Policybazaar के CEO याशीष दहिया बेचेंगे 37.69 लाख से ज्यादा शेयर, 11% टूटा स्टॉक प्राइस

By Ritika Singh
June 07, 2022, Updated on : Tue Jun 07 2022 15:12:59 GMT+0000
Policybazaar के CEO याशीष दहिया बेचेंगे 37.69 लाख से ज्यादा शेयर, 11% टूटा स्टॉक प्राइस
दहिया के पास इस वक्त कंपनी के 2,45,17,950 शेयर हैं. 37,69,471 शेयरों की बिक्री से आने वाले पैसे का इस्तेमाल मौजूदा और भविष्य के टैक्सेज का भुगतान करने में किए जाने का प्रस्ताव है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

PolicyBazaar के सीईओ याशीष दहिया (Yashish Dahiya) ने ओपन मार्केट के माध्यम से 37.69 लाख से ज्यादा इक्विटी शेयर बेचने का फैसला किया है. शेयर बाजार को दी गई जानकारी में पॉलिसीबाजार की ओर से कहा गया कि SEBI (Listing Obligations and Disclosure Requirements) Regulations, 2015 के रेगुलेशन 30 के अनुरूप, हम बताना चाहते हैं कि कंपनी के चेयरमैन व सीईओ याशीष दहिया ने स्टॉक एक्सचेंजेस पर बल्क डील्स के जरिए 37,69,471 तक इक्विटी शेयर बेचने का फैसला किया है. इस बारे में उन्होंने पेरेंट कंपनी PB Fintech Limited बोर्ड को सूचित कर दिया है.


दहिया के पास इस वक्त कंपनी के 2,45,17,950 शेयर (5.45%) हैं. 37,69,471 शेयरों की बिक्री से आने वाले पैसे का इस्तेमाल मौजूदा और भविष्य के टैक्सेज का भुगतान करने में किए जाने का प्रस्ताव है. इस बिक्री के बाद अगले कम से कम 1 साल तक कोई शेयर बिक्री नहीं होगी. इससे पहले 11 फरवरी 2022 को, को-फाउंडर आलोक बंसल ने पीबी फिनटेक के 28.5 लाख शेयरों को एक ओपन मार्केट ट्रांजेक्शन के माध्यम से 236 करोड़ रुपये में विभाजित किया था. एनएसई बल्क डील के आंकड़ों के मुताबिक, बंसल ने 825 रुपये की औसत कीमत पर शेयर बेचे थे.

शेयर गिरकर आया 582.80 रुपये पर

याशीष दहिया के शेयर बेचने के फैसले के बाद मंगलवार को Policybazaar के शेयर की कीमत लुढ़क गई. पॉलिसीबाजार का शेयर बीएसई पर 648 रुपये पर खुला और कारोबार के दौरान यह 557 रुपये के निचले स्तर तक गया. कारोबार बंद होने पर यह 11.48% टूटकर 582.80 रुपये के स्तर पर बंद हुआ. एनएसई पर शेयर 580.25 रुपये पर बंद हुआ है. इस वक्त Policybazaar का बाजार पूंजीकरण 26,196.85 करोड़ रुपये है. Policybazaar की पेरेंट कंपनी पीबी फिनटेक नवंबर 2021 में 5710 करोड़ रुपये का आईपीओ लेकर आई थी. कंपनी 15 नवंबर 2021 को शेयर बाजार में लिस्ट हुई थी.