेट वकील के रूप में, विजया गड्डे स्वयं पृष्ठभूमि की नीतियों का संचालन करती हैं, लेकिन उनके प्रभाव ने पिछले एक दशक में ट्विटर को आकार देने में मदद की है।


आपको बता दें, कि इनस्टाइल मैगज़ीन ने विजया गड्डे को दुनिया बदलने वाली 50 महिलाओं की सूची में शामिल किया है। ट्विटर में अपने काम के अलावा गड्डे एंजेल्स की सह-संस्थापक भी हैं, जो स्टार्टअप में निवेश को बढ़ावा देती है। फॉर्च्युन ने गड्डे के बारे में बताया कि ट्विटर के कर्मचारी समस्याओं के निपटान के लिए भले ही डॉर्सी से संपर्क करते हैं, लेकिन हकीकत यह है सारा निपटारा विजया करती हैं। यह फैसला भी विजया का ही था, कि 2020 के राष्ट्रपति चुनाव के दौरान पैसे लेकर ट्विटर पर राजनीतिक प्रचार नहीं किया जाएगा।

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close