अमेजन को पीछे छोड़ माइक्रो सॉफ्ट के बिल गेट्स फिर बने दुनिया के सबसे बड़े अमीर

अमेजन को पीछे छोड़ माइक्रो सॉफ्ट के बिल गेट्स फिर बने दुनिया के सबसे बड़े अमीर

Sunday October 27, 2019,

4 min Read

अमीरी की दौड़ में दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस को पीछे छोड़ते हुए माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स एक बार फिर दुनिया के सबसे बड़े धनाढ्य बन गए हैं। बिल गेट्स 1987 में पहली बार दुनिया के सबसे बड़े अमीर घोषित हुए थे। वह कहते हैं कि ये हमारे प्रतिस्पर्धी ही हमे हमेशा चौकन्ना रखते हैं।

k

अमीरी की दौड़ में दिग्गज ई-कॉमर्स कंपनी अमेजन के संस्थापक जेफ बेजोस को पीछे छोड़ते हुए अब माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स एक बार फिर दुनिया के सबसे बड़े धनाढ्य बन गए हैं। उससे पहले बिल गेट्स 24 साल तक दुनिया के सबसे अमीर शख्स रहे हैं। फोर्ब्स की लिस्ट में 1987 में बिल गेट्स को पहली बार दुनिया का सबसे बड़ा अमीर घोषित किया गया था। बिल गेट्स कहते हैं कि चाहे वो गूगल हो, एप्पल हो या कोई और अमेजन आदि, ये हमारे बेहतरीन प्रतिस्पर्धी ही हमें, हमेशा चौकन्ना रखते हैं। हमारी सफलताएं साझेदारियों पर निर्भर रहती है।


अमेजन की कुल पूंजी के तिमाही जुलाई-सितंबर नतीजे घोषित होने के बाद पता चला है कि कंपनी के शेयरों में पिछले साल के मुकाबले इस साल कंपनी के मुनाफे में 28 फीसदी की गिरावट के कारण बेजोस की संपत्ति घटकर 103.9 अरब डॉलर हो गई है, जबकि बिल गेट्स की कुल संपत्ति इस समय 105.7 अरब अमेरिकी डॉलर है। यद्यपि इस दौरान अमेजन को 14,910 करोड़ रुपये यानी 2.1 अरब डॉलर का मुनाफा हुआ है। वर्ष 2018 में बेजोस बिल गेट्स को पीछे छोड़कर विश्व के सबसे बड़े अमीर बन गए थे। साल 2017 के बाद से अमेजन के लाभ में यह पहली कमी है।  बेजोस 1998 में अमेरिका के 400 सबसे अमीर लोगों की लिस्ट में शामिल हुए थे।  


गौरतलब है कि ऑर्डर डिलीवरी में तेजी लाने के लिए अमेजन ने भारी निवेश किया है, जिसकी वजह से मुनाफे में कमी आ गई। अमेजन ने अपने प्राइम मेंबर्स के लिए एक बड़ी घोषणा करते हुए दो दिन के बजाय सिर्फ एक ही दिन में डिलीवरी मिलने का एलान किया था। इससे पहले कंपनी ग्राहकों को दो दिन में डिलीवरी देती थी। इससे कंपनी के शिपिंग खर्च में बढ़ोतरी हो गई। सितंबर तिमाही में कंपनी का शिपिंग खर्च 46 फीसदी बढ़कर 68,160 करोड़ रुपये यानी 9.6 अरब डॉलर रहा। हालांकि एक दिन में डिलीवरी मिलने के एलान से कंपनी के बिक्री में इजाफा भी हुआ है। इससे कंपनी का रेवेन्यू 24 फीसदी बढ़ा है।


सितंबर तिमाही में यह 4.97 लाख करोड़ रुपये यानी 70 अरब डॉलर रहा। जबकि पिछले साल सितंबर में यह 56.6 अरब डॉलर था। अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में कंपनी को 80 अरब से 86.5 अरब डॉलर के रेवेन्यू और 1.2 अरब डॉलर से 2.9 अरब डॉलर के मुनाफे की उम्मीद है। मुनाफे में प्रमुख हिस्सेदारी वाली वेब सर्विस (एडब्ल्यूएस) से कंपनी को 63,900 करोड़ रुपये यानी नौ अरब डॉलर का रेवेन्यू मिला है, जो पिछले साल की सितंबर तिमाही के मुकाबले 35 फीसदी ज्यादा है।





बिल गेट्स कहते हैं कि हर व्यक्ति को एक कोच की जरूरत होती है, चाहे वह एक बास्केटबाल का खिलाड़ी हो या एक ताश का खिलाड़ी। सफलता एक घटिया शिक्षक है, यह लोगों में ऐसी सोच विकसित कर देती है कि वह कभी असफल नहीं हो सकते। अपनी तुलना किसी और से नहीं करनी चाहिए। ऐसा करना, एक तरह से खुद की बेइज्जती करना है। असंतुष्ट होने से आप, सीखने की तरफ अग्रसर होते हैं। सफलता मिलने के बाद खुशियां मनाना अच्छी बात है, लेकिन असफलताओं और गलतियों से सीखना उससे भी ज्यादा महत्वपूर्ण है। आप में चाहे कितनी भी योग्यता क्यों न हो, एकाग्रचित्त होकर ही आप महान कार्य कर सकते हैं। अगर आप गरीब घर में जन्में हैं तो यह आपकी गलती नहीं है, लेकिन अगर आप गरीबी में ही मरते हैं, तो यह आपकी ही गलती है। वह कहते हैं कि वह हमेशा किसी कठिन काम को करने के लिए, किसी आलसी इन्सान को चुनना पसंद करते हैं, क्योंकि वह आलसी इन्सान उस कठिन काम को पूरा करने के लिए कोई आसान तरीका ढूंढ निकालेगा। 


बिल गेट्स का मानना है कि असली नेतृत्व क्षमता उसी व्यक्ति के अंदर हैं, जो दूसरो को सशक्त बनाते हैं। यदि आप कुछ अच्छा बना नहीं  सकते, तो कम से कम ऐसा करिए कि वह अच्छा दिखे। आपको बड़ी विजय प्राप्त करने के लिए, कभी कभी बहुत बड़ी जोखिम लेना पड़ता है। विरासत एक बहुत बेकार चीज है, मुझे विरासत की जरूरत नहीं। लोग हमेशा बदलाव से डरते हैं, जब बिजली का अविष्कार हुआ था तब भी डरे थे। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर आप लोगो को समस्याएं दिखाएंगे और उनका हल बताएंगे तो लोग उन्हें अपनाने के लिए जरूर आकर्षित होंगे। उम्मीद सत्य का एक रूप है, यदि व्यक्ति में उम्मीदें जिंदा रहती है तो वह अवश्य ही सफलता हासिल करता है।


Montage of TechSparks Mumbai Sponsors