सबकी निगाहें खस्ता हाल हुई Nykaa पर, काफी सस्ते में बिक रहे 211 करोड़ रुपये के शेयर

By Anuj Maurya
January 12, 2023, Updated on : Thu Jan 12 2023 06:11:58 GMT+0000
सबकी निगाहें खस्ता हाल हुई Nykaa पर, काफी सस्ते में बिक रहे 211 करोड़ रुपये के शेयर
एक शेयर होल्डर ने Nykaa के करीब 1.4 करोड़ शेयर ब्लॉक डील में बेचने का फैसला किया है. यह शेयर होल्डर CitiGroup है. डील के तहत 4 फीसदी सस्ते में करीब 211 करोड़ रुपये के शेयर बेचे जा रहे हैं.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस वक्त सबकी नजरें लोकप्रिय कंपनी Nykaa के स्टॉक पर टिकी हुई हैं. खबर है कि नायका की पैरेंट कंपनी FSN E-Commerce Ventures Limited के एक शेयर होल्डर ने इसके करीब 1.4 करोड़ शेयर ब्लॉक डील में बेचने का फैसला किया है. इस शेयर होल्डर का नाम है Citi, जो कंपनी के शेयर बेचकर उनसे पीछा छुड़ा रहा है. यहां दिलचस्प बात ये है कि एक वक्त पर नायका के शेयरों में बाजार में धूम मचा दी थी. हर तरफ इसी की चर्चा हो रही थी. इसके आईपीओ ने धमाकेदार लिस्टिंग की थी, लेकिन आज के वक्त में इसकी हालत बेहद खराब है.


खबरों के अनुसार यह डील करीब 148.90 रुपये प्रति शेयर के हिसाब से की जा रही है. 11 जनवरी, बुधवार को कंपनी का शेयर 155.10 रुपये के लेवल पर बंद हुआ था. यानी देखा जाए तो यह ब्लॉक डील मौजूदा कीमत से करीब 4 फीसदी के डिस्काउंट पर हो रही है. Citi इस डील से करीब 26 मिलियन डॉलर यानी लगभग 211.4 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में है.

शेयरों में भारी गिरावट

नायका के शेयरों में इन दिनों तगड़ी गिरावट देखने को मिली है. बुधवार को तो कंपनी का शेयर लाइफटाइम लो पर पहुंच गया और 155.10 रुपये के लेवल पर बंद हुआ. ब्लॉक डील के तहत जो शेयर बेचे जा रहे हैं, वह कंपनी की करीब 0.5 फीसदी हिस्सेदारी के बराबर हैं. ऐसे में इस ब्लॉक डील की खबर का शेयरों पर बुरा असर देखने को मिल रहा है. आज गुरुवार को भी नायका के शेयर लाल निशान में ही कारोबार कर रहे हैं.


पिछले महीने भी ऐसी ही एक बड़ी डील हुई थी, जिसमें करीब 3.7 करोड़ शेयर बेचे गए थे. यह कंपनी की करीब 1.5 फीसदी हिस्सेदारी के बराबर है. उससे पहले Lighthouse India ने भी 1.8 करोड़ शेयर मतलब 0.65 फीसदी हिस्सेदारी बेची थी. देखा जाए तो बहुत सारे लोगों ने पिछले कुछ महीनों में नायका के शेयर बड़ी-बड़ी डील के तहत बेच दिए हैं. इसकी एक बड़ी वजह 10 नवंबर 2022 को कंपनी के आईपीओ के तहत जारी किए गए शेयरों का लॉक-इन पीरियड खत्म होना भी है. उसके बाद लोगों ने तेजी से ढेर सारे शेयर बेचे.

आईपीओ ने दिया था तगड़ा रिटर्न

नायका का इश्यू प्राइस 1125 रुपये था, जबकि इसका शेयर लगभग 83 फीसदी के प्रीमियम पर 2054 रुपये पर लिस्ट हुआ था. इसका आईपीओ भी करीब 82 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 10 नवंबर को यह शेयर लिस्ट हुआ था और 26 नवंबर तक इसकी कीमत 2574 रुपये के ऑल टाइम हाई पर पहुंच गई. हालांकि, उसके बाद से अब तक इसमें गिरावट देखने को मिल रही है.

बोनस शेयर देने का हथियार भी नहीं आया काम

नायका ने पिछले ही साल के अंत में अपने शेयरधारकों को हर 1 शेयर पर 5 बोनस शेयर जारी किए थे. बोनस शेयर देने की खबर के बाद कंपनी के शेयरों में अचानक से एक उछाल देखने को मिला था, लेकिन बाद में वह फिर से गिरने लगे. अमूमन कंपनियां बोनस शेयर इसलिए देती हैं, क्योंकि वह शेयर की लिक्विडिटी को बढ़ाना चाहती हैं. मान लीजिए कि कोई शेयर 500 रुपये का है, ऐसे में प्रति शेयर एक बोनस शेयर दिए जाएं तो एक शेयर की कीमत 250 रुपये हो जाएगी. इससे शेयर सस्ता दिखने लगेगा और कम पैसे लगाने वाले निवेशक भी इसमें पैसा लगा सकेंगे. शुरुआत में तो नायका के लिए इस स्ट्रेटेजी ने काम किया भी, लेकिन कुछ ही दिन में फिर से गिरावट का दौर शुरू हो गया.