कभी Nykaa ने IPO से मचाया था धमाल, एक ही दिन में दिया था 83% रिटर्न, अब बोनस शेयर देगी कंपनी

By Anuj Maurya
September 29, 2022, Updated on : Thu Sep 29 2022 07:22:55 GMT+0000
कभी Nykaa ने IPO से मचाया था धमाल, एक ही दिन में दिया था 83% रिटर्न, अब बोनस शेयर देगी कंपनी
नायका के आईपीओ को लोगों ने करीब 82 गुना सब्सक्राइब किया था. इसका शेयर करीब 83 फीसदी प्रीमियम पर लिस्ट हुआ था. अब कंपनी अपने शेयरधारकों को बोनस शेयर देने की योजना बना रही है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

आपको Nykaa का IPO तो याद ही होगा. जी हां, वही आईपीओ, जिसने लिस्टिंग के दिन ही निवेशकों को तगड़ा रिटर्न दिया था. इसमें पैसा लगाने वालों को एक ही दिन में इतना फायदा हुआ था कि वह लिस्टिंग बाद ही इसे बेच देते तो भी तगड़ा मुनाफा होता. अब वही Nykaa निवेशकों को बोनस शेयर (Bonus Share) बांटने के मूड में है. 3 अक्टूबर को कंपनी की बैठक होने वाली है, जिसमें इस बात पर विचार किया जाएगा कि बोनस शेयर किस हिसाब से दिए जाएं. खुद कंपनी की तरफ से इस बात की जानकारी दी गई है.

आईपीओ ने दिया था तगड़ा रिटर्न

नायका का इश्यू प्राइस 1125 रुपये था, जबकि इसका शेयर लगभग 83 फीसदी के प्रीमियम पर 2054 रुपये पर लिस्ट हुआ था. इसका आईपीओ भी करीब 82 गुना सब्सक्राइब हुआ था. 10 नवंबर को यह शेयर लिस्ट हुआ था और 26 नवंबर तक इसकी कीमत 2574 रुपये के ऑल टाइम हाई पर पहुंच गई. हालांकि, उसके बाद से अब तक इसमें गिरावट देखने को मिल रही है. बुधवार को भी शेयर बाजार की गिरावट के बीच नायका का शेयर करीब 0.85 फीसदी गिरा और 1278.05 रुपये पर बंद हुआ.

जून तिमाही में कंपनी को हुआ शानदार मुनाफा

नायका ब्रांड से बिजनेस करने वाली कंपनी एफएसएन ई-कॉमर्स वेंचर्स का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट जून तिमाही में 42.24 फीसदी बढ़कर 5.01 करोड़ रुपये हो गया. इससे पिछले साल यह आंकड़ा सिर्फ 3.52 करोड़ रुपये था. कंपनी कंपनी का कंसोलिडेटेड रेवेन्यू जून तिमाही में 40.56 फीसदी चढ़कर 1148.4 करोड़ रुपये हो गया. यह एक साल पहले सिर्फ 816 करोड़ रुपये था.

बोनस शेयर का मतलब भी समझ लीजिए

अगर कोई कंपनी बोनस शेयर देने की घोषणा करती है तो बहुत से निवेशक सोचते हैं उन्हें अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिल रहे हैं. बात सही भी है, अतिरिक्त शेयर मुफ्त में मिलते ही हैं, लेकिन इसमें एक ट्विस्ट है. बोनस शेयर मिलने बाद सिर्फ शेयरों की संख्या बढ़ती है, उनकी वैल्यू नहीं. उदाहरण के लिए अगर आपके पास 500 रुपये का कोई शेयर है और कंपनी आपको प्रति शेयर एक बोनस शेयर दे, तो आपके पास दो शेयर हो जाएंगे. हालांकि, ऐसी स्थिति में आपके शेयर का भाव कम होकर 250 रुपये रह जाएगा. आपको बोनस शेयर का फायदा डिविडेंट मिलने के वक्त होगा, क्योंकि तब प्रति शेयर के हिसाब से डिविडेंड दिया जाता है.

कंपनियां क्यों देती हैं बोनस शेयर?

अमूमन कंपनियां बोनस शेयर इसलिए देती हैं, क्योंकि वह शेयर की लिक्विडिटी को बढ़ाना चाहती हैं. मान लीजिए कि कोई शेयर 500 रुपये का है, ऐसे में प्रति शेयर एक बोनस शेयर दिए जाएं तो एक शेयर की कीमत 250 रुपये हो जाएगी. इससे शेयर सस्ता दिखने लगेगा और कम पैसे लगाने वाले निवेशक भी इसमें पैसा लगा सकेंगे. मौजूदा वक्त में नायका का शेयर करीब 1300 रुपये का है, ऐसे में बहुत से लोगों को यह महंगा लगता होगा. बोनस शेयर जारी करने की ये एक बड़ी वजह हो सकती है कि कंपनी अपने शेयरों को सस्ता बनाना चाहती है. इतना ही नहीं, बोनस शेयर की खबर से अक्सर कंपनियों के शेयर चढ़ जाते हैं. ऐसे में बोनस शेयर को कई कंपनियां शेयरों की कीमत पंप करने की एक रणनीति की तरह भी इस्तेमाल करती हैं.