जानें फैशन 'बॉस लेडी' रिया कपूर ने एक्ट्रेस बहन सोनम कपूर के साथ मिलकर कैसे खड़ा किया फैशन का साम्राज्य

रिया कपूर, अभिनेत्री सोनम कपूर आहूजा की बहन, हाई-स्ट्रीट फैशन लेबल, रीसोन (Rheson) की संस्थापक हैं। एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में, उन्होंने खुलासा किया कि किस तरह उन्होंने बॉलीवुड में कदम रखा, एक्टिंग को मिस किया और बदले में अपना खुद का बिजनेस बनाया।

24th Jan 2020
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

32 साल की उम्र में रिया कपूर बॉलीवुड की जानी-मानी फैशन मेवेरिक्स में से एक हैं। वे एक सक्सेसफुल फिल्म प्रोड्यूसर होने के साथ-साथ एक युवा भी उद्यमी हैं। उन्होंने अभी हाल ही में बहन सोनम के. आहुजा के साथ अपने रियासोन (Rheson) फैशन लेबल की शुरुआत की है।


क


इसमें शायद ही कोई आश्चर्य की बात हो कि उनका उद्यमशीलता का प्रयास उनके व्यक्तित्व का ही एक हिस्सा है। फैशन डिजाइनर मसाबा गुप्ता के साथ उनका लेटेस्ट कोलैबोरेशन, उनकी अविश्वसनीय प्रतिभा का प्रमाण है। 'द क्रॉनिकल्स ऑफ फेमिनिटी' कहे जाने वाले उनके कपड़ों का नया कलेक्शन वर्सटाइल होने के साथ-साथ फैमिनी और मजबूत है।


रिया ने एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में योरस्टोरी वीकेंडर को बताया,

“हम कुछ समय से इसके बारे में सोच रहे हैं और अपने लिए ऐसे कपड़े बना रहे हैं जो ट्रेंड से प्रेरित नहीं हैं लेकिन हां ऐसे कपड़े हैं जो हमारे कर्व्स और हमारे बदलते दिमागों पर जोर डालते हैं। और इस कलेक्शन को बनाते हुए इन्हीं बातों को ध्यान में रखा गया है, जो स्ट्रॉन्ग, प्लेफुल, लेकिन डायरेक्ट है।”


जैसा कि यह पता चला है, कोलैबोरेशन हुआ - इसको लेकर रिया ने बताया,

“पिछले कुछ वर्षों में, हम स्वाभाविक रूप से सोनम के लिए कोलैबोरेशन कर रहे थे, इसलिए हमने एक साथ ऐसा करने का फैसला किया। अनुभव अद्भुत था। मुझे खुशी है कि कलेक्शन को अच्छी तरह से रिसीव किया गया और यह बहुत अच्छा कर रहा है।”


कम्युनिकेशन टूल के रूप में फैशन

रिया के लिए फैशन कुछ ऐसा है जो उनके दिलो दिमाग में पहले से बसा है। वास्तव में, उनके सार्टोरियल टेस्ट ने टैब्लॉइड्स में धूम मचा दी थी जब उन्होंने पहली बार सोनम को रेड कार्पेट के लिए अपना कलेक्शन पहनाकर उतारा और उन्हें स्टाइल किया था। कान्स में धूम मचाने से लेकर घर पर राज करने तक, बहनों ने लोगों का फैशन के प्रति रवैया बदलकर रख दिया है, और इससे भी महत्वपूर्ण बात यह है कि उन्होंने फैशनिस्टों की स्टाइल रेंज को भी थोड़ा आगे बढ़ा दिया है।


फैशन, जैसा कि रिया कहती हैं, लोगों को यह बताने का एक टूल है कि आप कौन हैं, आपका मूड क्या है और आप क्या दर्शाते हैं और आप दुनिया से कैसे कम्युनिकेट करना चाहते हैं। वे आगे कहती हैं, "यह वास्तव में एक शक्तिशाली चीज है क्योंकि आप इसे सचमुच अपने शरीर पर पहनते हैं।"


यह उस विजन के कारण है जिस पर रिया ने एक इंडस्ट्री में खुद के लिए जगह बनाने में कामयाबी हासिल की है जो पहले से ही भीड़भाड़ वाली इंडस्ट्री रही है। भीड़ में लुप्त होने के बजाय, स्टाइलिस्ट अपने स्टाइल स्टेटमेंट्स, लिमिटेड कलेक्शन और अपने कई फैशन कोलैबोरेशन्स के साथ इंडस्ट्री में एक अलग और खास मुकाम बना रही है। मसाबा के साथ उनका कोलैबोरेशन इस जर्नी का सिर्फ एक हिस्सा है।

द बॉस लेडी

रिया की हाई-स्ट्रीट फैशन लाइन Rheson वर्तमान में Shoppers Stop और Amazon.in पर ऑनलाइन उपलब्ध है। ब्रांड नाम- रिया और सोनम के नाम के पहले दो अक्षरों से बना है। यह उनका केवल पहला नाम ही नहीं है, बल्कि उनकी उद्यमिता की शुरुआत का भी प्रतीक है, एक ऐसी सफलता जो वह अपनी बहन के साथ साझेदारी के लिए बहुत ही खास मानती हैं।


वे कहती हैं,

"अगर यह सोनम के साथ नहीं होता, तो मुझे ये अवसर नहीं मिलते, तो जाहिर है कि मेरा पहला कोलैबोरेशन उसके ही साथ था। मुझे एक उद्यमी बनना पसंद है, मुझे नई चीजें करना पसंद है और मैं खुद को चुनौती देना पसंद करता हूं। यह मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है।"


हाल के दिनों में, स्टाइलिस्ट से उद्यमी बनीं रिया ने मुंबई में फीनिक्स मार्केटसिटी के साथ मिलकर क्रिसमस की खरीदारी का वीडियो भी तैयार किया है। वे कहती हैं,

“साल का अंत उत्सवों, गेट टूगेदर और पार्टियों के लिए होता है, और इसलिए यह खरीदारी करने का भी एक शानदार समय होता है। और यह मॉल, [फीनिक्स मार्केटसिटी] एक छत के नीचे 600 से अधिक ब्रांड का घर है और यह शॉपिंग, डायनिंग और एंटरटेनमेंट के लिए एक लीडिंग डेस्टीनेशन है। हम दिखाना चाहते थे कि यह कितना मजेदार हो सकता है।”
क

वे बताती हैं,

"इस कोलैबोरेशन के लिए मैंने सेफोरा, केल्विन क्लेन और डीजल जैसी कई शॉप्स को विजिट किया, जो मजेदार था। मॉल में क्रिसमस के लिए सुंदर इंस्टॉलेशन भी थे, जो उत्सव के माहौल में शामिल हो गए और इसे इंस्टाग्राम स्वर्ग बना दिया।"


इन सभी ध्यान से चुने गए कोलैब्स को रिया की पर्सनल स्टाइल और फैशन कन्साइंस के साथ जोड़ा जा सकता है। ईको-फ्रेंडली फैशन को फॉलो करने वालीं रिया का मानना है कि फैशन के प्रति एक स्थायी दृष्टिकोण रखने के लिए, जीवन के लिए एक स्थायी दृष्टिकोण की आवश्यकता होती है।


वे बिजनेसेस और स्टार्टअप्स की तारीफ करती हैं जो सस्टेनेबल लाइफ स्टाइल को प्रोत्साहित करते हैं। वे कहती हैं,

"स्टेज 3 जैसे प्लेटफ़ॉर्म जो लोगों को प्रेरित करते हैं, अपने पहनावे को किराए पर देने और उन्हें लौटाने के लिए सराहनीय हैं।"

द बॉलीवुड बबल

स्ट्रॉन्ग, सेक्सी, इजी और कम्फर्टेबल। रिया के खुद के शब्दों में, ये ऐसे शब्द हैं जो उनकी पर्सनल स्टाइल स्टेटमेंट को डिफाइन करते हैं। वे कहती हैं,

“मैं जिस तरह से कपड़े पहनना पसंद करती हूं, मैं निश्चित रूप से बहुत अधिक एंड्रोजनस लगतीं हूं। मुझे पुरुषों के कपड़े बहुत पसंद हैं और मैं ऐसे बहुत सारे कपड़े पहनती हूं। मैं उन्हें बहुत सारे कपड़ों के साथ मिक्स करके पहनती हूं जो फेमिनी और सेक्सी हैं और इस तरह मैं सोनम से अलग हूं।"

वह हमें बताती हैं कि उनकी एक्ट्रेस बहन प्रिंट, स्कर्ट और फेमिनी ड्रेसेस अधिक पसंद करती हैं।


कुछ कहेंगे कि यह एक तरह से अनआर्थोडॉक्स टेस्ट है। लेकिन यह अपरंपरागतता की एक ऐसी लकीर है जिसने फैशन से लेकर शोबिज तक, विभिन्न क्षेत्रों में अपना दबदबा बनाया है। 2010 में, रिया ने जेन ऑस्टेन के उपन्यास एम्मा पर आधारित एक रोमांटिक कॉमेडी फिल्म आइशा की निर्माता के रूप में बॉलीवुड में शुरुआत की। वे कहती हैं,

“मैंने प्रोडक्शन में कदम रखा क्योंकि हमें एक दिन आइशा की स्क्रिप्ट मिली और हमने इसे लेने का फैसला किया। मैं अपने पिता के अंडर काम करने वाली थी और तब उन्हें फिल्म '24' मिली, और मैंने 21 साल की उम्र में खुद ही यह प्रोजेक्ट पूरा कर लिया।"


वह याद करते हुए कहती हैं,

मुझे एहसास हुआ कि अगर मैंने कड़ी मेहनत की और इसमें अच्छा किया, तो मेरा काम पुरस्कृत होगा। इसलिए, मैंने इसे लेने का फैसला किया और इसके बाद से कभी पछतावा नहीं किया। मुझे विश्वास है कि यह मेरी कॉलिंग है।”


यह निर्णय सही था, क्योंकि रिया ने दो और सफल हिट्स - 2014 में आई 'खूबसूरत' और 2018 में 'वीरे दी वेडिंग' को प्रोड्यूस किया। ये स्टार-स्टड महिलाओं के नेतृत्व वाली ड्रामा फिल्में शहरी भारत में महिला दोस्ती को सेलीब्रेट करती हैं।





यह वास्तव में एक साहसिक च्वाइस थी, क्योंकि फिल्म ने सोशल मीडिया पर काफी हलचल मचाई। फिल्म निर्माता का मानना है कि इस तरह की मजबूत कहानियों की बहुत आवश्यकता है। वे बताती हैं,

"बेशक, महिलाओं के नेतृत्व वाली फिल्मों, कहानियों के लिए जगह है क्योंकि हम 60 प्रतिशत आबादी हैं और हम किसी ऐसी चीज की चाह कर रहे हैं जिससे हम खुद को रिलेट करते हैं, कुछ ऐसा जिसे हम सेलीब्रेट कर सकते हैं और ऐसे कैरेक्टर जिनके साथ हम हंस सकें और रो सकें।" 


'बोरिंग' और 'प्रेडिक्टेबल' को न कहें

चाहे वह फैशन या फिल्मों में उनकी पसंद हो, रिया कपूर ने हमेशा की तरह अनकही और अपरंपरागत की साइड ली है। ऐसा इसलिए है, क्योंकि वह कहती हैं, ऐसी कहानियां कहना जो पहले बताई जा चुकी हैं या जो चीजें पहले की जा चुकी हैं वह 'बोरिंग' और 'प्रेडिक्टेबल' है और आज के समय में कौन बोरिंग होना चाहता है?


जैसा कि अक्सर कहा जाता है, रिया ने भी बताया कि उनके सफल व्यवसाय का मंत्र काम करने के लिए सुखद और खुशगवार होना है। वे कहती हैं,

"मैं एक ऐसा माहौल बनाने के लिए दृढ़ थीं, जहाँ लोग आपका सम्मान करते हों, लेकिन बिना डरे।"


भले ही उद्यमिता के क्षेत्र में रिया को लगभग तीन हुए हों, लेकिन वह अपने व्यवसाय को खास ढंग से संभाल रही हैं और बॉलीवुड उनकी ताकत के बारे में उन्हें 'बॉस-लेडी' कहकर संबोधित करता है। उसका खरापन और शांत दिमाग उनकी सबसे बड़ी ताकत है। बहुत अधिक खुलासा किए बिना, वह संकेत देती हैं कि उनके पास इस समय दो फिल्में, एक शो और आने वाले समय में कुछ "एक्साइटिंग प्रोजेक्ट्स" हैं। इस हसल-बसल के चमत्कार को देखकर आश्चर्य होता है, लेकिन रिया का कहना है कि इस सब का एक दूसरा पहलू भी है। 


वे कहती हैं,

"ये ऐसे फील्ड हैं जहां हर हर कोई होना चाहता है क्योंकि वे ग्लैमरस और मजेदार दिखते हैं।" अपने फैंस और फॉलोअर्स को उनकी सलाह है, “यदि आप एक एक्टर या स्टाइलिस्ट या प्रोड्यूसर बनना चाहते हैं, तो एंड रिजल्ट को न देखें। एक प्रोसेस के लिए इसमें रुके रहें!"


  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India