खतरनाक प्रदूषण: देश की राजधानी दिल्ली में 500 रुपये में मिल रहीं 'सांसें'

By yourstory हिन्दी
November 18, 2019, Updated on : Mon Nov 18 2019 10:51:32 GMT+0000
खतरनाक प्रदूषण: देश की राजधानी दिल्ली में 500 रुपये में मिल रहीं 'सांसें'
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

लोग दिल्ली की जहरीली हवा से बचने के लिए मास्क से लेकर प्यूरीफायर तक खरीद रहे हैं। अब बात इन सबसे भी आगे बढ़ चुकी है। हाल ऐसा है कि देश की राजधानी दिल्ली में 500 रुपये में लोगों को 15 मिनट तक 'सांसें' भी मिलने लगी हैं।

k

एक सर्वे आया था जिसमें बताया गया था कि दुनिया के 10 सबसे प्रदूषित शहरों में भारत के 7 शहर शामिल हैं। पिछले महीने भर से देश की राजधानी और उसके आसपास के क्षेत्र में प्रदूषण का स्तर डेंजरस (खतरनाक) लेवल पर है। कई-कई जगह तो एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 1500 से भी ऊपर है जो कि बहुत खतरनाक हालत की ओर इशारा करता है। इससे बचने के लिए ऑड-ईवन स्कीम लाई गई, पराली जलाने पर काबू किया जा रहा है लेकिन हाल अभी भी जस के तस हैं।


लोग दिल्ली की जहरीली हवा से बचने के लिए मास्क से लेकर प्यूरीफायर तक खरीद रहे हैं। अब बात इन सबसे भी आगे बढ़ चुकी है। हाल ऐसा है कि देश की राजधानी दिल्ली में 500 रुपये में लोगों को 15 मिनट तक 'सांसें' भी मिलने लगी हैं। जी हां, यह खबर सच है।


दिल्ली के साकेत इलाके में Oxy Pure नाम से एक बार खुला है जहां पर एक रकम लेकर आपको अलग-अलग फ्लेवर में 15 मिनट के लिए शुद्ध ऑक्सीजन दी जाती है। इन फ्लेवर्स में ऑरेंज, लैवेंडर, पुदीना, पहाड़ी पुदीना जैसे फ्लेवर शामिल हैं।





इस स्टोर को चलाने वाले अजय जॉनसन ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया,


'वर्तमान में प्रदूषण का स्तर बहुत ज्यादा है। हमारा प्रोडक्ट लोगों को इससे थोड़ी राहत देता है। रोज हमारे पास 10-15 ग्राहक आते हैं। इसके अलावा हम लोगों को पोर्टेबल ऑक्सीजन कैन भी सुविधा भी दे रहे हैं जो लोग कहीं भी ले जा सकते हैं।'


यह देश का शायद पहला मामला है। यहां पर 15 मिनट का एक सेशन लेने के लिए ग्राहक को 299 से 499 रुपये तक खर्च करने पड़ते हैं। यह स्थिति वाकई चिंताजनक है लेकिन इस पर हमारे राजनेता कितने गंभीर हैं, इसके बारे में जानना भी जरूरी है।


15 नवंबर को दिल्ली में प्रदूषण की स्थिति को लेकर चर्चा के लिए एक मीटिंग रखी गई थी। इसमें 29 सांसदों को शामिल होना था। आप हैरान हो जाएंगे कि तय समय पर केवल 4 सांसद जगदंबिका पाल (अध्यक्ष), संजय सिंह, हसनैन मसूदी और सीआर पाटिल ही उपस्थित हुए। इस मीटिंग में गौतम गंभीर, हेमा मालिनी, एमजे अकबर और रामचरण बोहरा जैसे जाने माने सांसद उपस्थित नहीं आए।


हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें