Nithin Kamath लाए फिटनेस चैलेंज, जीतने वालों को 1 महीने की बोनस सैलरी, लकी ड्रॉ जीता तो मिलेंगे 10 लाख

By Anuj Maurya
September 26, 2022, Updated on : Mon Sep 26 2022 11:48:01 GMT+0000
Nithin Kamath लाए फिटनेस चैलेंज, जीतने वालों को 1 महीने की बोनस सैलरी, लकी ड्रॉ जीता तो मिलेंगे 10 लाख
नितिन कामत ने अपनी कंपनी के कर्मचारियों को एक डेली एक्टिविटी गोल सेट करने को कहा है. जो जीतेंगे, उन्हें 1 महीने की सैलरी बोनस के तौर पर दी जाएगी. एक लकी ड्रॉ भी होगा, जो जीतने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम मिलेगा.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ब्रोकरेज फर्म Zerodha के फाउंडर नितिन कामत (Nithin Kamath) अक्सर ही चर्चा में रहते हैं. इस बार वह फिटनेस चैलेंज (Fitness Challenge) के लिए चर्चा में हैं, जिसके तहत वह अपने कर्मचारियों को बोनस ऑफर कर रहे हैं. बोनस भी ऐसा-वैसा नहीं, बल्कि पूरे एक महीने की सैलरी. इतना ही नहीं, एक लकी ड्रॉ भी निकाला जाएगा और जीतने वाले को 10 लाख रुपये का इनाम मिलेगा. नितिन कामत ने एक फिटनेस चैलेंज की शुरुआत की है, जिसके तहत कर्मचारियों को फिटनेस के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है.

क्या करना होगा इस फिटनेस चैलेंज में?

नितिन कामत ने अपनी कंपनी के कर्मचारियों को एक डेली एक्टिविटी गोल सेट करने को कहा है. इसके तहत जो भी कर्मचारी अपने गोल यानी लक्ष्य का 90 फीसदी हिस्सा हासिल कर लेगा, उसे बोनस के तौर पर 1 महीने की सैलरी दी जाएगी. यह लक्ष्य अगले 1 साल के लिए रखने के लिए कहा गया है. इस फिटनेस चैलेंज के तहत हर दिन कर्मचारी को कम से कम 350 कैलोरी बर्न करनी होगी. हालांकि, उन्होंने यह साफ कहा है कि यह वैकल्पिक प्रोग्राम है, लेकिन जैसा ऑफर उन्होंने दिया है शायद हर कर्मचारी इस चैलेंज को स्वीकार कर ले.

क्या कहा नितिन कामत ने?

नितिन कामत ने सोशल मीडिया पर अपने कर्मचारियों के लिए फिटनेस चैलेंस की बात कही है. उन्होंने कहा कि कंपनी के अधिकतर लोग वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं. इससे लगातार बैठे रहने और अधिक स्मोकिंग करने की आदत बढ़ रही है. ऐसे में टीम को एक्टिव करने के लिए यह फिटनेस चैलेंज लाया जा रहा है.

पहले भी दे चुके हैं फिटनेस चैलेंज

ये पहली बार नहीं है जब नितिन कामत ने फिटनेस चैलेंज दिया है. पिछले साल भी कामत ने 12 मंथ गेट-हेल्दी गोल प्रोग्राम शुरू किया था. वह फिटनेस का पूरा ध्यान रखते हैं और अब वह कर्मचारियों को फिट रखने के लिए भी एक ऐसा मोटिवेशन दे रहे हैं, जो हर कर्मचारी चाहता है. यानी साल भर काम करो, सेहत बनाओ और बदले में पैसे खर्च करने के बजाय 1 महीने की सैलरी अलग से पाओ, ये तो बहुत ही बड़ा मोटिवेशन है.

जीरोधा तेजी से चढ़ रहा बुलंदी की सीढ़ियां

नितिन कामत ने जीरोधा की शुरुआत 2010 में की थी. अपने इस प्लेटफॉर्म की मदद से वह दो दिक्कतों से निपटने की कोशिश कर रहे थे. पहली ये कि वह ट्रेडिंग की कॉस्ट को एक्टिव ट्रेडर्स के लिए कम करना चाहते थे. वहीं दूसरी ओर कि वह पैसों के बिजनस में पारदर्शिता लाना चाहते थे. जीरोधा को करीब 6 साल लगे और 2016 में उसके पास 70 हजार ग्राहक हो गए. अगले चार सालों में उनके पास ग्राहकों की संख्या 20 लाख हो गई. वहीं पिछले दो सालों में कंपनी ने रेकॉर्ड तोड़ तेजी हासिल की है. 2022 तक उनके पास ग्राहकों की संख्या का आंकड़ा 1 करोड़ को पार कर गया है.