Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory
search

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

ADVERTISEMENT

SBI का कर्ज हुआ और महंगा, एक माह के अंदर दूसरी बार बढ़ाई MCLR

बैंक ने केवल 1 साल वाली MCLR को बढ़ाया है. ज्यादातर रिटेल लोन्स इसी MCLR पर बेस्ड होते हैं.

SBI का कर्ज हुआ और महंगा, एक माह के अंदर दूसरी बार बढ़ाई MCLR

Sunday January 15, 2023 , 2 min Read

भारतीय स्टेट बैंक (State Bank of India or SBI) ने अपनी कर्ज दरों को बढ़ा दिया है. यह वृद्धि मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट्स (MCLR) में की गई है. SBI ने MCLR में 0.10 प्रतिशत का इजाफा किया है और यह बढ़ोतरी 15 जनवरी 2023 से प्रभावी हो गई है. हालांकि बैंक ने केवल 1 साल वाली MCLR को बढ़ाया है. ज्यादातर रिटेल लोन्स इसी MCLR पर बेस्ड होते हैं. SBI के इस कदम से MCLR पर बेस्ड नया लोन लेने वालों को तो कर्ज वर्तमान की तुलना में महंगा मिलेगा ही, साथ ही MCLR पर बेस्ड लोन लिए हुए मौजूदा बॉरोअर्स के लिए भी EMI बढ़ जाएगी. इस वृद्धि से MCLR के अलावा किसी और बेंचमार्क लेंडिंग रेट पर बेस्ड लोन लेने वालों की EMI पर कोई असर नहीं पड़ेगा.

SBI की नई MCLR

sbi-hikes-mclr-by-10-basis-points-state-bank-of-india-loan-rates

एक माह में दूसरी बार वृद्धि

एक महीने के अंदर SBI द्वारा MCLR में की गई यह दूसरी वृद्धि है. इससे पहले बैंक ने 15 दिसंबर 2022 को MCLR, एक्सटर्नल बेंचमार्क बेस्ड लेंडिंग रेट (EBLR), रेपो बेस्ड लेंडिंग रेट (RLLR), बेंचमार्क प्राइम लेंडिंग रेट (BPLR) और बेस रेट समेत सभी लोन रेट्स में बढ़ोतरी की थी. वर्तमान में SBI की EBLR 8.90 प्रतिशत+CRP+BSP है. वहीं RLLR 8.50 प्रतिशत+CRP है. इसके अलावा BPLR 14.15 प्रतिशत और बेस रेट 9.40 प्रतिशत है.

SBI ने पिछले माह फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर ब्याज दरों को भी बढ़ाया था. नई एफडी रेट 13 दिसंबर 2022 से प्रभावी हैं. 2 करोड़ रुपये से कम की रिटेल एफडी के मामले में ब्याज में 0.65 प्रतिशत तक की वृद्धि और 2 करोड़ रुपये व इससे ज्यादा की एफडी यानी बल्क एफडी के मामले में ब्याज दरों को 1 प्रतिशत तक बढ़ाया गया था.

ये बैंक भी बढ़ा चुके हैं लोन रेट

साल 2023 के जनवरी माह में SBI से पहले अभी तक बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda), इंडियन ओवरसीज बैंक (Indian Overseas Bank or IOB), ​HDFC Bank, पंजाब नेशनल बैंक (PNB or Punjab National Bank), ICICI बैंक, बैंक ऑफ इंडिया (Bank of India), इंडियन बैंक (Indian Bank) भी लोन रेट में इजाफा कर चुके हैं. बैंक ऑफ बड़ौदा, HDFC बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, ICICI बैंक, इंडियन बैंक और IOB ने MCLR को बढ़ाया है. पंजाब नेशनल बैंक ने बेस रेट (Base Rate) के साथ-साथ MCLR (Marginal Cost of Funds Based Lending Rates) को भी बढ़ाया है. इस बारे में डिटेल में पढ़ें...

यह भी पढ़ें
HDFC Bank समेत इन 3 बैंकों ने भी कर्ज दरें 0.35% तक बढ़ाईं, ये हैं नई रेट